Friday, February 26, 2021
No menu items!
Home राजनीत बाबू कुंवर सिंह की धरती पर भ्रष्टाचारियो का साम्राज्य-गिरधारी

बाबू कुंवर सिंह की धरती पर भ्रष्टाचारियो का साम्राज्य-गिरधारी

सपा के छात्र सभा के प्रदेश अध्यक्ष ने जगदीशपुर नपं के मुख्यपार्षद पर लगाए गंभीर आरोप

आरा। भोजपुर जिले का जगदीशपुर नगर पंचायत बाबू वीर कुंवर सिंह की धरती पर फिलहाल भ्रष्टाचारियो व लुटेरों का साम्राज्य स्थापित है। लेकिन सरकार व जिला प्रशासन नपं के भ्रष्टाचार को रोकने में नाकाम रही है जो पूरे जिले में चर्चा का विषय है। आखिर कौन रोक रहा है जिला प्रशासन को कारवाई करने से यह कहना है समाजवादी छात्र सभा के प्रदेश अध्यक्ष गिरधारी सिंह का।

गिरधारी सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के अंतर्गत बाहरी नली गली पक्कीकरण योजना का कार्य लगभग 18 करोड़ का चल रहा है,जो कि नियम के विरुद्ध है। सरकार के आदेश अनुसार कोई भी ई टेंडर जिस जिला का कार्य हो उस जिला के प्रमुख समाचार पेपर क्या पत्रिका में प्रकाशित होना चाहिए जिससे कि अधिक से अधिक उसका प्रचार प्रसार हो सके लेकिन ऐसा नहीं करते हुए राष्ट्रीय सागर पत्रिका झारखंड/ पटना में प्रकाशित कराया गया जिसका विज्ञापन संख्या 4 / 2019- 20 है। नियमानुसार कार्य स्थल पर कार्य का विवरण शिलापट्ट लगाना चाहिए था जिसे भी नहीं लगाया गया जिसे लेकर कुछ लोगों एवं संगठनों के द्वारा अनुमंडल अधिकारी से शिकायत किया गया इसके बाद अनुमंडल अधिकारी के द्वारा जांच की गई जांच उपरांत सही पाते हुए उसके विरुद्ध कार्रवाई करने हेतु एक चिट्ठी निर्गत किया गया जिसका पत्रांक 441/2020 तथा दिनांक 27-02-2020 है।

जेल में बंद पत्रकार नवीन निश्चल हत्याकांड के मुख्य आरोपित की मौत

गिरधारी सिंह ने कहा कि इस तरह का खेल बाबू कुंवर सिंह की धरती जगदीशपुर नगर पंचायत के लिए नया नहीं है इससे पहले इस तरह का खेल करीब करीब 10 वर्षों से चलते आ रहा है। जगदीशपुर नगर पंचायत में कार्य के नाम पर करोड़ों करोड़ों का फंड निकाल लिया गया लेकिन धरातल पर कार्य के नाम पर कुछ भी नहीं हुआ यानी कि एक ईटा तक भी नहीं रखा गया इसी तरह का एक मामला विवाह भवन से संबंधित है जिसके नाम पर करीब करीब 9 करोड़ रुपए का निकासी कर लिया गया। लेकिन जगदीशपुर में विवाह भवन है ही नही। बाबू कुंवर सिंह की धरती जगदीशपुर के नगरवासी से जब विवाह भवन के बारे में पूछने और कहने पर लोग अचंभित हो जाते हैं

राकेश गोस्वामी हत्याकांड का खुलासा-बहन के साथ देख कातिल बन गया दोस्त,कर दी हत्या

इस नगर पंचायत का इस तरह का खेल बहुत है अगर सभी घोटालों को उजागर किया जाए तो विगत 10 – 12 सालों में और अरबों अरब का घोटाला उजागर होगा। इतना बड़ा बड़ा घोटाला अनुमंडल अधिकारी के नाको नीचे से हो जाता है और सब कुछ जानते हुए भी पदाधिकारियों के द्वारा कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जाती है यहां तक कि कुछ सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं कुछ एक पार्टियों द्वारा भी समय-समय पर इस तरह के भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज बुलंद किया गया, यहां तक की इस लोकतांत्रिक पद्धति में कुछ पार्टियों के द्वारा लोकतांत्रिक तरीके से धरना प्रदर्शन तक किया गया

 भोजपुर एसपी सुशील कुमार द्वारा नवादा एवं जगदीशपुर थाना इंचार्ज सहित 18 थाना इंचार्जो के वेतन भुगतान पर रोक

गिरधारी सिंह ने कहा कि बाबू कुंवर सिंह की धरती पर भ्रष्टाचारियो का सूचना जिला पदाधिकारी से लेकर राज्य के आला अधिकारी तक स्थानीय जनप्रतिनिधि से लेकर मुख्यमंत्री तक विभागीय अधिकारियों सहित पीएमओ ऑफिस तक सभी जगह पत्र, ईमेल, फैक्स आदि के माध्यम से सूचना देने का कार्य किया गया है। लेकिन आज तक करवाई के नाम पर ढाक के तीन पात रहे हैं। आज तक किसी भी पदाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के द्वारा इस नगर पंचायत के खिलाफ ठोस करवाई नहीं किया गया जिससे जाहिर होता है कि नीचे से लेकर अल्लाह अधिकारी तक इस बंदरबांट में हिस्सेदार हैं।

प्रेम प्रसंग में फरार विवाहिता को प्रेमी समेत पुलिस ने किया बरामद

गिरधारी सिंह ने कहा कि यहां मै स्पष्ट रूप से कह रहा हूं कि बाबू कुंवर सिंह की धरती जगदीशपुर नगर पंचायत में व्याप्त भ्रष्टाचार का संरक्षण सरकारी पार्टी के वरिष्ठ नेता सह पूर्व मंत्री का प्राप्त है। यहां तक की पंचायत अध्यक्ष आम जनमानस में कहते भी चलते हैं कि मेरा कोई कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा मेरे पास बड़ा बड़ा पैरवी है और सबका हम हिस्सेदारी बांट देते हैं।

और भी पढ़े – खबरें आपकी-फेसबुक पेज

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular