Wednesday, December 1, 2021
No menu items!
HomeNewsबिहारउल्टी व दस्त होने के कारण दो बच्चों की मौत, मां-बेटी सहित...

उल्टी व दस्त होने के कारण दो बच्चों की मौत, मां-बेटी सहित तीन आक्रांत

Children died in Bhojpur-सदर अस्पताल में इलाज के दौरान दोनों बच्चों ने तोड़ा दम

तीनों आक्रांतों का आरा सदर अस्पताल में कराया जा रहा इलाज

मरने वालों में बच्चों में एक पटना और दूसरा भोजपुर का रहने वाला

खबरे आपकी भोजपुर में उल्टी और दस्त होने के कारण दो बच्चों की मौत हो गई। इलाज के दौरान आरा सदर अस्पताल में दोनों ने दम तोड़ दिया। वहीं एक मृत बच्चे की मां-बेटी समेत तीन लोग आक्रांत हैं।तीनों का इलाज सदर अस्पताल में कराया जा रहा है। मृत बच्चों कों में चरपोखरी थाना क्षेत्र के सेमरांव गांव निवासी राकेश राम का 8 वर्षीय पुत्र अभिनंदन कुमार और पटना जिला के मनेर थाना क्षेत्र के हल्दी छपरा गांव निवासी प्रमोद महतो का 10 वर्षीय पुत्र कल्लू कुमार थे।आक्रांत लोगों में मृत कल्लू की मां रीता देवी,12 वर्षीया बहन सुमन कुमारी और नालंदा जिले के पावापुरी थाना क्षेत्र के तेतराव गांव निवासी रामेश्वर पंडित की 75 वर्षीया पत्नी लालो देवी शामिल है।

Children died in Bhojpur-डायरिया बीमारी के कारण मौत होने की जताई जा रही आशंका

सेमरांव गांव निवासी मृत बच्चे अभिनंदन कुमार के पिता राकेश राम ने बताया कि रविवार की सुबह उसे उल्टी और दस्त शुरू हो गयी। इससे उसकी हालत काफी बिगड़ गयी। तब उसे ग्रामीण चिकित्सक के पास इलाज के लिए गया। प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टर ने डायरिया होने की बात कह आरा भेज दिया गया। उसके बाद उसे सदर अस्पताल लाया गया। वहां इलाज के दौरान उसने इमरजेंसी वार्ड में दम तोड़ दिया। घटना को लेकर लोगों के बीच अफरा-तफरी मची रही। दोनों बच्चों की मौत डायरिया बीमारी होने के कारण आशंका जताई जा रही है। हालांकि फिलहाल डॉक्टरों द्वारा इसकी पुष्टि नहीं की गई थी। 

झाड़-फूंक कराने आये थे पटना से भोजपुर, हो गयी बच्चे की मौत

Children died in Bhojpur-पटना जिले की हल्दी छपरा निवासी आक्रांत रीता देवी ने बताया कि अपने बेटे कल्लू कुमार और बेटी सुमन कुमारी के साथ भोजपुर के कृष्णागढ़ थाने के इटहना गांव स्थित ब्रह्म बाबा के पास झाड़-फूंक कराने आयी थी। तभी तीनों को उल्टी और दस्त होने लगी। देखते ही देखते सभी की हालत काफी बिगड़ गई। उसके बाद स्थानीय लोगों द्वारा ऑटो रिजर्व कर इलाज के लिए आरा सदर अस्पताल लाया गया। इलाज के दौरान कल्लू कुमार ने इमरजेंसी वार्ड में दम तोड़ दिया। इसी तरह नालांदा की लालो देवी ने बताया कि वह अपनी बेटी के ससुराल इटहना आयी थी। दोनों सुबह इटहना ब्रह्म स्थान गयी थी। तभी तबीयत खराब हो गयी और उल्टी-दस्त होने लगी। 

माता-पिता का इकलौता पुत्र था कल्लू, मां बेहाल

बताया जा रहा है कि पटना के हल्दी छपरा निवासी मृत कल्लू कुमार माता-पिता का इकलौता पुत्र था। उसको दो बहन भी थी। उसके परिवार मे मां रीता देवी, बहन सुमन कुमारी और राधा कुमारी है। इकलौते बेटे की मौत के बाद मां रीता देवी बेहाल थी। वहीं मृत अभिनंदन कुमार अपने चार भाइयों में सबसे छोटा था। उसके परिवार में मां धाना देवी व तीन भाई आदित्य कुमार, अरविंद कुमार और रवि कुमार है। घटना के बाद दोनों के घर में कोहराम मच गया है।

पढ़ें:-परिजनों ने कबूला गुनाह, बोले: फोटो भेज राजेश ने तुड़वा दी थी शादी,जेल गयी कातिल प्रेमिका 

- Advertisment -
Jain Ornaments ad
Raj Auto AD
Sambhawana School Ad
Kids Campus Mission School AD
Jain Ornaments ad
Raj Auto AD
Sambhawana School Ad
Kids Campus Mission School AD
Nagarmal Ad
Heart care centre ad
Modern x Ray AD
Maa sharde Ad
Nagarmal Ad
Heart care centre ad
Ad
Modern x Ray AD
Maa sharde Ad

Most Popular