Tuesday, April 13, 2021
No menu items!
Home आरा भोजपुर बिहिया ऑटो ने बाइक सवार मां-बेटी सहित तीन को रौंदा, मां की मौत

ऑटो ने बाइक सवार मां-बेटी सहित तीन को रौंदा, मां की मौत

Gaura Umravganj जख्मियों में एक इलाज के लिए निजी अस्पताल से पटना रेफर

मो. वसीम खबरे आपकी Gaura Umravganj आरा। भोजपुर के बिहिया थाना क्षेत्र के गौरा एवं उमरावगंज गांव के बीच ऑटो ने बाइक सवार मां-बेटी सहित तीन को रौंद दिया। हादसे में मां की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। जबकि उसकी बेटी एवं भतीजा जख्मी हो गया। इसके बाद दोनों को इलाज के लिए शहर के निजी अस्पताल में लाया गया। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद भतीजे की हालत को चिंताजनक देखते हुए पटना रेफर कर दिया गया।

बिहिया थाना क्षेत्र के गौरा एवं उमरावगंज गांव के बीच सोमवार की शाम घटी घटना

पढ़े :- नाबालिग को प्रेमजाल शादी का प्रलोभन देकर भगाने वाला दो बच्चे का बाप गिरफ्तार

जानकारी के अनुसार मृतका बिहिया थाना क्षेत्र के गौरा गांव निवासी विनोद पासवान की पत्नी पूजा देवी है। वही जख्मियों में उसकी बेटी पल्लवी एवं बिहिया गांव निवासी उसका भतीजा बिहारी पासवान का पुत्र सोनू पासवान है। इधर, मृतका के परिजनों ने बताया कि वह बिहिया थाना क्षेत्र के बिहिया में अपने मामा के घर बर्थडे पार्टी में गई थी। आज शाम वह अपनी बेटी पल्लवी एवं भतीजे सोनू पासवान के साथ बाइक से वापस अपने घर गौरा लौट रही थी। इसी बीच गौरा एवं उमरावगंज (Gaura Umravganj) गांव के बीच विपरीत दिशा से आ रही ऑटो ने तीनो को रौंद दिया।

हादसे में पूजा देवी की मौके पर ही मौत हो गई। वही उसका भतीजा सोनू पासवान एवं उसकी बेटी पल्लवी जख्मी हो गई। उन्हें इलाज के लिए शहर के निजी अस्पताल में लाया गया। जहां से प्राथमिक उपचार करने के बाद सोनू पासवान की हालत को चिंताजनक देखते हुए पटना रेफर कर दिया गया है।

पढ़े :- बक्सर के तीन सगी बहनों का फेसबुकिया प्यार बना वेलेंटाइन डे सनसनी

बताया जाता है कि मृतका का मायका कोइलवर थाना क्षेत्र के बीरमपुर गांव है। लेकिन वह बिहिया थाना क्षेत्र के बिहिया गांव अपने मामा घर ही रहा करती थी। मृतका की शादी वर्ष 2015 में हुई थी। मृतका अपने दो भाइयों में सबसे बड़ी थी एवं अपने मां-बाप की इकलौती लाडली थी। मृतका के परिवार में मां बसंती देवी, एक पुत्री पल्लवी एवं दो भाई है। घटना के बाद मृतका के घर में कोहराम मच गया है। हादसे के बाद मृतका की मां बसंती देवी परिवार के सभी सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल था।

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular