Thursday, July 25, 2024
No menu items!
HomeNewsबिहारपटना स्थित बापू टावर का मुख्यमंत्री ने किया निरीक्षण, दिए आदेश

पटना स्थित बापू टावर का मुख्यमंत्री ने किया निरीक्षण, दिए आदेश

Bapu Tower Patna : गांधीजी का बिहार आगमन, चंपारण सत्याग्रह एवं बिहार में सामाजिक विकास के कार्य का प्रदर्शन किया गया है।

Bapu Tower Patna : गांधीजी का बिहार आगमन, चंपारण सत्याग्रह एवं बिहार में सामाजिक विकास के कार्य का प्रदर्शन किया गया है।

  • हाइलाइट : Bapu Tower Patna
    • द्वितीय विश्वयुद्ध एवं उसका भारतवर्ष पर प्रभाव
    • भारत छोड़ो आंदोलन में बिहार की भागीदारी का प्रदर्शन

Bapu Tower Patna पटना: मुख्ममंत्री नीतीश कुमार ने आज पटना स्थित बापू टावर का निरीक्षण किया। 129 करोड़ की लागत से बन रहे टावर के अधूरे कामों को जल्द निपटाने का आदेश दिया। और अब जल्द ही इसके उद्घाटन की उम्मीद है। बाबू टावर में महात्मा गांधी के जीवन व कृत्य से जुड़ी तमाम जानकारियां उपलब्धि रहेंगी। पटना के गर्दनीबाद में बापू टावर का निर्माण हो रहा है।

सीएम नीतीश ने इस मौके पर कहा कि हम तो यहां आते रहते हैं। आज भी देखे हैं सब काम हो रहा है, और कह दिए हैं एक डेढ महीने में आम लोगों के लिए शुरु कर दिया जाएगा। करीब एक महीने में बापू टावर का अधूरा काम पूरा हो जाएगा। इस मौके पर नीतीश के साथ राज्यसभा सांसद संजय झा भी मौजूद रहे।

आपको बात दें बापू टावर का परिसर सात एकड़ भूमि में फैली है। टावर को 10 हजार 503 वर्गमीटर में ही बनाया गया है। परियोजना का शिलान्यास सीएम नीतीश कुमार ने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती समारोह पर दो अक्टूबर 2018 को किया था। बापू टावर में प्रेक्षागृह, प्रतीक्षा कक्ष, लाउंज, प्रशासनिक कार्यालय, बापू के आदर्शों को आम लोगों में स्थापित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा किए गए कार्यों के प्रदर्शन के लिए दीर्घा, अनुसंधान केन्द्र, आगंतुक सुविधाएं, ओरिएंटेशन हॉल बनाया गया है।

भू-तल पर 60 व्यक्तियों की क्षमता वाला ओरिएंटेशन हॉल है। पंचम तल से भूतल निरंतर जाने वाली रैम्पों पर रैम्प है। रैम्प-1 में गांधीजी का बिहार आगमन, चंपारण सत्याग्रह एवं बिहार में सामाजिक विकास के कार्य का प्रदर्शन किया गया है। रैम्प-2 में द्वितीय विश्वयुद्ध एवं उसका भारतवर्ष पर प्रभाव, भारत छोड़ो आंदोलन, भारत छोड़ो आंदोलन में बिहार की भागीदारी इत्यादि का प्रदर्शन है।

1946 के चुनाव एवं अंतरिम सरकार, कलकत्ता अशांति, बिहार में विभिन्न अवसरों पर गांधी जी के कार्यों को प्रदर्शित किया गया है। रैम्प-4 में बिहार में गांधी जी, प्रार्थना सभा में गांधी जी, लॉर्ड माउंटबेटन के साथ गांधी जी की मुलाकात, कश्मीर एवं कलकत्ता यात्रा आदि को दिखाया जाएगा। दर्शकों या पर्यटकों के लिए 228 वाहनों के पार्किंग की व्यवस्था रहेगी। भूतल पर शंकु आकार एवं आयताकार भवन का आगंतुक लॉबी है। प्रत्येक तल पर दोनों भवनों को जोड़ने वाला मार्ग है।

द्वितीय तल दोनों भवनों को जोड़ने वाले मार्ग के दोनों ओर खुली छत रहेगी। 100 केडब्ल्यूपी क्षमता का सौर ऊर्जा संयंत्र रहेगा। परिसर में 135 दो पहिया वाहन, 87 कार एवं छह बस के लिए पार्किंग, विभिन्न वाटिका, पैदल एवं वाहन हेतु अलग-अलग प्रवेश द्वार रहेगा। इसके अलावा टिकट घर भी बनाया गया है।

- Advertisment -
Muharram - Jagdishpur
Tarari Bhojpur - News - स्कूल कैंपस में लगे पेड़ व दीवार पर गिरी आकाशीय बिजली, डेढ़ दर्जन छात्राएं घायल
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो
Muharram - Jagdishpur - मोहर्रम के अवसर पर जगदीशपुर नगर पंचायत क्षेत्र में निकाली गई एक से बढ़कर एक ताजिया
Tarari Bhojpur - News - स्कूल कैंपस में लगे पेड़ व दीवार पर गिरी आकाशीय बिजली, डेढ़ दर्जन छात्राएं घायल
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो

Most Popular