Wednesday, December 1, 2021
No menu items!
HomeNewsभोजपुर में 44 फर्जी मास्टर साहब जायेंगे जेल

भोजपुर में 44 फर्जी मास्टर साहब जायेंगे जेल

Fake master in Bhojpur-संदेश प्रखंड का मामलाः फर्जी पत्र के आधार पर बहाल 44 अवैध शिक्षकों के खिलाफ प्राथमिकी

जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना की ओर से नवादा थाने में दर्ज कराया गया केस

निदेशक, प्राथमिकी शिक्षा के फर्जी हस्ताक्षर से जारी पत्र के आधार पर किया योगदान

प्राथमिकी दर्ज कर मामले की छानबीन और धरपकड़ में जुटी पुलिस

खबरे आपकी आरा। प्राथमिक शिक्षा के निदेशक के फर्जी पत्र के आधार पर शिक्षक बनना 44 लोगों को महंगा पड़ गया। इन सभी फर्जी शिक्षकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करा दी गयी है। इन सभी पर गिरफ्तारी की तलवार लटकने लगी है। जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना की ओर से शुक्रवार को नवादा थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। सभी पर लाभ लेने के लिये षड़यंत्र कर निदेशक, प्राथमिकी शिक्षा, पटना का जाली हस्ताक्षर कर फर्जी पत्र तैयार और निर्गत करने का आरोप लगाया गया है। मामला संदेश प्रखंड के शिक्षक नियोजन से जुड़ा है।

पढ़ें:-परिजनों ने कबूला गुनाह, बोले: फोटो भेज राजेश ने तुड़वा दी थी शादी,जेल गयी कातिल प्रेमिका 

यह कार्रवाई प्राथमिक शिक्षा के निदेशक के आदेश पर की गयी है। प्राथमिकी में कहा गया है कि नियोजन संबंधी ज्ञापांक संख्या विविध- 7/मु/3-25/2020/160/A दिनांक 20/08/2020 और ज्ञापांक 7/मु/3-25/2020/65-A/C  दिनांक 26/02/2021 के आधार पर संदेश प्रखंड में 44 शिक्षकों का नियोजन किया गया है। प्राथमिकी के मुताबिक उपरोक्त दोनों आदेश निदेशक, प्राथमिकी शिक्षा के फर्जी हस्ताक्षर से जारी किये गये थे। 27 अप्रैल 2021 को व्हाटसएप ग्रुप में फर्जी पत्र और एक अखबार मे इस आशय की खबर छपने के बाद मामला सामने आया। इधर, फर्जी पत्र तैयार करने के मामले में संदेश थाने में भी स्थानीय बीईओ केशरी सुधीर सिंह की ओर से भी अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। इधर, पुलिस प्राथमिकी दर्ज करने के बाद मामले की छानबीन और फर्जीवाड़ा करने वालों की धरपकड़ में जुट गयी है। 

Fake master in Bhojpur-फर्जी पत्र के जरिये दिया गया 44 शिक्षकों के योगदान और मानदेय भुगतान का आदेश

आरा। नवादा थाने में दर्ज प्राथमिकी में शिक्षा विभाग का फर्जी आदेश पत्र भी संलग्न किया गया है। उसके जरिये ही 44 शिक्षकों के नये सिरे योगदान और मानदेय भुगतान देने का आदेश जारी किया गया था। आदेश संख्या विविध 7-मु/3-25/2020/160A में कहा गया था कि द्वितीय चरण शिक्षक नियोजन नियमावली 2006 और संशोधित नियमावली 2008 के तहत संदेश प्रखंड में 78 रिक्त पदों के विरोध शिक्षकों का नियोजन किया गया था। दिनांक 12 अगस्त 2010 को 34 और दिनांक 28 दिसंबर 2010 को 44 शिक्षकों का नियोजन नियमानुसार किया गया था। परंतु विभाग द्वारा 34 शिक्षकों का नियोजन ही मान्य किया गया। लगातार काम करने के बावजूद 44 शिक्षकों को मानदेय का भुगतान नहीं किया गया। इस मामले को 2014 में एक एमएलसी की ओर से विधान परिषद मे उठाया गया। तब मामले को ध्यानाकर्षण समिति को सुपुर्द कर दिया गया था। उसके आलोक में ध्यानाकर्षण समिति की ओर से 2016 में सभी संबंधित अफसरों के साथ बैठक की गयी। उसमें सभी 44शिक्षकों को फिर से नियोजित करने और मानदेय का भुगतान सुनिश्चित करने को कहा गया है। 27 अप्रैल 2021 को व्हाटसएप ग्रुप में प्राथमिक निदेशक का यह पत्र वायरल होते ही अफसरों का माथा ठनक गया। उसके बाद जांच शुरू की गयी, तो पूरा मामला गलत निकला। उसके बाद इस मामले में प्राथमिकी के आदेश जारी किया गया।

 पढ़ें:- नियम का उल्लंघन: दो अध्यक्ष सहित 20 सदस्य पर नामजद प्राथमिकी, 10 अज्ञात भी आरोपित

Fake master in Bhojpur
Fake master in Bhojpur

इन फर्जी शिक्षकों पर दर्ज हुई प्राथमिकी

आरा। नवादा थाना क्षेत्र की कतिरा महात्मा गांधी नगर निवासी मंजू कुमारी, चंदवा संकट मोचन नगर निवासी रेखा कुमारी, प्रोफेसर कॉलोनी निवासी स्नेहा श्रीवास्तव, चरपोखरी थाना के मुकुंदपुर गांव निवासी राजीव रंजन कुमार ठाकुर, मदरियां गांव निवासी अखिलेश कुमार, पीरो थाना के जमुआंव गांव निवासी राम प्रकाश राय, रंभा कुमारी, बरौली गांव के दीपक कुमार, उदनडीह गांव निवासी अनामिका कुमारी, दुसाधी बधार गांव निवासी नीलम कुमारी, अनुपम कुमार, जगदीशपुर के दावां निवासी उमेश कुमार चौधरी, मुंशी टोला दावां निवासी सुजीत कुमार, हरनहीं गांव निवासी सुनील कुमार, शोभा टोला दावां निवासी प्रमोद कुमार सिंह, देवघर टोला निवासी रीता कुमारी, आरा संकट मोचन नगर इंदू बाला श्रीवास्तव, बिहिया की राजाबाजार निवासी नीतू कुमारी, भोला जी, बिहिया के जज भड़सरा गांव निवासी राजकुमार सिंह, फिनगी गांव निवासी सुरेश सिंह, सिकरहटा थाना क्षेत्र के चंदा गांव निवासी अनिशा कुमारी, कुरमुरी गांव निवासी विमल कुमार, उदवंगनगर थाना क्षेत्र के अख्तियारपुर गांव निवासी मनीष कुमार श्रीवास्तव, चरपोखरी गांव निवासी विष्णु शंकर प्रसाद, नवादा थाना के पकड़ी गैस एजेंसी रोड निवासी अमित कुमार, बहिरो निवासी रवि सिंह, श्रीटोला करमन टोला निवासी धर्मेंद्र कुमार, अगिआंव बाजार थाना के नारायणपुर गांव के गौतम सिन्हा, चौरी थाना के बहुआरा गांव निवासी पूजा कुमारी, चरपोखरी थाना के

बगुसरा निवासी शहनाज बेगम, सहसपुरा निवासी सुनील कुमार, महावीरगंज निवासी जीतेंद्र कुमार, संदेश थाना के प्रताप नगर निवासी सुनील कुमार, सुंदरपुर गांव निवासी महेश सिंह, कैमूर जिले के बेलाव निवासी रामपूजन राम, उसी थाना के सोनवर्षा निवासी फूलमती कुमारी, मोहनिया थाना के कटरा निवासी सविता कुमारी, कुदरा थाना के बरुधार निवासी जयंत कुमार गौतम, बक्सर जिले के चुरामनपुर निवासी सुनैना कुमारी, पटना विक्रम थाना क्षेत्र के मोजक्का गांव के अरशद आलम शामिल हैं।

पढ़ें:- जिंदगी इम्तिहान लेती है… गाने वाले दारोगा दिलीप कुमार निराला की जिंदगी की शुरु हुई परीक्षा

- Advertisment -
Jain Ornaments ad
Raj Auto AD
Sambhawana School Ad
Kids Campus Mission School AD
Jain Ornaments ad
Raj Auto AD
Sambhawana School Ad
Kids Campus Mission School AD
Nagarmal Ad
Heart care centre ad
Modern x Ray AD
Maa sharde Ad
Nagarmal Ad
Heart care centre ad
Ad
Modern x Ray AD
Maa sharde Ad

Most Popular