Saturday, February 27, 2021
No menu items!
Home News सूबे में वज्रपात से 83 लोगों की मौत

सूबे में वज्रपात से 83 लोगों की मौत

मुख्यमंत्री ने व्यक्त की गहरी शोक संवेदना
मृतकों के आश्रितों को चार-चार लाख अनुग्रह अनुदान देने को दिया निर्देश

भोजपुर-रोहतास के बॉर्डर पर चल रहा गेसिंग का धंधा, भोजपुर पुलिस का खुलासा
आरा। बिहार के विभिन्न जिले में गुरुवार को वज्रपात से 83 लोगों की मौत हो गई। लोगों की मौत पर सूबे के सीएम नीतीश कुमार ने गहरी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने मृतक के आश्रितों को चार-चार लाख रूपए अनुग्रह अनुदान देने का निर्देश दिया है। वज्रपात से गोपालगंज में 13, पूर्वी चम्पारण में 5, सीवान में 6 दरभंगा में 5, बॉका में 5, भागलपुर में 6, खगड़िया में 3, मधुबनी में 8, पश्चिम चम्पारण में 2, समस्तीपुर में 1, शिवहर में 1, किशनगंज में 2, साल में 1, जहानाबाद में 2, सीतामढ़ी में 1, जमुई में 2, नवादा में 8, पूर्णिया में 2, सुपौल में 2, औरंगाबाद में 3, बक्सर में 2, मधेपुरा में 1 और कैमूर में 2 लोगों की मौत हो गयी। लोगो की मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है।

आरा में सुन्नी वक्फ बोर्ड पर दबंगों ने जमाया कब्जा, कार्रवाई नहीं होने पर भड़के एसपी

मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा की इस घड़ी में वे प्रभावित परिवारों के साथ हैं। मुख्यमंत्री ने तत्काल मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रूपये अनुग्रह अनुदान देने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि सभी लोग खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें। खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिये आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किये गये सुझावों का अनुपालन करें। खराब मौसम में घरों में रहें और सुरक्षित रहें।

एसपी की इस कार्रवाई व एक साथ पांच पुलिस कर्मियों की गिरफ्तारी से महकमे में खलबली

और भी पढ़े – खबरें आपकी-फेसबुक पेज

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular