Tuesday, March 2, 2021
No menu items!
Home अन्य चर्चित खबर भोजपुर में रोड जाम करने वालों पर महिला सिपाही से छेड़खानी और...

भोजपुर में रोड जाम करने वालों पर महिला सिपाही से छेड़खानी और दलित उत्पीड़न का केस दर्ज

Gadhani Road Jam पत्रकार और उनके दोस्त की मौत के बाद रोड जाम करने वालों पर कसा पुलिस का शिकंजा

खबरे आपकी Gadhani Road Jam भोजपुर जिले में सड़क हादसे में पत्रकार सहित दो लोगों की मौत के बाद रोड जाम करने वालों पर पुलिस का शिकंजा कसने लगा है। इस मामले में सड़क जाम करने वालों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी है। उसमें महिला सिपाही के साथ छेड़खानी, एससी-एसटी एक्ट, पथराव, सरकारी काम में बाधा पहुंचाने, कागजात फाड़ने और अफसरों के साथ गाली-गलौज करने का आरोप लगाया गया है।

प्राथमिकी में 40-50 अज्ञात लोगों को भी आरोपित किया गया

पूर्व मुखिया, प्रमुख, भाजपा व जदयू नेता और पूर्व प्रमुख सहित 16 नामजद आरोपित

थानाध्यक्ष संतोष रजक के बयान पर दर्ज केस में 16 लोगों को नामजद किया गया है। 40-50 अज्ञात लोगों को भी आरोपित किया गया है। उसमें पूर्व मुखिया विनोद सिंह, भाजपा नेता अरुण सिंह, जदयू नेता चिकू सिंह, पूर्व प्रमुख बबलू सिंह परमार, राजेश सिंह, आनंद बिहारी सिंह, चंदन सिंह, शंकर गोप, पिंटू सिंह, हरेंद्र सिंह, गुड्‌डू सिंह, हरिश सिंह, लालजी सिंह, प्रदीप सिंह ओर सुधीर सिंह को नामजद किया गया है।

डॉग स्कॉवयड की टीम द्वारा साढ़े तीन घंटे तक की जाती रही जांच

कहा गया है कि रोड जाम के दौरान वरीय अधिकारी के साथ लोगों को समझा रहे थे। तभी नामजद आरोपितों द्वारा गालीगलौज की जाने लगी। इस दौरान जाति सूचक शब्द का प्रयोग किया गया। इसी क्रम में एक महिला सिपाही के साथ छेड़खानी की गयी। उसका हाथ पकड़ कर खींचा गया और धक्का देकर गिरा दिया गया। बीच-बचाव करने गये तीन अन्य अफसरों के साथ भी गाली-गलौज की गयी।

बता दें कि बीते गुरुवार की रात बगवां रेलवे क्रॉसिंग के पास पहले से खड़े कंटेनर में कार टकरा गयी थी। उसमें पत्रकार कुणाल दीप और उनके दोस्त गौरीशंकर शुक्ला की मौत हो गयी थी। उसके बाद लोगों ने रोड जाम किया था।

Loot in Ara : अपराधियों की धरपकड़ में जुटी पुलिस, पहचान को ले खंगाल रही सीसीटीवी

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular