Monday, March 1, 2021
No menu items!
Home बिहार आरा भोजपुर प्रतिमा विसर्जन जुलूस में शामिल नहीं होंगे दस से अधिक लोग

प्रतिमा विसर्जन जुलूस में शामिल नहीं होंगे दस से अधिक लोग

statue immersion procession सरस्वती पूजा को लेकर सभी थानाध्यक्षों और इंस्पेक्टर को एसपी ने दिया टास्क

खबरे आपकी :- statue immersion procession आरा। चंदा के नाम पर वाहनों से अवैध वसूली करने वालों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जायेगी। पकड़े जाने पर वसूली करने वालों को जेल भी भेजा जायेगा। एसपी हर किशोर राय द्वारा जिले के सभी एसडीपीओ इंस्पेक्टर और थानाध्यक्षों को निर्देश दिया है। इसे लेकर एसपी ने सभी अफसरों के साथ बैठक भी की। उसमें सरस्वती पूजा के लिये विधि-व्यवस्था को ले गाइड लाइन भी जारी किया गया।

एसपी ने बताया कि कोविड 19 को लेकर कर आयोजन सीमित रूप से और सरकार के गाइडलाइन के अनुसार करने का निर्देश दिया गया है। सोशल डिस्टेंशिंग, भीड़ की सीमा और मास्क की आवश्यकता को देखते हुए सार्वजनिक स्थान पर मूर्ति नहीं बैठाने का भी निर्देश दिया गया है। कहा कि इसके बावूजद किसी द्वारा मूर्ति बैठाया जाता है, तो उसे लाईसेंस लेना अनिवार्य होगा।

चंदा के नाम पर वाहनों से अवैध वसूली करने वालों पर होगी प्राथमिकी

पढ़े :- पुलिस को मिला हथियारों का जखीरा,भोजपुर के पीरो के रहने वाले हैं गिरफ्तार तस्कर

उन्होंने अफसरों से कहा कि कहीं पर भी चंदा के नाम पर सड़कों पर अवैध वसूली करते हुए दिखाई नहीं देना चाहिए। कोई अवैध वसूली करते दिखे, तो तुरंत उसे पकड़ें और प्राथमिकी दर्ज कर के जेल भेजें। कहा कि विसर्जन में 10 से अधिक व्यक्ति शामिल नहीं होंगे। विसर्जन जुलूस या मूर्ति के साथ डीजे नहीं रहेगा। कहा कि इसके लिए डीजे वालों से बैठक करके सुप्रीम कोर्ट के निर्देश से अवगत कराने और पालन करवाने का निर्देश दिया गया है। इसके बावजद इस्तेमाल किए जाने पर प्राथमिकी दर्ज करते हुए डीजे को जब्त किया जाएगा और गिरफ्तारी की जाएगी।

अफसरों को 17 फरवरी तक मूर्तियों का विसर्जन करवाना सुनिश्चित करने का निर्देश

पढ़े :- लालू यादव के बेहद करीबी जगदानंद सिंह पर भड़के तेजप्रताप ने लगाये गंभीर आरोप

एसपी ने बताया कि अफसरों को 17 फरवरी तक मूर्तियों का विसर्जन करवाना सुनिश्चित करने को कहा गया है। इसके साथ ही शरारती तत्वों पर 107 और सीसीए 3 की कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया गया है। मूर्तियों का विसर्जन नदी में नहीं किया जाएगा। अफसरों के विसर्जन के स्थानों को ठिक से भ्रमण कर लेने का भी टास्क दिया गया है। ताकि  कहीं दुर्घटना की स्थिति नहीं हो।

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular