Monday, September 26, 2022
No menu items!
HomeNewsCrimeभोजपुर:नकली नोट छापने की मशीन और भारी मात्रा में जाली नोट के...

भोजपुर:नकली नोट छापने की मशीन और भारी मात्रा में जाली नोट के साथ तीन गिरफ्तार

भोजपुर:नकली नोट छापने की मशीन और भारी मात्रा में जाली नोट के साथ तीन गिरफ्तार

नकली नोट छापने का खुलासा:

जगदीशपुर और सिकरहट्टा थाना क्षेत्र में छापेमारी कर पुलिस ने पकड़ा रैकेट

6 लाख 36 हजार नकली नोट, नोट छापने की मशीन, प्रिंटर और कागज बरामद

गैंग में शामिल अन्य सदस्यों
की गिरफ्तारी को लेकर की जा रही छापेमारी

पकड़े गये धंधेबाजों में एक सत्ताधारी दल का पूर्व नेता भी शामिल

आरा। भोजपुर में जाली नोट छापने का धंधा फिर शुरू हो गया है। गुरुवार को पुलिस द्वारा इसका खुलासा किया गया है। पुलिस ने भारी मात्रा में जाली नोट और नोट छापने वाली मशीन के साथ तीन धंधेबाजों को गिरफ्तार भी किया है। इनमें एक राज्य में सत्ताधारी दल का पूर्व नेता भी शामिल है। धंधेबाजों के पास से छह लाख 36 हजार नकली नोट, नोट छापने की मशीन, प्रिंटर, कागज और बाइक बरामद किया गया है। पुलिस को जगदीशपुर और सिकरहट्टा थाना क्षेत्र में यह सफलता मिली है। गिरफ्तार धंधेबाज जगदीशपुर थाने के डिलिया, कौरा व सिकरहट्टा थाना क्षेत्र के सिकरौल गांव के रहने वाले हैं। पुलिस तीनों को हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ कर रही है। हालांकि पुलिस के वरीय अधिकारी इस मामले में कुछ भी बताने से परहेज कर रहे हैं। माना जा रहा है कि वरीय पुलिस अधिकारी शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस कर इसका खुलासा कर सकते हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस को सूचना मिली कि जगदीशपुर में नकली नोट की डिलीवरी होने वाली है। इस आधार पर पुलिस द्वारा छापेमारी कर तीन धंधेबाजों को गिरफ्तार कर लिया गया। उनके पास से लगभग छह लाख 63 पांच सौ जाली नोट बरामद किया गया। तीनों की निशानदेही पर सिकरौल गांव निवासी एक धंधेबाज के घर से नोट छापने वाली मशीन, प्रिंटर, ए-फोर साइज के कुछ कागज बरामद किया गया। एक हथियार की बरामदगी की सी सूचना है। पुलिस तीनों से पूछताछ के आधार पर पूरे नेटवर्क को खंगाल रही है। इस धंधे में शामिल गिरोह के अन्य लोगों की गिरफ्तारी को लेकर भी छापेमारी की जा रही है।

पूर्व में संदेश के जमुआंव में बरामद हुआ था जारी नोट
बता दें कुछ साल पहले संदेश थाने के जमुआंव गांव में भी नोट छापने का खुलासा हुआ था। तब भारी मात्रा में जाली नोट, नोट छापने की मशीन आदि बरामद किया गया था। पिता-पुत्र सहित कई लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था।

हेराफेरी कर भोले-भाले लोगों को थमाते थे जाली नोट
बताया जा रहा है जाली नोट के कारोबारी एटीएम और बाजार सहित कई जगहों पर भोले-भाले लोगों को झांसे में लाकर नोट की अदला-बदली कर देते थे। धंधेबाजों द्वारा खासकर महिलाओं को ठगी का शिकार बनाया जाता था। जानकारी के अनुसार तीनों
जगदीशपुर में जाली नोटों की हेराफेरी करने जगदीशपुर के बागीचे में पहुंचे थे। तभी थानाध्यक्ष को सूचना मिल गयी। उस आधार पर पुलिस बगीचा में पैदल ही पहुंच गयी और तीनों को दबोच लिया गया। बताया जा रहा है कि सिकरौल निवासी धंधेबाज अपने गांव में नोट की छपाई कर जगदीशपुर देने के लिए आया था।

MD WASIM
MD WASIM
Journalist
- Advertisment -

Most Popular