Tuesday, July 27, 2021
No menu items!
HomeNewsडोली उठने से पहले निकल गयी अर्थी, हत्या या हादसा ?

डोली उठने से पहले निकल गयी अर्थी, हत्या या हादसा ?

Rohtas youth-भोजपुर में रोहतास के हाइवा चालक की संदिग्ध स्थिति में मौत, हत्या की आशंका

सहार थाना क्षेत्र के बरूहीं फौजी घाट बालू लेने आये चालक के साथ हुई घटना

खबरे आपकी बिहार/आरा/रोहतास – भोजपुर के सहार थाना क्षेत्र के बरूहीं स्थित फौजी घाट जाने वाले रास्ते पर बुधवार की रात रोहतास जिले के एक हाईवा चालक Rohtas youth की संदिग्ध स्थिति में मौत हो गई। उसके सिर और ठूडी के पास गंभीर चोट लगी है। मृत चालक रोहतास जिले के दावथ थाना क्षेत्र के डेढ़गांव गांव निवासी वंशीधर रविदास का पुत्र मिलाप रविदास था। वह पिछले साल लॉकडाउन के बाद महाराष्ट्र से गांव आया था।

शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद मामले की छानबीन में जुटी पुलिस

हालांकि उसकी मौत हादसा है या हत्या यह स्पष्ट नहीं हो सका है। उसके परिजन हत्या किये जाने की आशंका जता रहे हैं। वहीं पुलिस शुरुआती जांच में सड़क हादसे में मौत की बात कह रही है। पुलिस का कहना है कि पोस्मार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की असली वजह पता चल सकती है।

चालक के परिजनों ने हत्या की आशंका जता दर्ज करायी प्राथमिकी

इधर, Rohtas youth मृत चालक के चाचा ललन राम द्वारा एक साजिश के तहत हत्या करने की बात कही है। इस संबंध में उनके द्वारा थाने में प्राथमिकी भी दर्ज करायी गयी है। उसमें हत्या किये जाने की आशंका जतायी है। उन्होंने बताया कि गुरुवार की सुबह करीब सात बजे मोबाइल से सूचना मिली कि उनके भतीजे की सड़क हादसे में मौत हो गई है। इसके बाद वह अन्य परिजनों के साथ आरा सदर अस्पताल पहुंचे। तबतक पुलिस द्वारा शव का पोस्टमार्टम करा दिया गया था।

उन्होंने बताया कि जानकारी मिली कि उनके भतीजे के सर में गहरे जख्म के निशान थे। इससे हत्या कर शव फेंके जाने की आशंका हो रही है। इधर, पुलिस सड़क हादसा और हत्या दोनों बिंदु पर छानबीन कर रही है।

Rohtas youth

पढ़े :- श्राद्ध एवं विवाह के लिए अधिकतम 50 एवं 250 व्यक्तियों की रहेगी सिमा

डोली उठने से पहले निकल गयी चालक की अर्थी, घर में मचा कोहराम

Rohtas youth हाइवा चालक की शादी से कुछ दिन पहले ही मौत हो गयी। बताया जा रहा है कि उसकी शादी तय हो गयी थी। अगले 7 मई को तिलक और 11 को बारात थी। उसे लेकर घर में तैयारी भी शुरू हो गयी थी। लेकिन डोली से पहले उसकी अर्थी उठ गई। इससे उसके घर में कोहराम मच गया है। बेटे के वियोग में मां विमला देवी सहित परिवार के सदस्यों का बुरा हाल था।

पिछले साल लॉकडाउन के बाद महाराष्ट्र से गांव लौट आया था चालक

बताया जा रहा है कि मिलाप रविदास पहले महाराष्ट्रा में हाईवा चलाता था। लेकिन पिछले साल लॉकडाउन होने के कारण गांव लौट आया। उसके बाद से ही वह यहीं हाईवा चला रहा था। उसके चाचा के अनुसार वह करीब डेढ़ माह से वह यह हाईवा चला रहा था। मृत चालक चार भाई और एक बहन में दूसरे स्थान पर था। उसके परिवार में मां विमला देवी, भाई मिलन, कार्तिक, गणेश और बहन पार्वती है।

पढ़े :- बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री मंदाकिनी श्रीकांत घोष के प्रचार में हावड़ा पंहुची

- Advertisment -
AD
Ad
Akash Yadav Murder Shahpur
Akash Yadav Murder Shahpur Bihar

Most Popular