Saturday, October 23, 2021
No menu items!
Homeबिहारआरा भोजपुरपार्किंग को लेकर सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस

पार्किंग को लेकर सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस

Debate parking in Arrah-पार्किंग की व्यवस्था करने में बैंकिंग संस्थान भी कंजूस, रोड किनारे से बाइक चोरी का डर

किराये के मकान में चल रहे अधिकतर बैंक, पार्किंग की कोई व्यवस्था नहीं

बैंक स्टाफों को भी परेशानी, दूसरी जगह पार्क करनी पड़ रही गाड़ी

खबरे आपकी आरा शहर की शॉपिंग मॉल और व्यवसायिक प्रतिष्ठानों की तरह बैंकिंग संस्थान भी पार्किंग की व्यवस्था करने में कंजूस बने हुये हैं। शहर में आज भी अधिकतर बैंकों के पास पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। ऐसे में पैसे के लेनदेन या अन्य काम के लिये बैंक आने वाले ग्राहकों को गाड़ी पार्क करने में खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है। पार्किंग के अभाव में लोगों को सड़क किनारे या फिर अगल-बगल की गली में गाड़ी लगानी पड़ती है। इस कारण जाम तो लगता ही है। गाड़ी चोरी जाने का डर भी बना रहता है। हालत ऐसी है कि कुछ बैंकों के स्टाफों को भी अपनी गाड़ी दूसरी जगह पार्क करनी पड़ती है। सदर अस्पताल के सामने स्थित एक बैंक के कर्मियों को अक्सर अपनी गाड़ी अस्पताल कैंपस में लगाते देखा जाता है।

पार्किंग के अभाव में सड़क किनारे या गली में गाड़ी पार्क करने को विवश ग्राहक

Debate parking in Arrah बता दें कि शहर अधिकतर बैंक किराये के मकान में संचालित हो रहे हैं। इसके लिये काफी पैसे बैंक प्रबंधन की ओर से खर्च किये जाते हैं। बावजूद इसके बैंकों को पार्किंग की सुविधा उपलब्ध नहीं जाती है। वहीं बैंकों प्रबंधनों की ओर से भी पार्किंग के लिये पहल नहीं की जाती है। इससे ग्राहकों के साथ बैंक स्टाफों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है। बता दें कि शहर के जेल रोड, महावीर टोला, स्टेशन रोड और सदर अस्पताल रोड में दर्जन भर बैंकिंग संस्थान हैं। इन बैंकों में रोज हजारों ग्राहक बाइक और अन्य वाहनों से आते हैं। लेकिन पार्किंग की व्यवस्था नहीं होने से सड़क किनारे ही गाड़ी पार्क कर बैंकों में जाने को विवश होते हैं। ऐसे में उनकी बाइक चोरी का डर सताता रहता है। 

बेसमेट तक किराये पर लगा दे रहे हाउस और कंपलेक्स होल्डर 

आरा। बड़े शहरों की तरह आरा में भी काफी संख्या में शॉपिंग मॉल और कंपलेक्स सहित अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठान बन गये हैं। अमूमन शहर के हर इलाके में ऐसे कंपलेक्स दिख जा रहे हैं। इनमें बैंकिंग संस्थान के अलावे बड़ी-बड़ी दुकानें आदि खुल गये हैं। वहीं कुछ जगहों पर इस तरह के कंस्ट्रक्शन चल भी रहा है। किराये पर लगाने के लिये करोड़ों खर्च करने के बावजूद कंपलेक्स बनाया जा रहा है। लेकिन पार्किंग की व्यवस्था नहीं की जा रही है। स्थिति ऐसी है कि बेसमेट तक को किराये पर लगा दिया जा रहा है। ऐसे में इन कंपलेक्स और उनमें स्थित बैंकिग संस्थान व दुकानों में आने वाले लोगों को गाड़ी पार्क करने की समस्या से दो-चार होना पड़ रहा है। 

Debate parking in Arrah

Debate parking in Arrah-पार्किंग को लेकर सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस

आरा शहर में पार्किंग बनाये जाने को लेकर सोशल मीडिया पर भी बहस छिड़ गयी है। शहर प्रबुद्ध लोगों और सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा इस मसले पर बेबाकी से विचार रखे जा रहे हैं। सभी पार्किंग बनाये जाने की आवाज उठा रहे हैं। कुछ लोगों की ओर से तो बकायदा पार्किंग के लिये जगह भी चिन्हित किया जा रहा है। Debate parking in Arrah युवा नेता मुन्नू सिंह, मुकुल यादव, युवा जदयू नेता प्रिंस सिंह बजरंगी सहित काफी लोग पार्किंग को लेकर सोशल मीडिया पर बहस में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। सभी द्वारा ट्रैफिक में सुधार को लेकर एसपी विनय तिवारी की ओर से शुरू की गयी पहल की सराहना करते हुये पार्किंग बनाये जाने की जोरदार ढंग से मांग की जा रही है।

पढ़ें- तयशुदा शादी जब लेनदेन में लटका – पुलिस थाने में अरेंज मैरिज बना प्रेम विवाह

- Advertisment -
ad
ad
ad
ad
ad (2)
AD
ad
ad (2)
Ad

Most Popular