Tuesday, July 27, 2021
No menu items!
Homeअन्यचर्चित खबरचोरी की 15 बाइक के साथ गिरोह के सरगना सहित तीन सदस्य...

चोरी की 15 बाइक के साथ गिरोह के सरगना सहित तीन सदस्य गिरफ्तार

Bike Chor Gang-बाइक चोर गिरोह के फरार चौथे सदस्य की गिरफ्तारी को चल रही छापेमारी

भोजपुर पुलिस की सफलता, बड़े बाइक चोर गिरोह का खुलासा

टाउन, उदवंतनगर, बड़हरा थाना क्षेत्र से बरामद की गयी सभी बाइक

आरा। भोजपुर पुलिस की टीम ने बाइक चोर गिरोह का खुलासा करते हुये तीन चोरों को गिरफ्तार किया है। इन तीनों की निशानदेही पर अलग-अलग जगहो से चोरी की 15 बाइक भी बरामद की गयी है। गिरफ्तार बाइक चोरों में नगर थाना क्षेत्र के मीरगंज मोहल्ला निवासी शेखर कुमार, प्राण कुमार और कृष्णागढ़ थाने के गुंडी गांव निवासी अंजनी कुमार यादव हैं। हालांकि गिरोह का एक अन्य सदस्य भागने में सफल रहा। उसकी पहचान छोटू के रूप में की गयी है। शेखर कुमार गिरोह का मुख्य सरगना है। जबकि प्राण कुमार और छोटू सक्रिय सदस्य हैं। वहीं अंजनी बाइक बेचने का काम करता है।

खबरे आपकी – एसपी राकेश कुमार दूबे ने मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस कर जानकारी दी। उन्होंने बताया कि शहर सहित जिले में वाहन चोरी की काफी बढ़ गयी थी। इन घटनाओं की रोकथाम और संलिप्त गिरोह एवं अपराधियों की पहचान करते हुये उनकी गिरफ्तारी के लिये सदर एसडीपीओ पंकज कुमार रावत के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। टीम द्वारा तकनीकी क्षमता और अपने गुप्तचरों की मदद से गैंग के मुख्य सरगना मीरगंज निवासी शेखर कुमार को चोरी की बाइक के साथ गिरफ्तार किया। उसकी निशानेदही पर इसके साथी और गिरोह के सक्रिय सदस्य प्राण कुमार और अंजनी कुमार यादव को गिरफ्तार कर लिया गया। बाद में तीनों की निशानदेही पर जिले के अलग-अलग जगहों से चोरी की 15 बाइक बरामद की गयी। एसपी ने बताया कि बरामद बाइक की सत्यापन की जा रही है। पकड़े गये तीनों चोरों के आपराधिक इतिहास के बारे में भी पता किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि फरार चल रहे छोटू की गिरफ्तारी के लिये भी छापेमारी की जा रही है।

बेच जाने के पहले ही पुलिस को लग गयी भनक और मिल गयी 15 बाइक
पुलिस के हत्थे चढ़ा बाइक चोर गिरोह Bike Chor Gang शहर सहित पूरे जिले में चोरी की घटना को अंजाम देता था। चोरी के बाद सुनियोजित तरीके से बाइक को बेच दी जाती थी। चार से पांच हजार में बाइक बेच दी जाती थी। बरामद सभी बाइक की भी बेचने की तैयारी चल रही थी। लेकिन उससे पहले पुलिस को भनक लग गयी और बाइक बरामद कर ली गयी। एसपी राकेश कुमार दूबे ने बताया कि गैंग के सदस्य चोरी करने के बाद सिस्मेटिक ढंग से बाइक बेच देते थे। शेखर, प्राण और छोटू चोरी करते थे, जबकि अंजनी यादव बाइक बेचने का काम करता था। बरामद की गयी सभी 15 बाइक भी बेचने के लिये अलग-अलग जगहों पर छुपाकर रखी गयी थी।

Bhojpur police success, big bike thief gang exposed

छापेमारी दल को किया जायेगा पुरस्कृत
चोरी की बाइक बरामद करने वाले अफसरों और जवानों को पुरस्कृत किया जाएगा। एसपी राकेश कुमार दुबे ने बताया कि जिले में पहली दफा इतनी बड़ी संख्या में चोरी की बाइक बरामद हुई है। यह एक बड़ी सफलता के साथ काफी प्रशंसनीय कार्य है। इसके लिए टीम के सभी पुलिस अफसरों व कर्मियों को पुरस्कृत किया जाएगा। छापेमारी टीम में नवादा थानाध्यक्ष संजीव कुमार, नगर थानाध्यक्ष शंभू भगत, डीआईयू के दारोगा सुदेह कुमार, अवधेश कुमार, गजराजगंज ओपी अध्यक्ष सुभाष तिवारी, उदवन्तनगर थाना इंचार्ज ज्योति कुमारी और कृष्णगढ़ थानाध्यक्ष अरविन्द कुमार शामिल थे।

कहां-कहां से बरामद हुई बाइक
चोरी के बाद बाइक उदवंनगर थाना क्षेत्र के असनी गांव से 5, बड़हरा के मटुकपुर से 2, कृष्णगढ के गुंडी से 3, टाउन थाना क्षेत्र के कसाब टोला और मिल्की मोहल्ले में पांच बाइक सुरक्षित ठिकानों पर रखी गयी थी। पुलिस ने इन सभी बाइक को बरामद कर लिया है। एसपी ने बताया कि तीनों की निशानदेही पर अभी भी छापेमारी की जा रही है। 

अब चेकिंग के दौरान बाइक के ऑनर की भी की जायेगी पहचान
बाइक चोरी रोकने और चोरी की मोटरसाइकिल बरामदगी के लिये पुलिस अब एक नयी पहल शुरू करेगी। इसके तहत चेकिंग के दौरान बाइक के असली ऑनर की पहचान भी की जायेगी। एसपी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि चेकिंग के दौरान पुलिस अपने संसाधनों के जरिये बाइक के ऑनर का पता लगायेगी। ताकि बाइक की सही जानकारी मिल सके। बताते चलें कि शहर सहित पूरे जिले में Bike Chor Gang बाइक चोरों का आतंक है। मौका मिला नहीं कि चोर बाइक ले उड़ते हैं। अब तो गांवों में शादी-विवाह में भी बाइक चोरी की घटना होने लगी है।

पढ़ें- किन्नर बहु अपने ससुराल पहुंची तो घर वालों के होश उड़ गए,नंदनी को देखने उमड़ी गांववालों की भीड़

- Advertisment -
AD
Ad
Akash Yadav Murder Shahpur
Akash Yadav Murder Shahpur Bihar

Most Popular