Sunday, June 13, 2021
No menu items!
Homeकिताबेंजागरूक शिक्षक और समाज के जिम्मेवार प्रहरी हैं बिष्णुदेव बाबू- आईजी सुनील...

जागरूक शिक्षक और समाज के जिम्मेवार प्रहरी हैं बिष्णुदेव बाबू- आईजी सुनील कुमार

Kabya Manjari – विष्णुदेव सिंह कृत ‘काब्य मंजरी’ पुस्तक का हुआ लोकार्पण

आरा शहर के मैना सुंदर भवन में आयोजित हुआ लोकार्पण समारोह

आरा शहर के मैना सुंदर भवन में रविवार को Kabya Manjari पुस्तक के लोकार्पण समारोह का आयोजन किया गया। इस मौके पर विष्णुदेव सिंह कृत ‘काब्य मंजरी’ पुस्तक का लोकार्पण अतिथियों द्वारा किया गया। अध्यक्षता रामचंद्र ‘निठूर’ ने की। इस अवसर पर सभा का उद्घाटन करते हुए वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति नंदकिशोर साह ने कहा कि ‘काव्य मंजरी’ का सौरभ संपूर्ण साहित्य समाज को एक नई ऊर्जा प्रदान करेगा।

मुख्य अतिथि आईजी सह गृह विभाग के विशेष सचिव सुनील कुमार ने ‘काब्य मंजरी’ पर अभिव्यक्ति देते हुए कहा कि गुरुदेव विष्णुदेव बाबू सचमुच समाज के एक जागरूक शिक्षक ही नहीं बल्कि एक जिम्मेवार प्रहरी भी है। इनके पवित्र प्रेरणा से एक विकसित समाज का सपना साकार होगा।

जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा ने कवि विष्णुदेव सिंह को शुभकामना देते हुए कहा कि साहित्य के द्वारा ही समाज को सही दिशा दी जा सकती है। जो काम तो तोप या तलवार नहीं कर सकता। वह काम साहित्यकार आसानी से अहिंसा कृति से संपन्न कर देते हैं।

विशिष्ट अतिथि पुलिस अधीक्षक हर किशोर ने अपना मंतव्य देते हुए कहा कि भोजपुर साहित्यकारों की काशी है, जिसमें एक सुसंस्कृत समाज की स्थापना में सहूलियत होगी। आशा करता हूं कि विष्णुदेव सिंह आने वाले दिनों में भी परिमार्जित साहित्य से सभ्य समाज का निर्माण करते रहेंगे।

मुख्य वक्ता डॉ. जंग बहादुर पांडेय ने ‘काव्य मंजरी’ पर विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि यह Kabya Manjari काव्य पुस्तक अद्भुत है। जिसमें कवि की भक्ति भावना के साथ वीर, हास्य आदि रसों का सुंदर परीषाक मिलता है। यह पुस्तक विश्वविद्यालय के युवकों के लिए मुक्तामणि साबित होगी।

सभा की अध्यक्षता कर रहे साहित्य मर्मज्ञ रामचंद्र ‘निठूर’ ने कहा कि विष्णुदेव बाबू एक कुशल शिक्षक के साथ-साथ एक निष्ठावान निबंधकार और श्रेष्ठ कवि भी हैं। आशा है कि आप अपनी रचनाओं से आगे भी जनमानस को अनुप्राणित और प्रेरित करते रहेंगे।

धन्यवाद ज्ञापन करते हुए भोजपुर माध्यमिक संघ के अध्यक्ष मुक्तेश्वर नाथ उपाध्याय ने कहा कि आप सबों ने इस लोकार्पण समारोह में उपस्थित होकर इस महफिल की शोभा बढ़ाई। उसके लिए मैं आप सभी को हृदय से साधुवाद देता हूं।

मंच संचालन वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय हिंदी विभाग के अध्यक्ष डॉ.रणविजय कुमार ने किया। आगत अतिथियों का स्वागत Kabya Manjari “काव्य मंजरी” के रचनाकार कवि विष्णुदेव सिंह ने की। समारोह में पूर्व प्रधानाध्यापक सीताराम सिंह, पूर्व प्राचार्य पारसनाथ सिंह, कवि जितेंद्र कुमार, राम सुरेश सिंह जितेंद्र शर्मा संजय शर्मा, संजय सिंह समेत कई लोग उपस्थित थे।

देखें- खबरें आपकी – फेसबुक पेज – वीडियो न्यूज – अन्य खबरें

न तो ओटीपी और ना ही मैसेज और कर लिया पैसा ट्रांंसफर

नवजात बेटी को गोद में ले पति के वियोग में फफक रही थी प्रियांशु

सुरेमनपुर फायरिंग कांडः 21 पर केस, जेल भेजे गये गिरफ्तार सात आरोपित

- Advertisment -
khabreapki.com-politics
AD
Ad-school-
khabreapki.com-politics

Most Popular