Friday, February 26, 2021
No menu items!
Home बिहार आरा भोजपुर तरारी थाना क्षेत्र के गौराडीह गांव के समीप से बरामद शव की...

तरारी थाना क्षेत्र के गौराडीह गांव के समीप से बरामद शव की हुई पहचान

तरारी थाना क्षेत्र के भकुरा निवासी पूर्व मुखिया नाटा पांडेय पर हत्या का आरोप

घर से बुलाने के बाद चाकूओं से गोद-गोदकर कर दी गयी थी दलित युवक की हत्या

मृत युवक चरपोखरी थाना क्षेत्र के करनौल-चांदी गांव का निवासी

30 अगस्त को भकुरा गया था युवक, 31 की रात मिला था शव

आरा। भोजपुर जिले के तरारी थाना क्षेत्र के गौराडीह गांव (Gauradih of Tarari) के समीप चार रोज पहले हत्या कर फेंके गये शव की पहचान कर ली गयी। गुरुवार की दोपहर परिजनों ने आरा सदर अस्पताल पहुंच उसकी पहचान की। मृत युवक चरपोखरी थाना क्षेत्र के करनौल-चांदी गांव निवासी निवासी नंद किशोर पासवान का पुत्र विकास पासवान है। उसकी चाकूओं से गोद कर बेरहमी से हत्या कर दी गयी थी। उसके शरीर पर करीब डेढ़ दर्जन चाकू घोंपा गया था। हत्या का आरोप तरारी थाना क्षेत्र के भकुरा गांव निवासी पूर्व मुखिया नाटा पांडेय पर लगाया जा रहा है। हालांकि घटना का कारण नहीं बताया गया है।

आरा सदर अस्पताल पहुंचे विकास के चाचा विंध्याचल पासवान ने बताया कि रविवार की सुबह करीब 11 बजे नाटा पांडेय ने मोबाइल पर फोन कर भतीजे को बुलाया था। उसके बाद विकास अपने मित्र सोहेल के साथ भकुरा गांव चला गया। विकास ने इसकी जानकारी अपने मां को दी और जल्द ही लौट घर आने की बात कही थी। लेकिन सोमवार की शाम तक विकास वापस नहीं आया।

इस पर भकुरा गांव स्थित अपने रिश्तेदार को फोन कर इसकी जानकारी दी गयी। कहा गया कि विकास वहां हो, तो भेज दिया जाये। लेकिन विकास के बारे में पता नहीं चला। इस बीच मंगलवार की सुबह (Gauradih of Tarari) तरारी के गौराडीह गांव के पास शव फेंके जाने की सूचना मिली। बाद में व्हाट्सएप पर हत्या कर फेंका गया शव देखा। उसके बाद गुरुवार को आरा सदर अस्पताल पहुंच शव की पहचान की गयी। पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुटी है।

परिजनों का आरोप: सोहेल को भगाने के बाद की गयी विकास की हत्या

आरा। करनौल-चांदी गांव निवासी विंध्याचल पासवान ने बताया कि भकुरा गांव निवासी पूर्व मुखिया नाटा पांडेय के साथ किसी तरह के विवाद होने से इंकार किया है। उसने बताया कि पूर्व मुखिया ने विकास की हत्या क्यों कि यह स्पष्ट नहीं हो रहा है। कहा कि व्हाटसएप पर शव देखने के बाद विकास के मित्र सोहेल के घर जाकर पूछताछ की गयी। तब उसने घटना की पूरी जानकारी दी।

विकास के चाचा ने बताया कि सोहेल के अनुसार भकुरा जाने के बाद उसके मोबाइल पर घर से कॉल आ रही थी। इस पर उसने घर जाने की बात कही, तो पूर्व मुखिया ने मोबाइल छीन लिया। उसके बाद उसे हसनबाजार ले जाकर छोड़ दिया। उसके बाद विकास की हत्या कर दी गयी।

इधर, शव की पहचान होने के बाद विकास के घर में कोहराम मच गया है। बेटे के वियोग में मां बिंदा देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। बताया जाता है कि विकास दो भाई व दो बहन में सबसे बड़ा था। उसके परिवार में मां, छोटा भाई सुभाष पासवान और बहन रानी कुमारी व सरस्वती कुमारी है। 

31 अगस्त की रात मिला था हत्या कर फेंका गया शव

आरा। जिले के तरारी थाना क्षेत्र के गौराडीह गांव (Gauradih of Tarari) के समीप 31 अगस्त की रात करीब साढ़े आठ बजे हत्या कर फेंका गया शव मिला था। शव को पीसीसी सड़क किनारे फेंका गया था।

युवक के पेट में पांच और पीठ पर नौ जगहों पर चाकू से गोदा गया था। सिर पर भी धारदार हथियार से मारने का जख्म मिला था। तब शव की पहचान नहीं की जा सकी थी।

Facebook-आरा में बर्थडे केक लेने गये रिटायर फौजी के बाइक की डिक्की से उड़ाये एक लाख

भोजपुर के बेलवनिया बाजार SBI बैँक से फर्जी अंगूठा निशान लगा पर्ची के माध्यम की गई निकासी

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular