Friday, June 21, 2024
No menu items!
HomeNewsशिक्षित समाज का निर्माण ही मेरे जीवन कर उद्‌देश्य-भगवान दास

शिक्षित समाज का निर्माण ही मेरे जीवन कर उद्‌देश्य-भगवान दास

वि‌द्यालय के चेयरमैन की भगवान दास ने कहा कि शिक्षित समाज का निर्माण ही मेरे जीवन कर उद्‌देश्य है। शिक्षा के मूल उ‌द्देश्यों को प्राप्त करने के लिए मैं निरंतर प्रयासरत रहता हूँ।

BD Public School: वि‌द्यालय के चेयरमैन की भगवान दास ने कहा कि शिक्षित समाज का निर्माण ही मेरे जीवन कर उद्‌देश्य है। शिक्षा के मूल उ‌द्देश्यों को प्राप्त करने के लिए मैं निरंतर प्रयासरत रहता हूँ।

  • हाइलाइट :- BD Public School
    • बीडी पब्लिक स्कूल का 26 वां बार्षिकोत्सव
    • शिक्षा के निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करना हमारे विद्यालय का उ‌द्देश्य-राजेश राजमणि

आरा। शहर के नवादा स्थित बीडी पब्लिक स्कूल का 26 वां बार्षिकोत्सव सोमवार को धूमधाम से मना। कार्यक्रम की शुरुआत स्कूल के चेयरमैन भगवान दास, कमला देवी तथा बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के सदस्य रीता कुमार, डॉ. उमेश कुमार, मुकेश कुमार, डॉ. मनीष कुमार, अर्चना कुमार एवं वि‌द्यालय के प्राचार्य राजेश राजमणि ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर वि‌द्यालय के चेयरमैन की भगवान दास ने कहा कि शिक्षित समाज का निर्माण ही मेरे जीवन कर उद्‌देश्य है। शिक्षा के मूल उ‌द्देश्यों को प्राप्त करने के लिए मैं निरंतर प्रयासरत रहता हूँ।

डॉ. उमेश कुमार ने कहा कि शिक्षा का दायरा बहुत व्यापक है। शिक्षा के साथ-साथ सांस्कृतिक विकास भी अति आवश्यक है। वही मुकेश कुमार ने बच्चो का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि बच्चे देश के भविष्य हैं, ऐसे में शिक्षक को अपने दायित्व एवं कर्तव्य के निर्वहन में सजग रहना चाहिए, क्योंकि किसी भी देश कर भविष्य इस बात पर निर्भर करता है कि उसका भविष्य निर्माता कैसा है। डॉ. मनीष कुमार ने शिक्षा एवं संसकृति कार्यक्रम के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा कि कोई भी विद्यालय अपने शैक्षणिक कार्य के लिए जाना जाता है, मुझे इस बात की खुशी है कि इस वि‌द्यालय ने शिक्षा के क्षेत्र में अपना एक लकीर खींचा है।

प्राचार्य राजेश राजमणि ने गत वर्ष की उपलब्धियों को रेखांकित करते हुए नए सत्र की योजनाओं से अभिभावक को अवगत कराया। उन्होंने कहा कि शिक्षा के निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करना हमारे विद्यालय का उ‌द्देश्य है। शैक्षणिक उद्‌देश्यों की प्राप्ति में हमारा वि‌द्यालय निरंतर सफल रहा है। शिक्षा के क्षेत्र में उदाहरण बनना हमरी पहली प्राथमिकता है। कार्यक्रम में बच्चों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। कला के हर क्षेत्र से बच्चो के ‌द्वारा दर्शनीय प्रस्तुति की गई। वार्षिकोत्सव का सांस्कृतिक कार्यक्रम से “कलर्स ऑफ इंडिया” पर केन्द्रित था। देश के विभिन्न कला संस्कृतियों की इस कार्यक्रम के जरिए प्रस्तुत किया गया। विविधता में एकता हमारी पहचान है।

कार्यक्रम की शुरुआत गणेश वंदना से की गई। उसके बाद कला के विभिन्न आयामों को संजोते हुए जाट जटिन होली, पंजाबी गाने बिहू नृत्य, घूमर एवं डांडिया जैसे कार्यक्रम को प्रस्तुत किया गया। बोर्ड के सदस्य अर्चना कुमार ने धन्यवाद जापन करते हुए सहयोग के लिए सभी अभिभावकों, वि‌द्यालय के सभी शिक्षको एवं कर्मियों के प्रति अभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम की सफलता का श्रेय सबको जाता है। मेरा सहयोग इस विद्यालय को हमेशा मिलता रहेगा।

कार्यक्रम को सफल बनाने में वि‌द्यालय के शिक्षक रामकुमार, ओम प्रकाश, दिलीप कुमार मिश्रा, संजय कुमार मिश्रा, संजय सिंह, राजकुमार राय, पंकज तिवारी, नीरज कुमार, राहुल श्रीवास्तव, सतीश मुन्ना, शिक्षिकाओं में संजू सिंह, सविता चौहान, सीमा कुमारी, अनिता सिंह, लक्ष्मी देवी, बीना देवी, शशि गुप्ता, पूनम कुमारी, पूनम पाठक, रिंकी सिंह, आभा चौबे, शगुफ्ता एवं राजनंदनी आदि की अहम भूमिका रही।

- Advertisment -
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो

Most Popular