Thursday, May 30, 2024
No menu items!
HomeNewsबिहारभोजपुर में अंतरराज्यीय हथियार तस्कर जयपुकार राय उर्फ जेपी गिरफ्तार

भोजपुर में अंतरराज्यीय हथियार तस्कर जयपुकार राय उर्फ जेपी गिरफ्तार

Interstate arms smuggler arrested:  खबरे आपकी आरा: एसटीएफ की मदद से भोजपुर पुलिस के हत्थे चढ़ा कुख्यात तस्कर जयपुकार राय उर्फ जेपी फर्जी लाइसेंस के आधार पर हथियार खरीद कर खरीद-बिक्री करता था। भोजपुर जिले के शाहपुर प्रखंड अंतर्गत बहोरनपुर गांव का रहने वाला जेपी कुख्यात हथियार तस्कर है। उसका कनेक्शन बिहार के अलावा पश्चिम बंगाल, यूपी और झारखंड सहित अन्य राज्यों के तस्करों से रहा है। बिहार एसटीएफ की मदद से भोजपुर पुलिस की टीम ने उसे गिरफ्तार किया है। पूछताछ में उसने फर्जी लाइसेंस के आधार पर हथियार खरीदने और तस्करी करने की बात भी स्वीकार की है।

एसपी प्रमोद कुमार ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस कर यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जयपुकार राय उर्फ जेपी अंतरराज्यीय हथियार तस्कर है। उसके खिलाफ भोजपुर के शाहपुर, बिहिया, अरवल और पटना के बिहटा थाने के अलावा आरा रेल थाने में दो मामले दर्ज हैं। बिहिया थाने में हथियार तस्करी को लेकर मार्च में दर्ज मामले में वह वांटेड चल रहा था। 20 मार्च को बिहिया चौरास्ता के पास हथियार और गोलियां की खेप के साथ दो तस्करों को गिरफ्तार किया गया था। तब दोनों तस्करों ने जेपी उर्फ जयपुकार राय द्वारा हथियार और गोली की सप्लाई करने की जानकारी दी थी। इसके बाद से वह फरार चल रहा था।

Election Commission of India
Election Commission of India

पढ़ें :– एसटीएफ की बड़ी सफलता: आरा जंक्शन पर हथियार के साथ दो तस्कर गिरफ्तार

उसकी गिरफ्तारी को जगदीशपुर एसडीपीओ के नेतृत्व में टीम गठित की गयी थी। एसटीएफ की मदद ली जा रही थी। रविवार की रात गुप्त सूचना के आधार पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ के बाद उसे जेल भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि स्पीडी ट्रायल के तहत मुकदमा चलाकर उसे कठोरतम सजा दिलाने का प्रयास किया जायेगा। टीम में बिहिया थानाध्यक्ष उदयभानु सिंह सहित अन्य पुलिसकर्मी शामिल थे।

Shobhi Dumra - News
Vishnu Nagar Ara Crime
Shobhi Dumra - News
Vishnu Nagar Ara Crime
previous arrow
next arrow

एसपी ने बताया कि कुख्यात हथियार तस्कर जयपुकार राय उर्फ जेपी राय (Interstate arms smuggler arrested) का बिहार के अलावा पश्चिम बंगाल, झारखंड और यूपी सहित अन्य राज्यों से कनेक्शन की बात सामने आयी है। वह विभिन्न जिलों और राज्यों के शस्त्र विभाग के कर्मचारियों से मिलीभगत कर दूसरों के नाम से जारी लाइसेंस की कॉपी उपाय कर लेता था। इसके बाद उस पर अपना या दूसरे का फोटो लगा उससे नया लाइसेंस तैयार करता था। इसके बाद फर्जी लाइसेंस के आधार पर हथियार की खरीद और तस्करी करता था। वह हथियार की खरीद अधिकतर पश्चिम बंगाल के कोलकाता और यूपी की आर्म्स डीलर से करता था। अब तक के अनुसंधान में यह बात सामने आयी है। जयपुकार राय उर्फ जेपी राय की ओर से भी पूछताछ में यह बात स्वीकार की गयी है। उसके अंतरराज्यीय कनेक्शन की जांच की जा रही है।

- Advertisment -
Vikas singh
Vikas singh
Vikas singh
Vikas singh

Most Popular

Don`t copy text!