Monday, September 26, 2022
No menu items!
Homeअन्यचर्चित खबरउच्च ब्याज दर पर शॉट टर्म लोन ऐप्स से सावधान

उच्च ब्याज दर पर शॉट टर्म लोन ऐप्स से सावधान

उच्च ब्याज दर पर शॉट टर्म लोन ऐप्स से सावधान, वरना खाता हो जायेगा खाली
भोजपुर पुलिस की अपील:
साइबर क्राइम के लिए अजब गजब तरीके अपना रहे फ्रॉड
ऐसे लोन ऐप्स आपके संपर्कों और तस्वीरों का कर सकते हैं दुरूपयोग
बिजली बिल बकाया होने का एसएमएस देकर भी ठगी कर रहे साइबर अपराधी
आरा। अगर आप सोशल साइट यूजर हैं और ऐप्स के जरिए लोन लेने की सोच रहे हैं, तो सावधान हो जाए। शॉर्ट टर्म में उच्च ब्याज दर देने वाले ऐप्स से बच के रहिए। वरना आप किसी बड़ी मुश्किल में पड़ सकते हैं। भोजपुर पुलिस की ओर से इसे लेकर आम लोगों से अपील जारी की गयी है। भोजपुर पुलिस की फेसबुक पेज पर एक पोस्ट शेयर कर लोगों से सावधान रहने को कहा गया है। साइबर दोस्त के पोस्ट के जरिए कहा गया है कि ऐसे ऐप्स से सावधान रहें, जो उच्च ब्याज दर पर लोन देने की बात करते हैं। कहा गया है कि कुछ ऐप्स अधिक ब्याज दर पर अल्प कालीन ॠण प्रदान करत हैं। बाद में ऐप्स आपको परेशान करने के लिए आपके संपर्कों और तस्वीरों का दुरुपयोग भी कर सकते हैं। बताया जा रहा है कि भोजपुर सहित समूचे सूबे में साइबर अपराधी हाल दिनों फ्रॉड करने के नये-नये तरीके इजाद कर रहे हैं। कभी लोन ऐप्स तो कभी बिजली कटने का एसएमएस देकर ठगी की कोशिश कर रहे हैं। इससे बचने को ले भोजपुर पुलिस और आर्थिक अपराध इकाई, पटना द्वारा लगातार लोगों को जागरूक किया जा रहा है। साइबर अपराध का शिकार होने पर 1930 पर डायल करने की सलाह भी दी जा रही है।

बिजली आपूर्ति बाधित करने की धमकी देकर की जा रही ठगी
भोजपुर पुलिस के अनुसार बिल बकाया होने का हवाला और आपूर्ति बाधित करने की धमकी देकर भी साइबर अपराधियों द्वारा ठगी की जा रही है। इसे लेकर भी पुलिस की ओर से लोगों को सचेत रहने की सलाह दी गयी है। फेसबुक पेज के जरिए भोजपुर पुलिस द्वारा कहा गया है कि बिजली कटने के नाम पर मिलने वाले मैसेज से सावधान रहें। वरना आपका खाता खाली हो सकता है। भोजपुर पुलिस की मानें तो साइबर अपराधियों की ओर से बिजली का बिल बकाया होने का एसएमएस भेजा जा रहा है। उसमें बिजली आपूर्ति बाधित किये जाने की धमकी दी जाती है। एसएमएस में मोबाइल नंबर भेज उस पर संपर्क करने को कहा जाता है। उसके बाद ठगी की जाती है।

बचने के उपाय: बिजली विभाग या बोर्ड से तुरंत वेरिफाई करें
भोजपुर पुलिस की ओर से इस तरह की ठगी से बचने के उपाय भी सुझाए गए हैं। कहा गया है कि अगर आपके पास इस तरह का एसएमएस आये‌, तो उसे अच्छे से चेक कर लें। देख लें कि मैसेज कहां से आया है।किसी भी प्राइवेट नंबर या खाते पर पेमेंट नहीं करें। उस नंबर पर अपनी जानकारी साझा नहीं करें और बिजली बोर्ड से वेरिफाई जरूर करें। पुलिस की ओर से कहा गया है कि किसी भी शिकायत अथवा इससे संबंधित मुद्दे को, सोशल मीडिया मंचों पर पोस्ट करते समय व्यक्तिगत विवरण साझा करने से बचें। क्योंकि यह विवरण साइबर धोखेबाजों के द्वारा ठगी करने और आपसे ग्राहक सेवा अधिकारी के रूप में बात करने के लिए दुरुपयोग किया जा सकता है।

KRISHNA KUMAR
KRISHNA KUMAR
Journalist
- Advertisment -

Most Popular