Saturday, March 6, 2021
No menu items!
Home अन्य चर्चित खबर आरा में पुलिस और अपराधियों की मुठभेड़ के दौरान जख्मी महिला की...

आरा में पुलिस और अपराधियों की मुठभेड़ के दौरान जख्मी महिला की मौत

Anandnagar Ara – पुलिस पर फायरिंग करने के आरोप में दो अपराधियों के खिलाफ प्राथमिकी

घटनास्थल से जांच के दौरान पुलिस को मिले गोली के आठ खोखे

खबरे आपकी Anandnagar Ara आरा शहर के आनंदनगर मोहल्ले में सोमवार की शाम पुलिस और अपराधियों की मुठभेड़ के दौरान जख्मी महिला की मौत हो गयी। सोमवार की रात इलाज के लिये पटना ले जाने से पहले से उसने दम तोड़ दिया। रात्रि में ही आरा सदर अस्पताल में उसके शव का पोस्टमार्टम करा दिया गया। हालांकि महिला की मौत का कारण स्पष्ट नहीं सका है।

परिजन बोले: गोली से गयी महिला की जान, पुलिस जता रही चोट से मौत की आशंका

महिला के परिजन गोली लगने से मौत होने की बात कह रहे हैं। वहीं पुलिस चोट लगने के कारण मौत होने की आशंका जता रही है। मृत महिला रोहतास जिले के दिनारा थाना क्षेत्र के मधुकरपुर गांव निवासी जयप्रकाश मिश्रा की पत्नी शैल देवी है। फिलहाल वह आरा के आनंदनगर में रहती थी। वह कुख्यात अपराधी छोटू मिश्रा की मां बतायी जा रही है। इधर, पुलिस पर फायरिंग करने को लेकर छोटू मिश्रा व मिथिलेश पासवान के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है। वहीं मामले की तफ्तीश में जुटी पुलिस को घटनास्थल से नाइन एमएम के आठ खोखे भी बरामद किये गये हैं। मुठभेड़ के दौरान छोटू मिश्रा को भी गोली लगने की चर्चा है। लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है।

शहर के आनंदनगर मोहल्ले में सोमवार की शाम पुलिस की अपराधियों से हुई थी मुठभेड़

मालूम हो कि सोमवार की शाम करीब चार बजे आनंदनगर मोहल्ले (Anandnagar Ara) में छापेमारी करने गयी पुलिस की अपराधियों के साथ मुठभेड़ हो गयी थी। पुलिस मिथिलेश पासवान और छोटू मिश्रा के छिपे होने की सूचना पर आनंदनगर गयी थी।उसमें छोटू मिश्रा की मां जख्मी हो गयी थी। वहीं फायरिंग के बीच दोनों अपराधी भागने में सफल हो गये थे। पुलिस दोनों की धरपकड़ में जुटी है। इसके लिये टीम बना कर ताबड़तोड़ छापेमारी की जा रही!

मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में सोमवार की देर रात किया गया शव का पोस्टमार्टम

पोस्टमार्टम की पूरी प्रक्रिया की करायी गयी वीडियोग्राफी

आरा। मुठभेड़ के दौरान जख्मी शैल देवी की मौत के बाद सोमवार की देर रात ही शव का सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम करा दिया गया। पुलिस की कड़ी सुरक्षा और मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में रात करीब डेढ़ बजे पोस्टमार्टम किया गया। इस दौरान पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी करायी गयी। इसे लेकर अस्पताल की सुरक्षा भी सख्त कर दी गयी थी।

इस अवसर पर सदर एसडीपीओ पंकज रावत, मुख्यालय डीएसपी राम पुकार सिंह, टाउन थाना इंचार्ज अविनाश कुमार, नवादा थानाध्यक्ष संजीव कुमार और मुफस्सिल थानाध्यक्ष अनिल कुमार काफी संख्या में पुलिस बल के साथ मौजूद थे। शव के पोस्टमार्टम के दौरान महिला के परिजन और रिश्तेदार भी उपस्थित थे। पोस्टमार्टम के बाद शव महिला के रिश्तेदार और परिजनों को सौंप दिया गया।चर्चा है कि पोस्टमार्टम के बाद शव को लेकर परिजन और रिश्तेदार सीधे महिला के गांव रोहतास के मधुकरपुर ले गये।

मुठभेड़ के दौरान शातिर छोटू को भी गोली लगने की चर्चा

पिछले साल एनकाउंटर के बाद पकड़े गये चार अपराधी, तीन को लग चुकी है गोली

Anandnagar Ara आरा शहर के आनंद नगर में सोमवार की शाम पुलिस से मुठभेड़ के दौरान छोटू मिश्रा को भी गोली लगने की चर्चा चल रही है। सूत्रों के अनुसार मुठभेड़ के बाद वह मौके से फरार हो गया। इस दौरान उसने अपना हथियार एक युवक को सौंप दिया। उस युवक द्वारा उसे सुरक्षित ठिकाने तक पहुंचा दिया गया। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है।

बताया जा रहा है कि मूल रूप से रोहतास जिले के दिनारा के मधुकरपुर गांव निवासी जयप्रकाश मिश्र का पुत्र छोटू मिश्रा काफी दिनों से आनंदगर में रहता था। उसके पिता मुंबई में प्राइवेट गार्ड हैं। शहर के मीरगंज में छात्र की हत्या के अलावे अजीमाबाद थाना क्षेत्र के लूट और रोहतास में आनंदनगर इलाके के दो लोगों की हत्या में भी उसका नाम आया था। लूट के मामले में वह बाल पर्यवेक्षण गृह में गया था। एक अगस्त 2018 को बाल पर्यवेक्षण गृह में एक किशोर के साथ अप्राकृतिक यौनाचार का प्रयास किया गया था। इस मामले में छोटू मिश्रा समेत अन्य पर दर्ज किया गया था। उस मामले में उस पर पोस्को की धारा भी लगाई गई थी।

शाॅपिंग मॉल बम कांड सहित अन्य मामलों में मिथिलेश पासवान आरोपित 

आरा। पुलिस से मुठभेड़ के दौरान भाग निकला कोईलवर थाना क्षेत्र का रहने वाला मिथिलेश पासवान भी बम कांड सहित अन्य मामलें में आरोपित रहा है। जानकारी के अनुसार 29 अप्रैल 2016 को रंगदारी के लिये जेल रोड स्थित शाॅपिग मॉल पर बम से हमला किया गया था। उसमें मिथिलेश पासवान का नाम आया था। कुछ दिनों के बाद उसे गिरफ्तार भी कर लिया गया था। उस पर अन्य मामले भी हैं।

deadly bridge in Bihiya – अंग्रेजों के जमाने का गारा-चूना से बना पुराने पुल के पायों पर

भोजपुर से बड़ी खबर: तरारी के पूर्व विधायक से मांगी 50 लाख की रंगदारी

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular