Tuesday, May 28, 2024
No menu items!
Homeन्यूज़-रू-ब-रूफूहड़ता: छात्राओं के सामने भोजपुरी गाने पर शिक्षकों ने लगाये ठुमके

फूहड़ता: छात्राओं के सामने भोजपुरी गाने पर शिक्षकों ने लगाये ठुमके

Teachers dance on Bhojpuri song: बिहिया प्रखंड के महुआंव गांव स्थित बालिका उच्च विद्यालय की छात्राओं के साथ परिभ्रमण पर निकले शिक्षकों का बस में भोजपुरी गाने पर जमकर नाच-गाने का वीडियो सोशल मिडिया पर वायरल होने के बाद हंगामा मच गया है।

  • हाइलाइट :-
    • परिभ्रमण पर निकला था नवीं कक्षा से लेकर 12वीं कक्षा तक के छात्राओं का एक दल
    • परिभ्रमण के दौरान बस में नाच-गाने का वीडियो हुआ वायरल, मचा हंगामा

Teachers dance on Bhojpuri song आरा/बिहिया जितेंद्र कुमार बिहिया प्रखंड के महुआंव गांव स्थित शिवसखी दुबे प्लस टू प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय की छात्राओं के साथ परिभ्रमण पर निकले शिक्षकों का बस में भोजपुरी गाने पर जमकर नाच-गाने का वीडियो सोशल मिडिया पर वायरल होने के बाद हंगामा मच गया है। हालांकि खबरे आपकी वीडियो की सच्चाई की पुष्टि नहीं करता है।

Election Commission of India
Election Commission of India

वीडियो वायरल होने के बाद जहां शिक्षा विभाग में खलबली मची हुई है वहीं छात्राओं के अभिभावकों में भी रोष देखा जा रहा है।मामले को लेकर कई अभिभावक शुक्रवार को स्कूल भी पहुंच गये और अपनी नाराजगी जाहिर की।

जानकारी के अनुसार विद्यालय की नवीं कक्षा से लेकर 12वीं कक्षा तक की 62 छात्राओं का एक दल गुरूवार को परिभ्रमण पर बस से रोहतास जिला के सासाराम स्थित शेरशाह का मकबरा, मां ताराचंडी मंदिर व माता मंडेश्वरी मंदिर गई थीं। दल में कोई भी महिला शिक्षिका नहीं थी। छात्राओं को विद्यालय के तीन शिक्षक व एक गार्ड लेकर गये हुए थे।

Shobhi Dumra - News
Vishnu Nagar Ara Crime
Shobhi Dumra - News
Vishnu Nagar Ara Crime
previous arrow
next arrow

वायरल वीडियो में यात्रा के दौरान दल में शामिल शिक्षक बिल्कुल मस्ती के मूड में भोजपुरी गानों पर ठुमके लगाते हुए नजर आ रहे हैं। एक वीडियो क्लिप में कुछ छात्राएं भी भोजपुरी गाने पर डांस करती हुई दिख रही हैं। बताया जाता है कि भभुआ स्थित माता मुंडेश्वरी मंदिर व सासाराम स्थित ताराचंडी मंदिर के भ्रमण के बाद दल जब शेरशाह का मकबरा पहुंचा तब तक मकबरा बंद हो चुका था।

मकबरा देखने की ख्वाहिशमंद छात्राओं मायूसी छा गयी और कुछ छात्राएं रोने भी लगीं। छात्राओं का मानना था कि मंदिरों में घूमने-फिरने बस में शिक्षकों के नाच-गाने के चक्कर में काफी देर हो गयी जिससे मकबरा बंद हो गया।बाद में शिक्षक किसी तरह छात्राओं को समझा-बुझाकर वापस लौटे।

मामले को लेकर विद्यालय के प्रधानाध्यापक कमलेश्वर कुमार दुबे ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में आया है जिसकी वे जांच करेंगे। कहा कि वरीय पदाधिकारियों के निर्देश के आलोक में कारवाई की जाएगी।

- Advertisment -
Vikas singh
Vikas singh
Vikas singh
Vikas singh

Most Popular

Don`t copy text!