Wednesday, March 3, 2021
No menu items!
Home News Crime कातिलों की खोज में पहुंचे खोजी कुत्ते को चार घंटे बाद भी...

कातिलों की खोज में पहुंचे खोजी कुत्ते को चार घंटे बाद भी नहीं मिला सुराग

Ara Sahar -हत्या क्यों और किसने की? राज खोलना भोजपुर पुलिस के लिये चुनौती

आरा। Ara Sahar सहार के हातिमगंज में शुक्रवार को बालू कारोबारी के परिजनों और ग्रामीणों की मांग को देखते हुये एसपी की पहल पर डॉग स्कॉवयड की टीम भी मौके पर पहुंची। आते ही टीम ने अपना काम शुरू कर दिया। खोजी कुत्ता सुंघते हुये हातिमगंज पुल पार कर सोन नद के किनारे नहर के पट्टी पकड़ कर गया और आगे जा कर बैठ गया। करीब तीन चार घंटे तक खोजी कुता इधर-उधर घुमता रहा।लेकिन कोई ठोस सुराग नहीं मिल पाया। इससे परिजन और लोग काफी निराश दिखे। मौके पर सहार थानाध्यक्ष मनिंदर कुमार, चौरी थाना इंचार्ज पवन कुमार, ईमादपुर थानाध्यक्ष मो. साजिद हुसैन, सिकरहट्टा थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार, चरपोखरी थानाध्यक्ष ओमप्रकाश सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

किसी से कोई विवाद नहीं, फिर इतनी बेरहमी हत्या क्यों

आरा। Ara Sahar बालू कारोबारी की हत्या क्यों और किसने की? इसका राज खोलना पुलिस के लिये एक चुनौती है। क्योंकि परिजन किसी से कोई विवाद होने से इंंकार कर रहे हैं। किसी पर संदेश भी नहीं कर रहे हैं। शव के साथ आरा पहुंचे उसके चाचा सुधीर कुमार ने बताया किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। ऐसे में सवाल उठता है कि दुश्मनी नहीं है, तो फिर इतनी बेरहमी से कत्ल क्यों किया गया। जिस तरीके से हत्या की गयी है, उससे यही लग रहा है कि किसी ने गहरी दुश्मनी निकाली है। बता दें कि पहले रॉड से पिटाई की गयी है और उसके बाद चाकूओं से गोदा गया है। उसके शरीर पर मिले जख्म से ऐसी आशंका जताई जा रही है। बताया जा रहा है कि उसके पूरे शरीर पर चाकू और रॉड के जख्म मिले हैं।हाथ, पैर व पंजरी टूटे हुये हैं। पैर का नस भी कटे होने की आशंका जतायी गयी है। बहरहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है। मोबाइल टावर लोकेशन की भी मदद ली जा रही है। वहीं मृत बालू कारोबारी के मोबाइल की भी सीडीआर भी खंगाली जा रही है। 

दो भाइयों मे छोटा था अमित, घर में कोहराम

आरा। बालू के धंदे से जुड़े अमित कुमार उर्फ छोटू की हत्या से परिवार में कोहराम मचा है। बेटे के वियोग में मां सहित घर के सभी सदस्यों का बुरा हाल था। वह दो भाइयों में छोटा था। उसके परिवार में मां मंजू देवी व एक बड़ा भाई शशी शेखर उर्फ भोला है।घटना के बाद मृतक के घर में कोहराम मच गया है।

एसपी बोलेः गोली से जख्मी युवक जहां घटनास्थल बता रहा है, वहां नहीं चली है गोली

लकडी के प्लाई को काटकर बनाए गए तहखाने से हो रही थी शराब की तस्करी

गंदगी मुक्त मेरा गांव विषय पर चित्रांकन प्रतियोगिता में देश भर में मिला है तीसरा स्थान

भाकपा-माले के सुदामा प्रसाद ने गीता पांडे को महज 272 वोटो से शिकस्त दी थी

अजीमाबाद व नोनउर बाजार से तगादा कर लौट रहे आरा के व्यवसायियों को अपाची बाइक पर सवार तीन अपराधियों ने वारदात को दिया अंजाम

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular