Saturday, September 30, 2023
No menu items!
HomeNewsबिहारबड़े और गंभीर कांडों में सीनियर अफसर अपने नेतृत्व में करें छापेमारी:...

बड़े और गंभीर कांडों में सीनियर अफसर अपने नेतृत्व में करें छापेमारी: डीजीपी

  • शाहाबाद रेंज के अफसरों संग बैठक में डीजीपी का आदेश
  • प्राथमिकी दर्ज करते समय अभियुक्तों के साथ संदिग्धों का कॉलम जोड़ने का निर्देश
  • बोले: अपराधियों को क्राइम करने का मौका नहीं मिलना चाहिए
  • अफसरों से कहा: आप तय करें कि आपको बैठना है या अपराधियों को दौड़ाना है
  • बोले: बैठने से नहीं चलेगा काम, अपराधी भागते रहेंगे तो नहीं होगा अपराध
  • केस डिस्पोजल अपराधियों गिरफ्तारी की गति बढ़ाने का दिया निर्देश

DGP order: बिहार के पुलिस महानिदेशक आर एस भट्टी शाहाबाद रेंज के जिलों के अपराध का हाल जानने गुरुवार को आरा पहुंचे।‌ उस दौरान डीजीपी ने शाहाबाद रेंज के डीआईजी सहित चारों जिलों के अफसरों संग बैठक कर अपराध और कांड डिस्पोजल की समीक्षा की। उन्होंने क्राइम कंट्रोल के साथ अपराधियों पर नकेल कसने का अफसरों को मंत्र भी दिया। कहा कि गंभीर कांडों में गिरफ्तारी के लिए सीनियर अफसर खुद अपने नेतृत्व में छापेमारी करें।

प्राथमिकी दर्ज करते समय अभियुक्त के साथ संदिग्ध का कॉलम भी प्रविष्टि करने का भी निर्देश दिया। मीटिंग में डीजीपी ने साफ तौर पर कहा कि परिवर्तन दिखना चाहिए। किसी भी हाल में अपराधियों को क्राइम करने का मौका नहीं दें। अपराधियों को इतना दौड़ायें कि अपराध करने का मौका नहीं मिले। अगर अपराधी बैठे रहेंगे तो खुराफात करते रहेंगे। आप बैठियेगा तो वह आपको दौड़ाते रहेंगे। ऐसे में आप उन्हें दौड़ाते रहिए। अब आप तय कीजिए कि आपको क्या करना है।

शाहपुर पैक्स ने बदली किसानों की किस्मत
शाहपुर पैक्स ने बदली किसानों की किस्मत

डीजीपी द्वारा केस के डिस्पोजल और अपराधियों की गिरफ्तारी की गति बढ़ाने का निर्देश दिया। कहा कि अनुंधाध में कोई दिक्कत हो तो बताइये। उसे दूर किया जायेगा। बैठक के बाद डीजीपी पुलिस लाइन गये। वहां पुलिस सभा की। उस क्रम में वे एम एमपी भी गये और घूम घूमकर जायज लिया। इससे पहले आरा पहुंचने पर एसपी ऑफिस में डीजीपी को गॉड ऑफ ऑनर दिया गया। बैठक में शाहाबाद के डीआईजी नवीन चंद्र झा और भोजपुर एसपी प्रमोद कुमार के अलावे, बक्सर, रोहतास और भभुआ के एसपी सहित चारों जिलों के डीएसपी भी मौजूद थे।

DM – jansamvad program: शाहपुर प्रखंड के सरना पंचायत में जिला प्रशासन के द्वारा सरकार के निर्देशानुसार जनसंवाद कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान जनता के समस्याओं व उनके सवालों से रूबरू हुए भोजपुर जिला पदाधिकारी राजकुमार।
DM – jansamvad program: शाहपुर प्रखंड के सरना पंचायत में जिला प्रशासन के द्वारा सरकार के निर्देशानुसार जनसंवाद कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान जनता के समस्याओं व उनके सवालों से रूबरू हुए भोजपुर जिला पदाधिकारी राजकुमार।

DGP order: वैध लाइसेंस के अवैध प्रयोग पर कैंसिलेशन का प्रस्ताव भेजने का निर्देश

डीजीपी बनने के बाद पहली बार आरा पहुंचे आरएस भट्टी द्वारा शाहाबाद के अफसरों के साथ मैराथन बैठक की गयी। करीब छह घंटे चली बैठक में डीजीपी ने हर बिंदु की समीक्षा की। उस दौरान थानों की कार्यप्रणाली को और बेहतर बनाने की चर्चा की। आने वाले त्योहारों को देखते हुए निरोधात्मक और बंध पत्र की कार्रवाई करने, अवैध एवं लाइसेंसी हथियारों के दुरुपयोग को देखते हुए ऐसे लोगों को चिन्हित करते हुए उनके खिलाफ विधि सम्मत कार्रवाई करने का आदेश दिया। वैध लाइसेंस के अवैध प्रयोग करने पर उनका कैंसिलेशन के लिए प्रस्ताव भेजने का भी डीजीपी की ओर से निर्देश (DGP order) जारी किया गया। कहा कि थानों में प्राथमिकी के साथ-साथ जनता की अन्य शिकायतों को त्वरित रूप से सुनते हुए तुरंत तथ्य अनुसार कार्रवाई की जाये।

पुलिस सभा कर्मियों से खुलकर की बात, कहा: कोई भी दिक्कत हो तो बतायें

डीजीपी ने चारों जिलों के एसपी और डीएसपी स्तर के अफसरों संग अलग-अलग बैठक की। पहले डीआईजी और चारों जिलों के एसपी के साथ समीक्षा बैठक की। उसके बाद सभी जिलों के डीएसपी स्तर के अफसरों के साथ मीटिंग की। बाद में पुलिस सभा की। उस दौरान डीजीपी ने अठसरों के साथ खुलकर बात की। कहा कि कोई भी दिक्कत हो तो उन्हें बताइये। उसका निरिकरण किया जायेगा। उन्होंने पुलिस कर्मियों से संबंधित सामूहिक समस्याओं के विषय के बारे में जानकारी ली। वहीं तमाम पुलिसकर्मियों ने अपनी बात डीजीपी के सामने रखी। उस दौरान कुछ त्वरित निस्तारण के निर्देश दिए गए। साथ ही कुछ मांगों को मुख्यालय या नीतिगत स्तर पर हल करने का वादा किया गया।

मौके पर साथ डीजीपी द्वारा तमाम पुलिसकर्मियों को ईमानदारी और बेहतर व्यवहार के साथ अपनी ड्यूटी करने का निर्देश दिया गया। साथ ही जनता के साथ बेहतर संबंध व विश्वास बनाए रखने की भी निर्देश दिया गया। वहीं अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया। साथ ही उनके द्वारा पुलिस की कार्यप्रणाली को और बेहतर बनाने और जनता के बीच पुलिस का विश्वास और ज्यादा से ज्यादा बढ़ाने को लेकर महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश भी दिया गया।

- Advertisment -

Most Popular