Friday, July 1, 2022
No menu items!
HomeNewsबिहारवारंट और पेंडिंग कांडों के डिस्पोजल को लेकर चलायें स्पेशल ड्राइव

वारंट और पेंडिंग कांडों के डिस्पोजल को लेकर चलायें स्पेशल ड्राइव

वारंट और पेंडिंग कांडों के डिस्पोजल को लेकर चलायें स्पेशल ड्राइव
पुलिस अफसरों की पहली मीटिंग में एसपी ने दिया टास्क
क्राइम कंट्रोल और गिरफ्तारी सहित सभी बिंदुओं पर की गयी समीक्षा
थानों के फाइल और केस से संबंधी रेकॉर्ड को अपडेट रखने का टास्क
आरा। क्राइम कंट्रोल करने को लेकर वारंट और पेंडिंग कांडों का त्वरित निष्पादन करना होगा। इसके लिये विशेष अभियान चलाया जायेगा। नये एसपी संजय कुमार सिंह ने रविवार को मीटिंग में थानाध्यक्षों को यह निर्देश दिया है। योगदान करने के बाद थानाध्यक्षों के साथ पहली बैठक में एसपी ने गिरफ्तारी और वारंट से लेकर केस डिस्पोजल तक की समीक्षा की। उन्होंने वारंट, गिरफ्तारी और पेंडिंग केस के डिस्पोजल की गति बढ़ाने का निर्देश दिया। कहा कि इसे लेकर स्पेशल ड्राइव चलाया जाये। एसपी ने थानों के सभी फाइक और केस से संबंधित रेकॉर्ड के रखरखाव को लेकर भी टास्क दिया। कहा कि साल वाइज केस और वारंट से संबंधी फाइल तैयार किया जाये। एसपी ने बताया कि बैठक में वारंट, गिरफ्तारी, केस डिस्पोजल और पूर्व में दिये गये टास्क सहित अन्य बिंदुओं की समीक्षा की गयी। साथ ही कुछ टास्क भी दिये गये हैं। कहा कि थानाध्यक्षों द्वारा
कुछ टास्कों को पूरा भी किया गया है। एसपी ने कहा कि ट्रैफिक व्यवस्था को भी दुरुस्त और अपडेट किया जायेगा। बैठक में एएसपी हिमांशु, पीरो एसडीपीओ राहुल सिंह और जगदीशपुर एसडीपीओ श्याम किशोर रंजन सहित सभी इंस्पेक्टर और थाना इंचार्ज शामिल थे।

काम के आधार पर थानों की होगी ग्रेडिंग, फॉर्मेट के जरिये होगी समीक्षा
आरा। भोजपुर के थानों की ग्रेडिंग की जायेगी। काम के आधार पर रैंक दिया जायेगा। फॉर्मेट के जरिये थानों के कामकाज की समीक्षा होगी। उसके बाद कामकाज में सुधार लाने का प्रयास किया जायेगा। एसपी संजय कुमार सिंह ने रविवार की शाम पुलिस अफसरों की बैठक के बाद यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि थानों की कामकाज की समीक्षा की जा रही है। इसके लिये वारंट, गिरफ्तारी और अभिलेखों के रखखाव सहित प्वाइंट तैयार किये गये हैं। थानों को उस प्वाइंट पर काम करने का टास्क दिया गया है। उसी आधार पर थानों की समीक्षा और फिर ग्रेडिंग की जायेगी। सुपरवाइज अफसर थानों के कामकाज पर नजर रखेंगे और फॉर्मेट के जरिये डिटेल्स उपलब्ध करायेंगे। इसके लिये अफसरों को फॉर्मेट उपलब्ध कराये जा रहे हैं।

MD WASIM
Journalist
- Advertisment -

Most Popular