Monday, February 6, 2023
No menu items!
HomeNewsCrimeशाहपुर नगर पंचायत के पूर्व पार्षद मंटू सोनार हत्याकांड में दो गिरफ्तार

शाहपुर नगर पंचायत के पूर्व पार्षद मंटू सोनार हत्याकांड में दो गिरफ्तार

Mantu Sonar murder case:शाहपुर नपं पूर्व चेयरमैन हत्याकांड

खबरे आपकी आरा: भोजपुर पुलिस की टीम ने शाहपुर नगर पंचायत के पूर्व पार्षद मंटू सोनार की हत्या के मामले में अहम उपलब्धि हासिल की है। इस मामले में पुलिस ने दो महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया। दोनों कांड की नामजद अभियुक्त है। इसकी जानकारी एएसपी हिमांशु ने सोमवार की शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दी। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्तों में बक्सर जिले के बक्सर नगर थाना क्षेत्र के नई बाजार निवासी प्रमोद गुप्ता की पत्नी किरण देवी तथा बक्सर जिले के नवानगर थाना क्षेत्र के नवानगर गांव निवासी मंतोष साह की पत्नी आशा देवी उर्फ असनी है, उन्होंने बताया कि 27 नवंबर 22 की दोपहर करीब 2 बजे शाहपुर में पूर्व पार्षद वशिष्ठ प्रसाद उर्फ मंटू सोनार पिता कपिल देव सोनार की अज्ञात अपराधियों द्वारा उनके दरवाजे पर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मंटू सोनार वार्ड नंबर-10 के वार्ड पार्षद थे। जबकि उनकी पत्नी जुगनू देवी शाहपुर ग्राम पंचायत की मुख्य पार्षद है। हत्या को लेकर नामजद व अज्ञात के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई। हत्या के बाद कार्रवाई हेतु पुलिस अधीक्षक के दिशा निर्देश में एक विशेष टीम का गठन किया गया। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए नामजद किरण देवी एवं आशा देवी उर्फ असनी को गिरफ्तार कर लिया। दोनों हत्याकांड में नामजद अभियुक्त है। एएसपी ने बताया कि इस कांड में तीन नामजद अभियुक्त आरा मंडल कारा में बंद है। शेष अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

  • हत्या में दो महिला आरोपित गिरफ्तार, जांच करने पहुंचे फॉरेंसिक एक्सपर्ट
  • हत्या के खिलाफ दूसरे दिन भी आक्रोश, तीस घंटे बाद तक नहीं हुआ अंतिम संस्कार
  • मुख्य आरोपित की गिरफ्तारी को मांग पर अड़े परिजनों का अंतिम संस्कार से इनकार
  • परिजनों को समझाने में जुटे वरीय अफसर, देर रात तक चलती रही वार्ता

भोजपुर की शाहपुर नगर पंचायत के पूर्व चेयरमैन वशिष्ठ प्रसाद उर्फ मंटू की हत्या(Mantu Sonar murder case) की तफ्तीश तेज हो गयी है। पुलिस ने इस मामले में अबतक दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं अन्य की धरपकड़ को लेकर ताबड़तोड़ छापेमारी चल रही है। इधर, फॉरेंसिक एक्सपर्टों की टीम द्वारा की ओर से भी घटना की जांच की गयी।‌इसे लेकर एफएसएल की टीम सोमवार को शाहपुर पहुंची थी। इधर, हत्या के खिलाफ दूसरे दिन सोमवार को भी लोगों में जबरदस्त आक्रोश रहा। मुख्य आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर परिजनों द्वारा शव का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया गया है। इसके कारण हत्या के करीब तीस घंटे बाद भी पूर्व चेयरमैन के शव का अंतिम संस्कार नहीं किया जा सका था।

डीएम राजकुमार व एसपी संजय कुमार सिंह के निर्देश पर जगदीशपुर एसडीएम सीमा कुमारी, एसडीपीओ राजीव चंद्र सिंह और पीरो एसडीपीओ राहुल सिंह मौके पर पहुंच परिजनों को समझाने में जुटे रहे। देर रात तक अधिकारियों और परिजनों के बीच वार्ता चल रही थी।

Mantu Sonar murder case:जेल में बंद तीन लोग सहित 13 के खिलाफ प्राथमिकी

Mantu Sonar murder case

बता दें कि रविवार दोपहर शाहपुर नगर पंचायत की निवर्तमान मुख्य पार्षद जुगनू देवी के पति सह पूर्व चेयरमैन वशिष्ठ प्रसाद उर्फ मंटू की गोली मार हत्या कर दी गयी थी। उसे लेकर जेल में बंद तीन लोग सहित 13 के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है। एएसपी हिमांशु ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इनमें बक्सर के नगर थाना क्षेत्र के नई बाजार निवासी प्रमोद गुप्ता की पत्नी किरण देवी और बक्सर के नवानगर गांव निवासी मंतोष साह की पत्नी आशा देवी उर्फ असनी शामिल हैं। इधर, रविवार की रात पोस्टमार्टम के बाद शव शाहपुर ले जाया गया। उसके बाद से ही परिजनों द्वारा शव का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया गया है।

  • जेल में बंद तीन लोगों ने रची गयी थी हत्या की साजिश, 13 के खिलाफ प्राथमिकी
  • भाई के बयान पर दर्ज की गयी प्राथमिकी, धरपकड़ को चल रही छापेमारी
  • रविवार दोपहर आवास के सामने होटल में बैठे पूर्व नपं चेयरमैन की हुई थी हत्या
  • एएसपी बोले: तीन आरोपित जेल में बंद, दो गिरफ्तार, अन्य की चल रही तलाश

भोजपुर की शाहपुर नगर पंचायत की निवर्तमान मुख्य पार्षद जुगनू देवी के पति सह के पूर्व चेयरमैन वशिष्ठ प्रसाद उर्फ मंटू की पूर्व में दर्ज केस नहीं उठाने पर हत्या की गयी है। इसके लिए मंडल कारा में तीन लोगों द्वारा साजिश रची गयी है। हत्या को लेकर दर्ज प्राथमिकी में यह आरोप लगाया गया है। पूर्व चेयरमैन मंटू के भाई सत्यपाल प्रसाद के बयान पर भोजपुर और बक्सर के 13 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। तीन-चार अज्ञात लोगों को आरोपित किया गया है। प्राथमिकी में विद्यासागर गुप्ता, संजय गुप्ता, अजय गुप्ता, अर्जुन धानुक, गुलशन गुप्ता, कृष्ण कुमार ततवा, निक्की सिंह, दीपक धानुक ,विनोद धानुक, ऋषभ सोनार, बक्सर की किरण देवी, आशा देवी और बक्सर नई बाजार निवासी सनी गुप्ता शामिल हैं। इनमें आशा देवी और किरण देवी विद्यासागर की बहन बतायी जा रही है। इनमें तीन पहले से जेल में बंद है। एएसपी हिमांशु ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि हत्या के बाद एसपी संजय कुमार सिंह के निर्देश पर टीम गठित की गयी थी। टीम द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया। अन्य आरोपितों की धरपकड़ को लेकर छापेमारी की जा रही है। टीम में जगदीशपुर एसडीपीओ राजीव चंद्र सिंह, बिहिया सर्किल इंस्पेक्टर दयानंद प्रसाद, शाहपुर थानाध्यक्ष नित्यानंद शर्मा, डीआईयू के दारोगा राजीव रंजन और राकेश कुमार शामिल हैं।

पूर्व में गोली मारने का केस उठाने का दे रहा थे दबाव, मना करने पर कर दी हत्या

Mantu Sonar murder case:शाहपुर निवासी सत्यपाल प्रसाद द्वारा दर्ज प्राथमिकी में कहा गया कि इसी साल सात सितंबर को उनके भाई पूर्व चेयरमैन वशिष्ठ प्रसाद उर्फ मंटू को गोली मारी गयी थी। उसे लेकर नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी। उस केस के आरोपितों की ओर से उनके भाई पर केस सुलह करने का दबाव दिया जा रहा था। उससे इनकार करने पर हत्या कर दी गयी। सत्यपाल प्रसाद के अनुसार गोली मारे जाने के मामले में जेल में बंद शाहपुर के ही श्रषभ सोनार, दीपक धानुक और उसके भाई विनोद धानुक की ओर से हत्या की साजिश रची गयी थी। उन्हीं तीनों के इशारे पर हत्याकांड को अंजाम दिया गया है। प्राथमिकी में सभी आरोपितों पर हेरोईन और हथियार की तस्करी का आरोप लगाया गया है। कहा गया है कि आरोपितों का यह मुख्य धंधा है। सत्यपाल प्रसाद की ओर से दर्ज केस के अनुसार रविवार दोपहर उनके भाई आवास के सामने होटल में बैठे थे। तभी सभी आरोपित हथियार लेकर पहुंचे और अंधाधुंध फायरिंग कर दी। उसमें गोली लगने से उनके भाई की मौत हो गयी।

- Advertisment -
khabreapki
खबरे आपकी
khabreapki-youtube
khabreapki-youtube

Most Popular