Saturday, January 28, 2023
No menu items!
HomeNewsभोजपुर में रेलवे ट्रैक से मिले तीन शव

भोजपुर में रेलवे ट्रैक से मिले तीन शव

Railway track in Bhojpur-ट्रेन की चपेट में आने से तीन की मौत, दो की पहचान नहीं

रेलवे ट्रैक से शव मिलने के कारण बिहिया में खड़ी रही विभूति एक्सप्रेस

26 January Republic Day
26 January Republic Day
kids

खबरे आपकी बिहार: Railway track in Bhojpur दानापुर-पीडीडीयू रेलखंड पर शनिवार को अलग-अलग जगहों पर ट्रेन की चपेट में आने से तीन लोगों की मौत हो गयी। इसमें दो मृतकों की पहचान नहीं हो सकी है। घटना जमीरा, ओसाईं हॉल्ट और बनाही स्टेशन के पास हुई है। रेल पुलिस द्वारा तीनों शवों का पोस्टमार्टम कराया गया है। इधर, रेलवे ट्रैक से शव मिलने के कारण विभूति एक्सप्रेस करीब आधे घंटे तक बिहिया में खड़ी रही। बाद में ट्रैक से शव हटने के बाद अप परिचालन सुचारू हुआ।

Railway track in Bhojpur-दानापुर-पीडीडीयू रेलखंड पर बनाही, ओसाईं और जमीरा के समीप घटना

Railway track in Bhojpur
Banahi Station

पहली घटना बनाही स्टेशन के समीप हुई। सुबह ट्रेन की चपेट में आने से एक अधेड़ की मौत हो गई। मृतक पीरो थाना क्षेत्र के केशवां गांव निवासी धनंजय कुमार सिंह हैं। वहीं ओसाई हॉल्ट के समीप भी रेलवे ट्रैक से एक युवक का शव बरामद किया गया। उसकी पहचान नहीं हो सकी है। दूसरी ओर दोपहर में जमीरा हाल्ट के समीप डाउन लाइन पर ट्रेन की चपेट में आने से एक युवक की मौत हो गई। उसकी पहचान नहीं हो सकी है। घटना को लेकर अफरातफरी मची रही। शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद पुलिस शव की पहचान करने में जुट गई है।

परिजनों की खोजबीन में रेलवे ट्रैक से मिला कपड़ा, अस्पताल पहुंच शव की पहचान की

इधर, बनाही स्टेशन के पास ट्रेन की चपेट में आने से जान गंवाने वाले धनंजय सिंह के पुत्र प्रिंस कुमार ने बताया कि शुक्रवार को उसके पिता बहन के घर बिहिया थाना क्षेत्र के चकरही गांव गये थे। शनिवार की सुबह घर के सभी लोग सोये थे। तभी उसके पिता घर से निकल गए। सुबह सात बजे तक उसके पिता घर पर नहीं आये, तो खोजबीन शुरू की। इस दौरान बनाही स्टेशन गया, जहां अपने पिता का कपड़ा रेलवे स्टेशन के ट्रैक पर पड़ा देखा।

पढ़े : स्वर्ण पदक से सम्मानित कथक गुरु देश के राष्ट्रपति व् प्रधानमत्री के समक्ष कर चुके हैं कथक प्रस्तुत

इधर, सोशल मीडिया पर ट्रेन की चपेट में आने से एक अधेड़ की मौत की खबर मिली। इस आधार पर वह सदर अस्पताल पहुंचा और शव की पहचान की। इसके बाद परिजन शव को दाह संस्कार के लिए वापस गांव ले गये। बताया जाता है कि मृत अधेड़ तीन भाई व दो बहन में सबसे बड़े थे। उनके परिवार में पत्नी शारदा देवी पुत्र प्रिंस, मनीष, पंकज और पुत्री आरती है। घटना के बाद उनके घर में कोहराम मच गया है।

पढ़े : शाहपुर थाना क्षेत्र के हरीहरपुर गांव में युवक की हत्या,शादी की खुशी वाले घर मे छाया मातम 

पढ़े : आरा-बैंक ऑफ़ इंडिया की शाखा में नोट बदलने के नाम पर उचक्कों ने 44 हजार रुपये उड़ाया

MD WASIM
MD WASIM
Journalist
- Advertisment -
एवं बसंत पंचमी की शुभकामनाएं
एवं बसंत पंचमी की
khabreapki-youtube
khabreapki-youtube

Most Popular