Monday, March 4, 2024
No menu items!
Homeबिहारआरागुरु ग्रंथ साहेब की पालकी पर फूलों की बारिश, आरा के लोगों...

गुरु ग्रंथ साहेब की पालकी पर फूलों की बारिश, आरा के लोगों ने किया स्वागत

Guru Granth Saheb – Arrah: आरा शहर के समाजसेवियों द्वारा कीर्तन में शामिल लोगों का फूल-मालाओं से स्वागत किया गया। रास्ते में कई जगहों पर फूलों की बारिश की गयी।

  • हाइलाइट :-
    • बोले सो निहाल…सतश्री अकाल का जयघोष गूंज रहा था आरा शहर
    • गुरु नानक देव की जयंती पर आरा शहर में निकाला गया नगर कीर्तन
    • गाजे-बाजे के साथ निकाले गये नगर कीर्तन का जगह-जगह स्वागत

Guru Granth Saheb – Arrah आरा: सिख समुदाय के लोगों ने गुरु नानक देव की जयंती को प्रकाश पर्व के रूप में मनाया। मौके पर शहर में नगर कीर्तन निकाला गया। गाजे-बाजे के साथ निकाले गये नगर कीर्तन का फूल-मालों से जगह-जगह स्वागत किया गया।

नगर कीर्तन आरा शहर के बघवा गली स्थित गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा से शुरू हुई जो महादेवा रोड, बड़ी मठिया, सदर अस्पताल, शिवगंज दुर्गा मंदिर, जेल रोड, गोपाली चौक, धर्मन चौक, चित्रटोली रोड, टाउन थाना, जैन स्कूल, नेताजी मोड़, बाबू बाजार से महादेवा होते हुए वापस गुरुद्वारा पहुंचा।

नगर कीर्तन में बोले सो निहाल…सतश्री अकाल का जयघोष गूंज रहा था। कीर्तन के आगे नगर निगम के कर्मियों की ओर से सड़क पर पानी का फव्वारा दिया जा रहा था। इसके पीछे सिख समुदाय से जुड़े लोग झाड़ू की सेवा दे रहे थे। कीर्तन में आगे-आगे पंच प्यारे चल रहे थे। इसके पीछे गुरु ग्रंथ साहेब की पालकी चल रही थी।

गुरु ग्रंथ साहेब की पालकी को फूलों से सजाया गया था। कीर्तन में बैंड, ढोल, तासे और डीजे भी शामिल था। साथ ही महिलाएं और युवतियां कीर्तन गा रही थीं। कीर्तन में विभिन्न समुदाय के लोग शामिल थे। प्रसाद का भी वितरण किया जा रहा था।

जगह-जगह फूल-मालाओं से किया गया स्वागत

कीर्तन में शामिल लोगों का आरा में जगह-जगह स्वागत किया गया। लंगर की भी व्यवस्था की गयी थी। आरा शहर के समाजसेवियों द्वारा कीर्तन में शामिल लोगों का फूल-मालाओं से स्वागत किया गया। रास्ते में कई जगहों पर फूलों की बारिश की गयी।

RAVI KUMAR
RAVI KUMAR
Journalist
- Advertisment -

Most Popular