Sunday, June 23, 2024
No menu items!
HomeNewsबिहारअंतरजिला वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़: चोरी की चारपहिया वाहनों के साथ...

अंतरजिला वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़: चोरी की चारपहिया वाहनों के साथ पांच अपराधी गिरफ्तार

Criminals of vehicle thief gang arrested: नालंदा के चंडी निवासी ज्योति कुमार, भोजपुर के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के जमीरा गांव निवासी सुधीर कुमार, संदेश थाना क्षेत्र के फतेहपुर गांव निवासी प्रिंस कुमार उर्फ बिट्टू, चांदी थाने के नरबीरपुर गांव निवासी गोलू शर्मा और गड़हनी थाने के अगिआंव बाजार निवासी शिवजी कुमार शामिल हैं। इनका कनेक्शन नालंदा और पटना जिले के वाहन चोर गिरोह से जुड़ा है।

  • हाइलाइट
    • नारायणपुर थाना क्षेत्र के वरूणा गांव के पास शुक्रवार की रात पकड़े गए पांचों वाहन चोर
    • सहार व नारायणपुर इलाके से चोरी गयी दो पिकअप और चरपोखरी से चोरी गयी एक बोलेरो बरामद
    • अपराधियों के पास से पांच मोबाइल और चोरी में इस्तेमाल एक कार भी किया गया जब्त
    • पटना और नालंदा से जुड़ा है वाहन चोर गिरोह का तार, पूरा कनेक्शन खंगाल रही पुलिस

Criminals of vehicle thief gang arrested आरा: भोजपुर पुलिस द्वारा एक अंतरजिला वाहन चोर गिरोह का खुलासा करते हुए पांच अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, उनकी निशानदेही पर भोजपुर के अलग-अलग थाना क्षेत्रों से चोरी गयी दो पिकअप और एक बोलेरो बरामद की गयी है। चोरी की घटना में इस्तेमाल एक आल्टो कार और पांच मोबाइल भी जब्त किया गया है। सभी को नारायणपुर थाना क्षेत्र के वरूणा के समीप से गिरफ्तार किया गया। उनमें नालंदा के चंडी निवासी ज्योति कुमार, भोजपुर के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के जमीरा गांव निवासी सुधीर कुमार, संदेश थाना क्षेत्र के फतेहपुर गांव निवासी प्रिंस कुमार उर्फ बिट्टू, चांदी थाने के नरबीरपुर गांव निवासी गोलू शर्मा और गड़हनी थाने के अगिआंव बाजार निवासी शिवजी कुमार शामिल हैं। इनका कनेक्शन नालंदा और पटना जिले के वाहन चोर गिरोह से जुड़ा है। भोजपुर में वाहन चोरी करने के बाद उसे नालंदा और पटना के गिरोह को औने-पौने दाम पर बेच दिया जाता है। इसमें नालंदा के चंडी निवासी ज्योति कुमार की मुख्य भूमिका रहती थी। पांचों द्वारा पूछताछ में यह बात स्वीकार भी की गयी है। एसपी प्रमोद कुमार यादव द्वारा शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस में यह जानकारी दी गयी।

उन्होंने बताया कि कुछ दिनों से जिले चार पहिया वाहन चोरी करने वाला गिरोह सक्रिय था। गिरोह द्वारा जगदीशपुर, चरपोखरी, सहार और नारायणपुर थाना क्षेत्र में चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया गया था। अब तक सात से आठ वाहनों की चोरी कर ली गयी थी। उसे लेकर अपराधियों की गिरफ्तारी और वाहनों की बरामदगी को लेकर एसडीपीओ राहुल सिंह के नेतृत्व में एक टीम गठित की गयी थी। टीम लगातार अपराधियों के पीछे लगी थी। उसी क्रम में शुक्रवार की रात टीम को आरा-सहार रोड़ पर नारायणपुर थाना क्षेत्र में अपराधियों को होने की सूचना मिली। उसके बाद टीम द्वारा छापामारी कर अपराधियों को आल्टो कार के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने ने बताया कि चोरी के अन्य वाहनों को भी जल्द बरामद कर लिया जाएगा। गिरफ्तार वाहन चोरों का पटना व नालंदा से कनेक्शन सामने आया है। उन गिरोहों के की भी जांच की जा रही है। वाहन चोरी में उन गिरोह के सदस्यों की संलिप्तता आने पर गिरफ्तारी की जायेगी। पटना और नालंदा पुलिस को भी सूचना दे दी गयी है।

Criminals of vehicle thief gang arrested: चोरी की घटना को अंजाम देने जाने के दौरान पुलिस को हत्थे चढ़ गये पांचों वाहन चोर

एसपी प्रमोद कुमार ने बताया कि वाहन चोरी की घटनाओं पर रोक लगाने को लेकर पुलिस टीम अपराधियों की गिरफ्तारी को लगातार छापेमारी कर रही थी। उसी क्रम में शुक्रवार की रात सूचना मिली कि गिरोह आरा-सहार रोड पर नोनउर गांव के पास वाहन की चोरी करने वाले हैं। उसके लिए गिरोह के सदस्य कार से वरूणा से मुजफ्फरपुर गांव की ओर जा रहे हैं। उस आधार पर तत्काल पीरो एसडीपीओ के नेतृत्व में सहार थानाध्यक्ष शिवेंद्र कुमार, चरपोखरी थानाध्यक्ष संजय कुमार सिन्हा और नारायणपुर थानाध्यक्ष राकेश कुमार द्वारा पुलिस बल के साथ छापेमारी शुरू की गयी। उस दौरान वरूणा मुसहर टोली के समीप घेराबंदी कर आल्टो और एक पिकअप के साथ सवार चार अपराधियों को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में वाहन चोरी की बात सामने आयी। उसके बाद उनकी निशानदेही पर संदेश के फतेहपुर गांव निवासी प्रिंस कुमार उर्फ बिट्टू को भी गिरफ्तार किया गया। फतेहपुर गांव से उसकी निशानदेही पर सहार इलाके से चोरी गयी एक अन्य पिकअप और चरपोखरी से चोरी बोलेरो बरामद की गयी। एसपी ने बताया कि पूछताछ में पांचों अपराधियों द्वारा जगदीशपुर सहित अन्य इलाकों से चार पहिया वाहनों की चोरी किये जाने की बात स्वीकार की गयी है। चोरी के वाहन खरीदने वालों के नाम भी बताये गये हैं। उन सभी की गिरफ्तारी और चोरी गये वाहनों की बरामदगी को छापेमारी की जा रही है। अन्य चोरी गये वाहनों को भी बहुत जल्द बरामद कर लिया जाएगा।

दो से पांच मिनट में चारपहिया वाहन उड़ा ले जाते थे गिरोह के सदस्य, गलत काम में होता था इस्तेमाल
पुलिस के हत्थे चढ़े वाहन चोर गिरोह के सदस्य काफी शातिर हैं। कार से घूमने वाले गिरोह के सदस्य महज दो से पांच मिनट में चारपहिया वाहन उड़ा लेते थे। चोरी करने के बाद वाहनों को पटना और नालंदा जिले में बेच देते थे। उन वाहनों का इस्तेमाल गलत काम में किया जाता था। पांचों से पूछताछ के बाद एसपी द्वारा यह जानकारी दी गयी। उन्होंने बताया कि अपराधी कार से जिले के अलग-अलग इलाकों में घूमते रहते थे। उस दौरान रात के अंधेरे में सुनसान और मौके का फायदा उठा कर महज दो से पांच मिनट में लॉक तोड़ गाड़ी स्टार्ट कर लें भागते थे। उसी क्रम में अपराधी 25 जुलाई की रात चरपोखरी थाने के गड़हनी बाजार निवासी सैनूल हक की दरवाजे पर खड़ी बोलेरो, 27 जुलाई की रात नारायणपुर निवासी सूरज प्रताप सिंह की पिकअप और 28 जुलाई की रात सहार के एकवारी गांव निवासी जीतेंद्र प्रसाद की पिकअप की चोरी कर ली गयी थी।

सीसीटीवी फुटेज में दिखी थी आल्टो कार
नारायणपुर निवासी सूरज प्रताप सिंह की पिकअप चोरी में आल्टो कार देखी गयी थी। सूरज प्रताप सिंह की ओर से दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है कि वह 31 मई के बाद वह आरा में रहने लगे थे। उनकी पिकअप नारायणपुर स्थित घर के सामने खड़ी थी। 27 जुलाई को वह नारायणपुर आये तो, उनकी पिकअप नहीं थी। तब उन्होंने सीसीटीवी फुटेज खंगाला, तो सिल्वर कलर की आल्टो कार सवार कुछ लोगों द्वारा पिकअप चोरी कर आरा की ओर ले जाते देखा था। उसके बाद से पुलिस आल्टो कार की पहचान और धरपकड़ में जुटी थी।

RAVI KUMAR
RAVI KUMAR
बिहार के आरा (शाहपुर ) निवासी रवि कुमार एक भारतीय पत्रकार है। रवि कुमार खबरें आपकी वेबसाईट के समाचार प्रकाशक एवं न्यूज पोर्टल के प्रमुख लोगों में से एक है।
- Advertisment -
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो
Ara Crime - CCTV of Firing - आरा में फायरिंग का सीसीटीवी वीडियो

Most Popular