Friday, July 1, 2022
No menu items!
Homeआरा भोजपुरबिहियाबिहिया : बारिश के बावजूद नामांकन में दिखा उत्साह

बिहिया : बारिश के बावजूद नामांकन में दिखा उत्साह

खबरे आपकी भोजपुर/बिहिया:Gyanti Devi भोजपुर जिले के बिहिया प्रखंड में पंचायत चुनाव को लेकर नामांकन पत्र दाखिले के दूसरे दिन शुक्रवार को सुबह से हीं रूक-रूककर हो रही बारिश के कारण अभ्यर्थी व उनके समर्थकों से लेकर नामांकन कार्य में लगे कर्मियों में भी अफरा-तफरी मची रही।टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज स्थित नामांकन केन्द्र पर टेंट में बनाये गये हेल्प डेस्क को भवन में शिफ्ट करना पड़ा जबकि वहीं केन्द्र के बाहर चेक प्वाइंट पर प्रतिनियुक्त दण्डाधिकारी व पुलिसकर्मी बारिश से बचने के लिए बार-बार छूपते नजर आये. हालांकि बारिश के बावजूद भी नामांकन में आये समर्थकों के जोश में कमी नहीं दिखी और वे अपने प्रत्याशी के समर्थन में नारे लगाते रहे।इस दौरान अलग अलग पद के दर्जनों प्रत्याशियों ने अपना पर्चा दाखिल किया।वही पीपरा जगदीश पंचायत में मुखिया पद हेतु अभ्यर्थि ज्ञान्ती देवी ने पंचायत में पहला नामंकन का पर्चा निर्वाची पदाधिकारी के समक्ष दाखिल किया।

Gyanti Devi-नामांकन के बाद विकास के सवाल पर पूर्व मुखिया पर भड़की ज्ञान्ती देवी

Gyanti Devi

नामंकन पर्चा दाखिल करने के बाद मुखिया अभ्यर्थी ज्ञान्ती देवी से पूर्व मुखिया के विकास कार्यो के सवाल पर महिला अभ्यर्थी ज्ञान्ती देवी ने वर्तमान मुखिया पर जमकर आरोप लगाया। Gyanti Devi ने बताया कि 15 साल के कार्यकाल में पति-पत्नी ने पंचायत को 30 वर्ष पीछा छोड़ दिया है।उन्होंने कहा कि पंचायत में समस्याओं का अम्बार लगा हुआ है। बीते 15 साल में पंचायत के आम आवाम को जो सरकारी योजना का लाभ मिलना चाहिए नही मिल सका है। पंचायत में कही से भी विकास नही दिख रहा है।जो आज से 15 साल पहले था आज भी वही स्थिति बना हुआ है। Gyanti Devi ने कहा की पंचायत के आठों गांव में कही भी कुछ विकास नही दिख रहा है।समय से किसी भी योजना का लाभ आम जनता को नही पा रहा है।वही उन्होंने कहा नली गल्ली सड़क की स्थिति बिल्कुल खराब है लोग अपने घर के सामने गढ़ा खोद कर घर का पानी गिराने के लिए मजबूर है।चालीस प्रतिशत लोगो को राशन किरासन का लाभ नही मिल रहा है।इन्दिरा आवास में लूट मचा है।नलजल योजना में गांव गांव में दर्जनों घर को छोड़ दिया गया है।विकास के नाम पर सरकारी रुपयों का बन्दर बाट हुआ है।जो जांच का विषय है।जिसका जबाब इस बार चुनाव में जनता देने के लिए तैयार है।यदि मुझे मौका मिलता है तो हम पंचायत के सम्पूर्ण विकास कर के दिखाउंगी।

बारिश के दौरान भी अस्पताल मोड़ स्थित बने चेक प्वाइंट पर भारी संख्या में अपने समर्थकों के साथ पहुंचे अभ्यर्थियों को रोक दिया जाता था। चेक प्वाइंट से केवल अभ्यर्थी व इनके प्रस्तावक समर्थक को ही नामांकन केन्द्र के अंदर पैदल जाने की इजाजत दी जा रही थी।अस्पताल मोड़ पर अभ्यर्थियों के भारी संख्या में आने वाले समर्थकों के कारण सड़क जाम की स्थिति बनी रही।

पढ़ें- आरा शहर के नगर थाना क्षेत्र पड़ोसी की पत्नी को भगा ले जाना वाला गिरफ्तार

पढ़ें- पार्टी में बना प्लान और शाम में गोलियों से भून दिया गया माले नेता का पुत्र

- Advertisment -

Most Popular