Thursday, February 25, 2021
No menu items!
Home मनोरंजन नर्तक राजा ने घुंघरुओं की झंकार से दर्शकों को किया मंत्रमुग्ध

नर्तक राजा ने घुंघरुओं की झंकार से दर्शकों को किया मंत्रमुग्ध

Dumraon Gharana ध्रुवपद परम्परा के बैनर तले आयोजित हुआ सोलह दिवसीय संगीत सम्मेलन

आरा। डुमरांव घराना (Dumraon Gharana) ध्रुवपद परम्परा के बैनर तले आयोजित सोलह दिवसीय संगीत सम्मेलन में कथक नर्तक राजा कुमार ने अपने घुंघरुओं की झंकार से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। राजा कुमार ने कथक की शुरुआत एकताल में निबद्ध रचना जय जय जगजननी देवी से की। राजा इस देवी स्तुति में दुर्गा व काली की रूप को दिखाया। इसके बाद राजा ने झपताल में शुद्ध कथक प्रस्तुत हुए उपज, उठान, आमद, टुकड़ा, तोड़ा, परण, गत निकास प्रस्तुत कर वाहवाही लूटी।

वहीं राजा कुमार ने कार्यक्रम के अंत में घुंघरू और तबले की युगलबंदी से सबका मन मोह लिया। राजा के घुंघरू व सूरज कांत पांडेय के तबले के सवाल जवाब काफी आकर्षक रही। रोहित कुमार ने स्वरों से रंग भर दिया। डुमरांव घराने (Dumraon Gharana) के संचालक पंडित रामजी मिश्र ने कहा कि शास्त्रीय संगीत नृत्य के क्षेत्र में युवाओं का रुझान बढ़ा है। आज कई युवा कलाकार अपनी प्रतिभा से शास्त्रीय कलाओ को नया आयाम दे रहे हैं। गुरु बक्शी विकास के शिष्य राजा कुमार बिहार की नृत्य परम्परा के प्रतिनिधि के रूप में स्थापित हो रहे हैं। इस लाईव कंसर्ट में लीला सिंह, अरूण सहाय, विमला देवी, अमित कुमार, सोनम कुमारी, हर्षिता विक्रम समेत कई लोग उपस्थित थे।

Ara Assembly – जनसम्पर्क के दौरान बोली आरा की निर्दलीय प्रत्याशी

देखें स्वास्थ्य संबंधित खबरें – आरा शहर के चंदवा स्थित अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित हॉस्पिटल

देखें राजनीति जगत की खबरें – किस नेता को जीत का मंत्र दिया झारखंड के दिग्गज नेता सरयू राय ने

देखें चर्चित खबरें – आरा में का बा…टूटल बाटे सड़क इन्हवा जाम में छूटत परान बा’

इकलौते सुरक्षित विधानसभा में जनता का भरोसा जीतेंगे प्रभु या मनोज को मिलेगी मंजिल

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular