Saturday, March 6, 2021
No menu items!
Home अन्य चर्चित खबर पूर्व मुख्यमंत्री के गांव में पिछले एक पखवाड़े से नही खुला अस्पताल...

पूर्व मुख्यमंत्री के गांव में पिछले एक पखवाड़े से नही खुला अस्पताल का ताला

पूर्व मुख्यमंत्री पंडित बिंदेश्वरी दुबे के गांव के लोगो मे व्यवस्था के खिलाफ भारी आक्रोश

रिपोर्ट-अरुण मिश्रा

कोरोना जैसे महामारी से बचने के लिए शहर से लेकर गांव तक स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने को लेकर सरकार बड़े बड़े दावे कर रही है। वही पूर्व मुख्यमंत्री पंडित बिंदेश्वरी दुबे के गांव भोजपुर जिले के बिहिया प्रखण्ड अंतर्गत आने वाला अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र महुआंव इन सरकारी दावो का पोल खोल रहा है।कोरोना कि इस भयावह परिस्थिति में भी यह स्वास्थ्य केंद्र पिछले एक पखवाड़े से भी ज्यादा समय से बंद है। जिसको लेकर ग्रामीणों में व्यापक आक्रोश व भय व्याप्त है।

लॉकडाउन में चोर तोड़ने लगे दुकानों व मकानों के ताले

अतरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर चिकित्सको व स्वास्थ्य कर्मियों का आना तो दूर इस विकट समय में स्वास्थ्य केंद्र का ताला तक नही खुलता है। जिससे ग्रामीण काफी मायुश है। ग्रामीणों ने बताया की आसपास के सैकड़ो गरीब मरीज यहां रोज पहुँचते है। स्वास्थ्य सुविधा नही मिलने से बैरंग वापस हो जाते है। जबकि सरकारी आंकड़ों में यह छह बेड का स्वास्थ्य केंद्र है। यहां के आसपास के दर्जनों गांवों में सेनेटाइज करना तो दूर एक चुटकी बिलीचिंग पाउडर भी मुहैया नही कराया गया।

ग्रामीणों ने बताया की इस सम्बंध में बिहिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिक्तिसा प्रभारी से लेकर प्रखंड विकास पदाधिकारी बिहिया को कई बार सुचना देकर अवगत कराया गया। लेकिन कोई सुनने वाला नही है। ग्रामीणों ने बताया की जल्द से जल्द स्वास्थ्य सुविधा को लेकर इस केंद्र को चालू नही किया गया तो हम आंदोलन को लेकर बाध्य होंगे। विदित हो कि यह अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पूर्व मुख्यमंत्री पंडित बिंदेश्वरी दुबे के द्वारा बनवाया गया था, जो इसी गांव के रहनेवाले थे।

गैस सिलेंडर में रिसाव से लगी आग, वृद्धा झुलसी

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular