Monday, December 5, 2022
No menu items!
Homeअन्यचर्चित खबरआभूषण व्यवसायी अपहरण कांड में इस्तेमाल कार जब्त, एक गिरफ्तार

आभूषण व्यवसायी अपहरण कांड में इस्तेमाल कार जब्त, एक गिरफ्तार

Hari ji Gupta kidnapping case:बक्सर इलाके से बरामद की गयी कार, एक-दो बाइक भी जब्त

  • अपहरण में शामिल अन्य की गिरफ्तारी और व्यवसायी की बरामदगी में जुटी पुलिस
  • बिहिया और बक्सर सहित सीमावर्ती जिलों में व्यवसायी को खोज रही पुलिस
  • हिरासत में लिये गये लोगों की निशानदेही और मोबाइल सर्विलांस से हो रही तलाश
  • फॉरेंसिक एक्सपर्ट व डॉग स्क्वायड की भी ली जा रही मदद, पटना से पहुंची टीम
  • एसपी ने खुद संभाली अगवा व्यवसायी की बरामदगी की कमान
  • बरामदगी नहीं होने पर बार एसोसिएशन और व्यवसायी मोर्चा का आंदोलन का ऐलान
  • किरायेदार सहित पांच लोगों के खिलाफ मारपीट करने के अगवा करने की प्राथमिकी

खबरे आपकी आरा/भोजपुर: आरा और पटना के आभूषण व्यवसायी सह अधिवक्ता हरिजी गुप्ता अपहरण कांड में पुलिस की तफ्तीश तेज हो गयी है। पुलिस ने अपहरण में इस्तेमाल कार बरामद कर ली है। एक-दो बाइक भी जब्त की गयी है। घटना में शामिल रितेश नामक एक आरोपित को गिरफ्तार भी कर लिया गया है। वह मुख्य आरोपित सह व्यवसायी के मार्केट के किरायेदार अमर कुमार का दोस्त है।‌ वहीं पूर्व किरायेदार सहित तीन-चार अन्य लोगों को हिरासत में भी लिया गया है। गिरफ्तार रितेश ने घटना में शामिल होने की बात भी स्वीकार की गयी है। हालांकि अबतक व्यवसायी के बारे में ठोस क्लू नहीं मिल सका है।

एसपी संजय कुमार सिंह की ओर से गिरफ्तारी और कार बरामदगी की पुष्टि की गयी है। एसपी के अनुसार कार बक्सर इलाके में एक रेलवे स्टेशन के पास से बरामद की गयी है। गिरफ्तार व हिरासत में लिये लोगों की निशानदेही पर व्यवसायी की सकुशल बरामदगी की कोशिश की जा रही है। इधर, 48 घंटे बाद भी व्यवसायी की बरामदगी नहीं होने परिजनों की चिंता बढ़ती जा रही है। हालांकि पुलिस व्यवसायी की बरामदगी को लेकर ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। मोबाइल टावर लोकेशन और आरोपितों की निशानदेही पर शुक्रवार को भी पुलिस पूरे दिन बिहिया और बक्सर सहित सीमावर्ती अन्य जिलों में व्यवसायी की तलाश करती रही।

एसपी के नेतृत्व में पुलिस व डीआईयू टीम लगातार छापेमारी करती रही। वहीं फॉरेंसिक एक्सपर्ट और डॉग स्क्वायड की भी मदद ली जा रही है। इसके लिए टीम भी बुलायी गयी थी। बावजूद उसके व्यवसायी का अबतक ठोस सुराग नहीं मिल सका है। ऐसे में किसी अनहोनी की आंशका से जहां पुलिस अधिकारी परेशान है, वहीं परिजन बेहाल हैं। इधर, अगवा व्यवसायी के पुत्र उदय प्रकाश गुप्ता के बयान पर दो किरायेदार सहित पांच लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। इधर, अबतक व्यवसायी की बरामदगी नहीं होने पर बार एसोसिएशन और व्यवसायी संघर्ष मोर्चा द्वारा आंदोलन की चेतावनी दी गयी है।

Hari ji Gupta kidnapping case:आभूषण व्यसायी को उठा ले गये थे पांच लोग, बिहिया से दो लौट गये आरा

  • पूछताछ में पुलिस को मिली अहम जानकारी
  • बिहिया और बक्सर के बाद लोकेशन नहीं मिलने से बढ़ी परेशानी
  • बिहिया के जमुआ मोड़ के पास मिला था व्यवसायी का अंतिम लोकेशन

आरा शहर के महाजन टोली नंबर एक निवासी अधिवक्ता सह आभूषण व्यवसायी हरिजी गुप्ता को पांच लोग आरा से उठा ले गये थे। उसमें उनका किरायेदार अमर कुमार और उसका दोस्त भी शामिल था। बिहिया के बाद दो आरोपित आरा लौट आये, जबकि दो व्यवसायी को लेकर दूसरी जगह चले गये। गिरफ्तार रितेश से पूछताछ में पुलिस को यह अहम जानकारी हाथ लगी है। सूत्रों के अनुसार गिरफ्तार रितेश ने पूछताछ में बताया कि मारपीट करने के बाद व्यवसायी को उसे कार से ले जाया गया था। बिहिया जाने के बाद रितेश सहित दो लोग आरा लौट गये। जबकि अमर सहित अन्य तीन लोग व्यवसायी को लेकर कहीं और चले गये। अब पुलिस अमर सहित तीन अन्य की तलाश कर रही है।

Hari ji Gupta kidnapping case हालांकि सूत्रों का कहना है कि उसमें एक को पुलिस ने पकड़ लिया है। बताया जा रहा है कि अमर कुमार का बक्सर के किसी गांव में रिश्तेदारी हैं‌। वह पहले वहां गया था, लेकिन पनाह नहीं मिलने पर दूसरे जिले की ओर निकल गया। ऐसे में पुलिस बक्सर से पटना तक उसे तलाश कर रही है। हालांकि मोबाइल का टावर लोकेशन नहीं मिलने के कारण पुलिस की परेशानी बढ़ गयी है। बताया जा रहा कि व्यवसायी के मोबाइल का अंतिम लोकेशन बिहिया के जमुआ मोड़ और अमर का अंतिम टावर लोकेशन बक्सर के एक गांव तक मिला था। उसके बाद से दोनों मोबाइल स्विच ऑफ चल रहे हैं।

  • किराये के विवाद में मारपीट के बाद आभूषण व्यवसायी को किया गया अगवा
  • बेटे की ओर से दर्ज प्राथमिकी में किरायेदार सहित पांच पर लगाया गया आरोप
  • एक सप्ताह पूर्व हटायी गयी महिला किरायेदार और बेटा भी आरोपित
  • व्यवसायी के बेटे का आरोप: फोन कर बुलाने के बाद दिया गया घटना को अंजाम
  • गिरफ्तार आरोपितों की ओर से स्वीकार की गयी मारपीट की बात

आभूषण व्यवसायी सह अधिवक्ता हरिजी गुप्ता को किराये के विवाद में मारपीट करने के बाद अगवा किया गया है। इससे पहले उनको फोन कर घर से मार्केट पर बुलाया गया था। व्यवसायी के बेटे उदय प्रकाश गुप्ता की ओर से दर्ज प्राथमिकी में इस बात की जानकारी दी गयी है। प्राथमिक में शहर के रौजा मोहल्ला निवासी किरायेदार आमर कुमार, उसके दोस्त रितेश, मार्केट से हटायी गयी महिला नाजो खातून और उसके पुत्र राजा सहित पांच पर आरोपित किया गया है।‌

Hari ji Gupta kidnapping case प्राथमिकी में कहा गया है कि अमर कुमार किराये को लेकर अक्सर उनके पिता के साथ विवाद करता था। बुधवार की शाम उनके पिता किराया लेने बाइपास नहर बलुआही स्थित अपने मार्केट पर गये थे। तब अमर कुमार द्वारा उनके साथ गाली-गलौज और मारपीट की गयी। उदय प्रकाश गुप्ता के अनुसार अन्य किरायेदार से पूछताछ में यह जानकारी मिली।

बता दें के नगर थाना क्षेत्र के महाजन टोली नंबर एक निवासी व्यवसायी सह अधिवक्ता हरिजी गुप्ता बुधवार की शाम किराया वसूलने बाइपास बलुआही स्थित अपने मार्केट में गये थे। वहीं से मारपीट करने के बाद उनको अगवा कर लिया गया है। गुरुवार की सुबह उनकी बाइक मार्केट के नजदीक से बरामद की गयी थी। एसपी संजय कुमार सिंह के अनुसार व्यवसायी का अमर कुमार से किराये को लेकर विवाद था। वहीं एक सप्ताह पूर्व हटायी गयी महिला किरायेदार से भी रूम खाली कराने का विवाद सामने आया है। हर एंगल से छानबीन की जा रही है।

- Advertisment -
Khabre Apki
Mantu Sonar Murder
Khabre Apki
Mantu Sonar Murder

Most Popular