Friday, April 19, 2024
No menu items!
HomeNewsबिहारकुख्यात गैंगस्टर रंजीत चौधरी और उसके भतीजे समेत तीन के खिलाफ प्राथमिकी...

कुख्यात गैंगस्टर रंजीत चौधरी और उसके भतीजे समेत तीन के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

जख्मी के पिता के बयान पर नवादा थाने में दर्ज कराई गई प्राथमिकी, तीन अज्ञात भी आरोपित

  • Ranjit Chaudhary हाइलाइट :- खबरे आपकी हत्या के आरोपित को गोली मारने का मामला:
    • जख्मी के पिता के बयान पर नवादा थाने में दर्ज कराई गई प्राथमिकी, तीन अज्ञात भी आरोपित
    • कोर्ट से बाहर निकलते ही बाइक स्टैंड के पास रंजीत और उसके साथियों ने कर दी फायरिंग
    • दो से तीन राउंड की गयी थी फायरिंग, घटनास्थल से पुलिस ने जब्त किए दो खोखे और एक पिलेट
    • प्राथमिकी दर्ज करने के बाद आरोपितों की धरपकड़ में जुटी टीम, हर ठिकानों पर की जा रही छापेमारी

आरा। शहर के सिविल कोर्ट के गेट पर स्थित बाइक स्टैंड के पास हत्या के एक आरोपित को गोली मारने के मामले प्राथमिकी दर्ज करा दी गयी है। उदवंतनगर थाना क्षेत्र के बेलाउर गांव निवासी गौतम चौधरी के बयान पर दर्ज प्राथमिकी में उसी गांव के कुख्यात गैंगस्टर रंजीत चौधरी (Ranjit Chaudhary) और उसके भतीजे सहित मनीष चौधरी सहित तीन लोगों को नामजद किया गया है। तीन अन्य अज्ञात लोगों को भी आरोपित किया गया है। वहीं तीसरा नामजद आरोपित धनगाई थाना क्षेत्र के दलीपपुर गांव निवासी सुशील साह है। गौतम चौधरी की ओर से सुशील साह पर अपने पिता गोपाल चौधरी को गोली मारने का आरोप लगाया गया है। रंजीत चौधरी और मनीष चौधरी पर भी फायरिंग करने का आरोप लगाया गया है।


पढ़ें :- दीपू हत्याकांड : जेल में बंद कुख्यात रंजीत चौधरी और भतीजे प्रकाश सहित छह पर प्राथमिकी

डॉ. शैलेंद्र कुमार
Holi Anand
Dr. Prabhat Prakash
Vishvaraj Hospital, Arrah
डॉ. शैलेंद्र कुमार
Holi Anand
Dr. Prabhat Prakash
Vishvaraj Hospital, Arrah

प्राथमिकी में गौतम चौधरी की ओर से कहा गया है कि 29 फरवरी को वह अपने पिता, गांव के ही सुरेश सिंह और रविशंकर मौआर के साथ सिविल कोर्ट के एडिशनल सेशन जज अष्टम के कोर्ट में तारीख पर गया था। न्यायालय से डेट मिलने के बाद समय करीब 1:10 बजे दोपहर में अपने घर जाने के लिए कोर्ट से बाहर निकले। तभी बाइक स्टैंड गेट के पास अचानक उन लोगों पर रंजीत चौधरी, मनीष चौधरी और सुशील साह द्वारा हत्या की नीयत से घेर कर फायरिंग की जाने लगी। उसी दौरान सुशील साह द्वारा उसके पिता की कनपटी में गोली मार दी गयी। उससे उसके पिता वहीं गिर पड़े। उस दौरान रंजीत चौधरी, मनीष चौधरी और तीन अज्ञात व्यक्ति भी अपने हथियार से फायरिंग कर रहे थे। तब वे लोग किसी तरह भाग कर कोर्ट के अंदर गए, जिससे उनलोगों की जान बच गई। उसके बाद पुलिस की मदद से उसके पिता जख्मी हालत में इलाज के लिए डा. विकास सिंह के हॉस्पिटल ले जाया गया।

पढ़ें :- बूटन चौधरी और रंजीत चौधरी के आपसी वर्चस्व के विवाद में मारी गई गोली

प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पुलिस आरोपितों की धरपकड़ में जुटी है। उसे लेकर आरोपितों के हर ठिकानों पर छापे की जा रही है। बता दें कि गुरुवार की दोपहर करीब एक बजे कोर्ट के गेट पर अपराधियों की ओर केस के सिलसिले में कोर्ट गये बेलाउर गांव निवासी गोपाल चौधरी को गोली मार दी गयी थी। तब दो से तीन राउंड फायरिंग की गयी थी। मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा दो खोखे और एक पिलेट भी बरामद किया गया था।

पुलिस के अनुसार गोपाल चौधरी 2016 में बेलाउर गांव निवासी रंजीत चौधरी (Ranjit Chaudhary) के भाई हेमंत चौधरी की हत्या में आरोपित हैं। उसी हत्या के प्रतिशोध और रंजीत चौधरी एवं बूटन चौधरी की अदावत में गोपाल चौधरी को गोली मारी गई थी। घटना के बाद मौके पर पहुंचे एसपी प्रमोद कुमार यादव द्वारा आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर एएसपी के नेतृत्व में टीम गठित कर दी गई थी। उसके बाद से ही टीम लगातार छापेमारी कर रही है। उन्होंने बताया कि जल्द ही अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

- Advertisment -
Vikas singh
Vikas singh
sambhavna
aman singh

Most Popular

Don`t copy text!