Friday, January 28, 2022
No menu items!
HomeNewsसोन नदी में दो नावों की टक्कर, अंधेरी रात में गिरे मजदुर...

सोन नदी में दो नावों की टक्कर, अंधेरी रात में गिरे मजदुर का दूसरे दिन मिला शव

Naya Bindgava: नाव से सोन में गिरने से मजदूर की मौत, दूसरे दिन मिला शव

कोईलवर थाना क्षेत्र के नया बिंदगांवा की घटना

आरा। भोजपुर के कोईलवर थाना क्षेत्र के जमालपुर स्थित सोन में डूबने से एक मजदूर की मौत हो गयी। उसका शव बुधवार की दोपहर नया बिंद गांवा स्थित सोन से बरामद किया गया। मृत मजदूर बड़हरा थाना क्षेत्र के लाला के टोला गांव निवासी योगेन्द्र राय का 25 वर्षीय पुत्र संजय राय था। वह सोमवार की रात नाव से सोन में गिर गया था। देर रात बालू लदे दो नावों की टक्कर होने के कारण उसके सोन में गिरने और डूबने की बात की जा रही है।

रात में दो नावों की टक्कर में मजदूर के सोन में गिरने और डूबने की चर्चा

इधर, पिता योगेंद्र राय ने बताया कि उनका बेटा संजय नाव पर मजदूरी करता था। सोमवार की रात भी वह हर रोज की तरह कोईलवर थाना क्षेत्र के जमालपुर गांव स्थित सोन नदी में नाव पर मजदूरी करने गया था। रात करीब 12 बजे वह नाव पर मजदूरी कर रहा था। तभी पीछे से बालू लदी दूसरी नाव ने उसकी नाव में टक्कर मार दी। इससे वह सोन नदी में गिर पड़ा और उसकी मौत हो गयी।

Naya Bindgava: सोन में डूबे मजदूर का बुधवार दोपहर को मिला शव

New Bindgava

उन्होंने बताया की मंगलवार की सुबह तक वह घर नहीं लौटा, तो खोजबीन की गयी। लेकिन कुछ पता नहीं चल पाया। इसी बीच बुधवार की दोपहर नया बिंदगावां गांव स्थित सोन नदी में उसका शव पड़ा देखा। उसके बाद ग्रामीणों के सहयोग से शव को पानी से बाहर निकाला गया। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और शव का पोस्टमार्टम कराया गया। 

पांच भाई-बहनों में बड़ा था संजय, घर में मचा कोहराम

आरा। संजय राय की मौत से उसके घर में रोना-धोना मच गया है। बड़े बेटे के वियोग में मां का बुरा हाल था। बताया जा रहा है कि संजय राय तीन भाई और दो बहन में सबसे बड़ा था। उसके परिवार में मां गुलाबो देवी, बहन लगन कुमारी, रिंकी कुमारी, भाई गोपाल राय और समजीत राय है।मां गुलाबो देवी एवं परिवार के सभी सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल था।

पढ़ें: छापेमारी करने गई भोजपुर पुलिस टीम पर बालू माफियाओं का हमला

- Advertisment -
manish
aman p
anand
manoj

Most Popular