Tuesday, July 27, 2021
No menu items!
Homeअन्यचर्चित खबरआरा: पोखरे के विवाद में ठेकेदार पर ताबड़तोड़ बरसा दी गोलियां

आरा: पोखरे के विवाद में ठेकेदार पर ताबड़तोड़ बरसा दी गोलियां

Chhotu fired bulletsएक दिन पहले मारपीट हुई और दूसरे दिन छोटू ने राजू पर बरसा दी गोलियां

पोखरे को लेकर ठेकेदार और छोटू मिश्रा के बीच हुआ था विवाद

आरा। कुख्यात छोटू मिश्रा ने पोखरे के विवाद में राजू यादव की हत्या कर दी थी। उसने पौ फटते ही ताबड़तोड़ गोलियां बरसा कर ठेकेदार को मौत की नींद सुला दी थी। हालांकि इस हत्या की इन साइड स्टोरी भी दमदार रही है। दरअसल बताया जा रहा है कि आनंद नगर इलाके में एक पोखरे पर छोटू मिश्रा का कब्जा था। उसमें छोटू मछली पालन का धंधा करता था। पिछले कुछ दिनों से उस पर राजू यादव की नजर थी। इसे लेकर राजू यादव और छोटू मिश्रा के बीच विवाद हो गया था।

हत्या से एक दिन पहले छोटू उस सिलसिले में बात करने राजू यादव के पास आया था। वहां दोनों के बीच धक्का-मुक्की हो गयी। तब राजू यादव द्वारा छोटू मिश्रा का कपड़ा फाड़ दिया गया था। उसनेे बेलचा से भी छोटू पर वार किया था। लेकिन उसे लगा नही। छोटू को पुलिस से पकड़वाने की भी धमकी दी थी। छोटू मिश्रा ने इसे अपनी बेइज्जती और बादशाहत को चुनौती मानते हुये ठेकेदार को देख लेने की बात कही थी। उसके बाद उसने अगले दिन ही गूर्गों के साथ ठेकेदार राजू यादव की गोली मारकर हत्या कर दी। एसपी राकेश कुमार दूबे द्वारा इसकी पुष्टि भी की गयी है।

 Chhotu fired bullets at Raju
Chhotu Mishra arrested

उन्होंने बताया कि हत्या का कारण मूलत: पोखरे का विवाद ही है। वैसे हत्या में लाइनर का काम करने वाले लोगों का राजू यादव से जमीन का विवाद था। उस को लेकर उन लोगों ने छोटू मिश्रा के लिये लाइनर का काम किया था। इस मामले की भी छानबीन की जा रही है। एसपी का कहना है छोटू मिश्रा डिस्प्रेट टाइप का अपराधी है। वह बात-बात में गोली चला देता है। बता दें कि पिछले साल उसने महज थप्पड़ मारने पर छात्र समेत दो लोगों को गोली मार दी थी। उसमें छात्र की मौत हो गयी थी।

जनवरी में पुलिस मुठभेड़ में बच निकला था छोटू, मां की हो गयी थी मौत

Chhotu fired bullets आरा। मोस्ट वांटेड कुख्यात छोटू मिश्रा मूल रूप से रोहतास का रहने वाला भोजपुर के अपराध जगत में चर्चित नाम हो गया था। ताबड़तोड़ आपराधिक वारदात को अंजाम देकर वह शहर सहित पूरे जिले के लिये आतंक बनता जा रहा था। हालांकि टाउन थाना क्षेत्र उसका खास इलाका रहा है। सबसे अधिक घटना को अंजाम उसने इसी थाना क्षेत्र में दिया है। वैसे उसका आपराधिक इतिहास भी काफी लंबा है। महज तीन साल में उसके खिलाफ जिले में दर्जन भर मामले दर्ज किये गये हैं। इनमें हत्या, लूट, रंगदारी, फायरिंग और आर्म्स एक्ट जैसी घटनायें शामिल है। इनमें करीब आधा दर्जन मामलों में वह फरार चल रहा था।

हाल के दिनों में उसकी सक्रियता काफी बढ़ गयी थी। इसी साल जनवरी माह में उसकी पुलिस के साथ मुठभेड़ हो गयी थी। उसमें वह बच निकला था। लेकिन उसकी मां शैल देवी की गोली लगने से मौत हो गयी थी। बताते चलें कि 11 जनवरी को पुलिस को छोटू मिश्रा और मिथिलेश पासवान के नगर थाना क्षेत्र कि आनंद नगर में होने की सूचना मिली थी। उस आधार पर पुलिस छापेमारी करने पहुंची। तब उसने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी थी। छोटू और पुलिस की बीच उसकी मां आ गयी। इस दौरान उसकी मां को गोली लग गयी और मौत हो गयी। उसके बाद से ही छोटू फरार चल रहा था।

पुलिस आंकड़ों के अनुसार छोटू मिश्रा पर नगर थाने में आठ मामले हैं। इनमें हत्या, हत्या के प्रयास, फायरिंग और आर्म्स एक्ट से संबंधित हैं। इसके अलावे सहार और अजीमाबाद थाने में भी केस है। अजीमाबाद थाने में इसी साल लूट, हत्या के प्रयास और आर्म्स एक्ट का मामले दर्ज हुआ है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक अरवल मे भी उसके खिलाफ केस की जानकारी मिली है।

दहशत पैदा करने को लेकर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाने में छोटू माहिर 

Chhotu fired bullets आरा। शहर सहित पूरे जिले के लिये आतंका बनता जा रहा छोटू मिश्रा काफी शातिर अपराधी बन गया है। वह दहशत पैदा करने को ताबड़तोड़ गोलियां चलाता था। उसने अधिकतर घटनाओं में दस से अधिक गोलियां चलायी है। ठेकेदार राजू यादव को उसने करीब 12 गोलियां मारी थी। इससे पहले 6 नवंबर 2019 को भी इसी अंदाज में शहर के गांगी के पास एक युवक को गोलियां से भून दिया गया था। तब भी दो दर्जन से अधिक फायरिंग की गयी थी। उसमें भी छोटू मिश्रा का नाम आया था।

- Advertisment -
AD
Ad
Akash Yadav Murder Shahpur
Akash Yadav Murder Shahpur Bihar

Most Popular