Tuesday, February 27, 2024
No menu items!
HomeNewsरास्ट्रीय खबरेंटनल से बाहर आते ही परिजनों की आंखों से निकले खुशी के...

टनल से बाहर आते ही परिजनों की आंखों से निकले खुशी के आंसू

Sabah Bhojpur – Silkyara tunnel: भोजपुर जिले के सहार प्रखंड के पेऊर गांव निवासी 35 वर्षीय सबाह अहमद उर्फ सैफ के घर मंगलवार की सुबह से ही दुआओं का दौर जारी रहा।

  • हाइलाइट :-
    • सुरंग में फंसे मजदूरों को 17 दिनों के बाद सही सलामत बाहर निकाल लिया गया
    • भोजपुर के सबाह टनल से निकला तो परिजनों की आंखों से खुशी के आंसू निकल पड़े

Sabah Bhojpur – Silkyara tunnel: उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के सिलक्यारा सुरंग में फंसे मजदूरों को 17 दिनों के बाद सुरंग के अंदर से सही सलामत बाहर निकाल लिया गया है। इस अभियान में लगे कर्मियों के कड़ी मशक्कत के बाद आखिरकार जीत मिल ही गई। बिहार झारखंड के भी कुछ मजदूर इस टनल में फसे हुए थे। वहीं भोजपुर के पेउर गांव के रहने वाले सबाह भी इस टनल में पिछले 17 दिनों से फंसे हुए थे। जिसके बाहर आने की खबर के बाद पूरा परिवार काफी खुश है।

भोजपुर जिले के सहार प्रखंड के पेऊर गांव निवासी 35 वर्षीय सबाह अहमद उर्फ सैफ के घर मंगलवार की सुबह से ही दुआओं का दौर जारी रहा। पिछले 17 दिनों से उत्तराखंड राज्य के सिल्क्यारा टनल में फंसे सबाह के घर माता-पिता सहित परिजनों को एक-एक पल खुशी की खबर सुने बिना गुजारना मुश्किल हो रहा था। 8.34 बजे रात में सबाह टनल निकला से तो परिजनों की आंखों से खुशी के आंसू निकल पड़े।

माता शहनाज बेगम, पिता मिस्बाह अहमद सहित अमूमन सभी परिजन टीवी समेत अन्य माध्यमों से मिलने वाली सूचनाओं पर टकटकी लगाए बैठे थे। रात करीब आठ बजे से एक-एक कर मजदूर निकलने लगे और 8.34 बजे रात में सबाह टनल से निकला तो परिजनों की आंखों से निकले खुशी के आंसू ।

- Advertisment -

Most Popular