Tuesday, April 13, 2021
No menu items!
Home News शाहपुर में क्या दलीय प्रत्याशियों को भारी पड़ेंगे निर्दलीय?

शाहपुर में क्या दलीय प्रत्याशियों को भारी पड़ेंगे निर्दलीय?

Shahpur 2020 – निर्दलीय के पेंच में फंस गया शाहपुर

बिहिया। Shahpur 2020 विधानसभा चुनाव को लेकर भोजपुर के शाहपुर में सभी दलों व निर्दलीय प्रत्याशियों का चुनाव प्रचार नामांकन के बाद से जोरों पर दिखने लगा है। सभी प्रत्याशी अपना दमखम दिखाने व मतदाताओं को अपने अपने पक्ष में करने में जुट चुके है। हालांकि इस बार शाहपुर में प्रत्याशियों की संख्या ज्यादा होने से चुनाव में दिलचस्प मुकाबला होने वाला है। शाहपुर में निर्दलीय प्रत्याशी भी जनता के निगाह पर है। जिसेसे दलीय प्रत्याशियों के हाथ व पैर फूलने लगा है। साथ ही प्रत्याशी ज्यादा होने से लड़ाई में जीत हार बहुत कम वोट के अंतर से हो सकती है। वैसे में निर्दलीय प्रत्याशी भी बाजी मार सकते है।

बुटेश्वर की गिफ्तारी और शोभा की उम्मीदवारी बना चर्चा विषय,दलीय प्रत्याशी पेशोपश में

Shahpur 2020 निर्दलीय प्रत्याशी भेटेश्वर यादव के नामांकन बाद फौरन गिरफ्तारी को लेकर क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। शाहपुर की स्थानीय सभी समुदाय की जनता भी पेशोपश में है। भूटेश्वर यादव की गिरफ्तार व भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष विशेश्वर ओझा की पूर्व में हत्या शाहपुर की जनता के दिलों दिमाग मे है। जिससे भूटेश्वर यादव एवं शोभा देवी को सहानुभूति वोट मिलने की प्रबल संभावना है।

नामांकन के दौरान भाकपा (माले) राजद, कांग्रेस, सीपीआई, सीपीएम के सभी वरीय नेता थे उपस्थित

पुलिस ने कहा न्यायालय द्वारा मुखिया बुटेश्वर यादव को गिरफ्तार करने के लिए वारंट जारी किया गया है

राकेश ओझा ने कहा कि शाहपुर की मासूम जनता के भावनाओं के साथ खेल रहे है मंटू तिवारी व भुअर ओझा

एक प्राइवेट अस्पताल की डाक्टर पेट चीरने के बाद कैंसर होने की बात कह बच्चेदानी निकालने से किया इंकार

साहबों व दफ्तरों का चक्कर लगा थका परिवार अब बजरंग बली से लगा रहा गुहार, हनुमान चालीसा का पाठ

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular