Thursday, June 30, 2022
No menu items!
HomeUncategorizedकोरोना के जंग में शामिल डॉ. केएन सिन्हा को फूल माला पहना...

कोरोना के जंग में शामिल डॉ. केएन सिन्हा को फूल माला पहना किया गया सम्मानित

आरा सदर अस्पताल के सभी स्वास्थ्य कर्मचारियो एवं गार्ड का भी डॉक्टर ने बढ़ाया मान

डॉक्टर ने कोरोना से जंग में कर्मचारियों की सहभागिता को भी बताया अमूल्य

बिहार।जहां आज पूरा विश्व के साथ-साथ भारत देश भी वैश्विक महामारी (कोविड-19) कोरोना वायरस जैसी बीमारी से जूझ रहा है। वही डॉक्टर एवं स्वास्थ्य कर्मी भी अपनी जान को हथेली पर रखकर दिन रात जिलेवासियों की सेवा कर रहे हैं, उनकी इस सेवा से ही आज भोजपुर कोरोना वायरस बीमारी से सुरक्षित है। वही डॉ. केएन सिन्हा ने बताया कि सभी डॉक्टर्स, स्वास्थ्य कर्मचारी एवं सफाईकर्मियों के कठिन परिश्रम के कारण आज भोजपुर का सौभाग्य है कि पूरे जिले में एक भी कोरोना मरीज अब तक नहीं पाया गया है।जिसके कारण भोजपुर कोरोना वायरस बीमारी से अभी तक सुरक्षित है एवं यहां रिकॉर्ड भी शून्य हैं।

Sadar hospital

अगर घर रहेंगे तो ही वह सुरक्षित रहेगें

साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि लॉकडाउन का पहला चरण 21 दिनों का था जो समाप्त हो गया है। जिसमें भारत देश के सभी लोगों एवं जिला वासियों ने भरपूर सहयोग किया।जिसके कारण हम खुलकर बेखौफ होकर काम कर रहे हैं एवं अब हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने दूसरा चरण का लॉकडाउन 19 दिनों का लागू किया है।मैं इस लॉकडाउन में भी जनता से अपील करता हूं कि वह इसमें भी अपना भरपूर सहयोग दें।एक मैं फिर उनसे पुनःअपील करता हूं कि वह अपने घर में रहे।अगर घर रहेंगे तो ही वह सुरक्षित रहेगें और अपने परिवार को भी सुरक्षित रखें।बिना वजह घर से बाहर ना निकले।जब कोई बहुत इमरजेंसी या बहुत जरूरी काम हो तभी वह घर से बाहर निकले।अगर वह ऐसा करते हैं तो हम सभी देशवासी इस वैश्विक महामारी कोरोना वायरस बीमारी से जीत कर दिखाएंगे।

Sadar hospital 1

पुलिस कर्मियों एवं आला अधिकारियों को धन्यवाद

इसके साथी ही उन्होंने भोजपुर जिले के डीएम रोशन कुशवाहा, पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार, सिविल सर्जन डॉ. एलपी झा, सदर अस्पताल अधीक्षक डॉ. सतीश कुमार सिन्हा का भी धन्यवाद किया। वही दूसरी ओर उन्होंने अपनी जान जोखिम में डालकर दिन रात अपना कर्तव्य का पालन करते हुए ड्यूटी पर तैनात सभी जिले के पुलिस कर्मियों एवं आला अधिकारियों का भी धन्यवाद किया,

उन्होंने जिलेवासियों को यह निर्देश भी दिया कि वह सोशल डिस्टेंस के नियमों का पालन नियमानुसार करें। हर आधे घंटे बाद अपने हाथों को साबुन से धोएं या सेनीटाइज करें, बार-बार अपने हाथों से मुंह, नाक एंव चेहरे को ना छुए। इसके साथ ही वह आयुर्वेद का काढ़ा, गर्म पानी का भी सेवन करें, ताकि इस बीमारी से वह सुरक्षित रहता रहे। उन्होंने लॉकडाउन के दौरान सोशल डिस्टेंस को ही इस बीमारी से लड़ने का मूलमंत्र बताया है। इस मौके पर बंधन श्रीवास्तव, गोविंदा ओझा, रवि कुमार, एएनएम रंजू कुमारी, एएनएम सुभद्रा कुमारी, प्रदीप कुमार सिन्हा, नागेंद्र चौधरी, रंजीत कुमार मिश्रा, अजीत कुमार, पवन कुमार, वीरेंद्र प्रसाद, श्रीभगवान प्रसाद आदि मौजूद थे।

Sadar hospital1

रिपोर्टः मो. वसीम

- Advertisment -

Most Popular