Monday, April 12, 2021
No menu items!
Home News अपराधियों के लिये दुश्मन तो व्यापारी और पुलिस के लिये गुडलक साबित...

अपराधियों के लिये दुश्मन तो व्यापारी और पुलिस के लिये गुडलक साबित हुई नीलगाय

Jagdishpur Loot : सेल्समैन को गाड़ी सहित ले कर भाग रहे थे लुटेरे,जीपीएस से बची

खबरे आपकी Jagdishpur Loot नीलगाय अपराधियों के लिये दुश्मन बन गयी। वहीं पुलिस और लूट के शिकार व्यापारी के लिये गुडलक साबित हुई। नीलगाय के कारण ही लुटेरे पकड़े गये और लूटे गये पैसे बरामद कर लिये गये। बताया जा रहा है कि संगम टोला के पास लूट की वारदात के बाद अपराधी धनगाईं की ओर भाग रहे थे। तभी पुलिस को सूचना मिल गयी। उसके बाद  जगदीशपुर और धनगाईं थाने की पुलिस छापेमारी में जुट गयी। पुलिस दोनों ओर से लुटेरों को पीछा कर रही थी। इस दौरान पुलिस द्वारा वाहन चेकिंग भी शुरू कर दी गयी थी। तभी धनगाईं थाना क्षेत्र के महुरही के पास पुलिस को देख लुटेरे तेजी से भागने लगे। तभी उनकी बाइक एक नीलगाय से टकरा गयी और दुर्घटनाग्रस्त हो गयी। इसमें तीनों गंभीर रूप से जख्मी हो गये। उसके बाद तीनों पुलिस के हत्थे चढ़ गये और लूटे गये पैसे सहित अन्य सामान भी बरामद कर लिये गये। 

बता दें की भोजपुर के जगदीशपुर थाना क्षेत्र के संगम टोला के पास व्यापारी से लूट के मामले में सड़क हादसे में जख्मी गिरफ्तार लुटेरों में उदवंतनगर थाना क्षेत्र के बजरूआ गांव का हिमांशु कुमार, नारायणपुर थाना क्षेत्र के बघुअई गांव के वीर बहादुर सिंह और रोहतास जिले के अकोढी गोला निवासी अरमान हासमी हैं। तलाशी के दौरान लुटेरों के पास से एक लोडेड पिस्टल, लूटे गये पैसे, मोबाइल और घड़ी भी बरामद कर ली गयी।

Jagdishpur Loot-Robbers

सेल्समैन को गाड़ी सहित ले कर भाग रहे थे लुटेरे, जीपीएस से बची

Jagdishpur Loot : बिहिया थाना क्षेत्र के टिपुरा गांव निवासी मो. हसमुद्दीन दालमोट फैक्टी में सेल्समैन का काम करते हैं। बताया जा रहा है कि मंगलवार को वह हसनबाजार दालमोट सप्लाई करने गये थे। देर शाम तगादा कर पिकअप से लौट रहे थे। इस बीच पीरो-बिहिया रोड पर जगदीशपुर थाना क्षेत्र के संगम टोला के पास दो बाइक पर सवार छह अपराधियों ने हथियार के बल पर लुटेरों ने पिककप रोक ली। इस दौरान चालक को पिकअप से उतार दिया और सेल्समैन को गाड़ी सहित ले कर भागने लगे। इस क्रम में सेल्समैन ने 85 हजार रुपये, मोबाइल और घड़ी लूट लिया गया। इस बीच चालक द्वारा पिकअप मालिक को लूट की सूचना दे दी। इसकी सूचना मिलते ही पिकअप मालिक ने जीपीएस के जरिये पिकअप लॉक कर दी। इस कारण पिकअप संगम टोला से कुछ दूरी पर बंद हो गयी। इसे देख लुटेरे पिक अप और सेल्समैन को छोड़ भागने लगे। वहीं सूचना मिलने पर पुलिस भी एक्टिव हो गयी और छापेमारी शुरू कर दी गयी। पुलिस से बचने के क्रम में ही लुटेरे सड़क हादसे के शिकार हो गये। 

लूट और हथियार बरामदगी में दो प्राथमिकी दर्ज

Jagdishpur Loot : लूट और हथियार बरामदगी को लेकर दो प्राथमिकी दर्ज की गयी है। लूट के मामले में सेल्समैन मो. हसमुद्दीन के बयान पर केस किया गया है। उसमें तीनों लुटेरों को नामजद किया गया है। वहीं हथियार बरामदगी में पुलिस द्वारा केस किया गया है।  

मोबाइल से खुलेगा लुटेरों के कनेक्शन का राज

Jagdishpur Loot: गिरफ्तारी के बाद लुटेरों के पास से उनके तीन मोबाइल भी जब्त किये गये हैं। पुलिस उन मोबाइल को खंगाल रही है। माना जा रहा है कि उसके जरिये पुलिस को लुटेरों और उनके कनेक्शन का खुलासा हो सकता है। पुलिस लुटेरों के मोबाइल से गिरोह के बारे में जानकारी ले रही है।

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular