Monday, December 4, 2023
No menu items!
HomeबिहारShahpurतेज हवाओं व वर्षा से धान एवं मटर छेमी की खेती को...

तेज हवाओं व वर्षा से धान एवं मटर छेमी की खेती को भारी क्षति

Heavy loss to farmers of Shahpur block: शाहपुर प्रखंड के सहजौली, सुहियां, हिरखी पिपरा, बरिसवन, करनामेपुर, सोनबरसा,हरिहरपुर, सेमरिया, लीलारी, भरौली, दामोदरपुर सहित कई गांव में मटर छेमी की खेती व्यापक पैमाने पर की जाती है।

  • हाइलाइट :-
    • किसानों द्वारा पिछले एक सप्ताह में हजारों एकड़ क्षेत्रफल में मटर छेमी की बुआई की गई थी
    • सैकड़ो एकड़ क्षेत्रफल में धान की फसल जमीनदोज व मटर छेमी के बीज पर सपटा का खतरा

Heavy loss to farmers of Shahpur block आरा/शाहपुर: शाहपुर व आसपास के क्षेत्र में मंगलवार की शाम तेज हवाओं के साथ हुई मूसलाधार वर्षा ने किसानों को भारी क्षति पहुंचाई। प्रखंड के दियारांचल क्षेत्र में सैकड़ो एकड़ में लगे धान की खड़ी फसल हवाओं के कारण गिर गई। वही सैकड़ों एकड़ क्षेत्रफल में मटर छेमी की बुआई की गई थी। पर भारी वर्षा से मटर छेमी की बुआई की गई खेतो की फसल नष्ट होने की आशंका किसानों द्वारा जताई जा रही है।

shahpur ranglal
shahpur ranglal

बताया जा रहा है कि किसानों द्वारा पिछले एक सप्ताह में हजारों एकड़ क्षेत्रफल में मटर छेमी की बुआई की गई थी। लेकिन मटर छेमी की बीज अबतक पूरी तरह से अंकुरित नहीं हुए हैं। एक किसान ने बताया पानी के चलते अब सपटा मार दिही, और बीज धरती से निकलबे ना करी।

शाहपुर प्रखंड के सहजौली, सुहियां, हिरखी पिपरा, बरिसवन, करनामेपुर, सोनबरसा,हरिहरपुर, सेमरिया, लीलारी, भरौली, दामोदरपुर सहित कई गांव में मटर छेमी की खेती व्यापक पैमाने पर की जाती है। शाहपुर के बीज विक्रेता कृषि केंद्र के संचालक सुंदर कुशवाहा ने बताया कि पिछले एक सप्ताह के भीतर दो हजार से ज्यादा किसानों को मटर छेमी के बीज दी गई हैं। जिसका किसानों द्वारा बुआई की गई थी।

@khabreapki
@khabreapki

प्रखंड किसान श्री सम्मान से सम्मानित किसान उमेश चंद्र पांडे ने बताया कि इस वर्षा ने किसानों को काफी क्षति पहुंचाई है। धान की खड़ी फसल खेतो में ही गिर गई जो अब बर्बाद हो चुकी हैं। वही मटर छेमी की बुआई वाले खेतों में भी अब मटर के बीज में अंकुरण नही होंगे।

- Advertisment -

Most Popular