Monday, October 3, 2022
No menu items!
HomeNewsCrimeकौंरा हत्या कांडः हत्या के बाद बाइक नहीं हुई स्टार्ट तो दूसरे...

कौंरा हत्या कांडः हत्या के बाद बाइक नहीं हुई स्टार्ट तो दूसरे की छीन भाग निकले अपराधी

Kauwra murder case: घटनास्थल से बरामद बाइक भी लूट की निकली, छोड़ कर भागे अपराधी

दस रोज पहले तेंदूनी के पास छीनी गयी थी घटनास्थल से बरामद अपाची बाइक

वारदात को अंजाम देने के बाद आरा की ओर भागे दोनों बदमाश

अपराधियों की पहचान और धरपकड़ में जुटी पुलिस, कर रही ताबड़तोड़ छापेमारी

भोजपुर: आरा-मोहनियां नेशनल हाईवे पर जगदीशपुर थाना क्षेत्र के कौंरा गांव के पास शनिवार की सुबह लूटपाट के दौरान हत्या की वारदात को अंजाम देकर अपराधियों ने सनसनी मचा दी। लूटपाट में विफल रहने पर अपराधियों ने पहले तो दो युवकों को गोली मार दी। उसके बाद बाइक धोखा दिया, तो अपराधी दूसरे की बाइक लूट कर भाग निकले। लूटी गयी बाइक आयर गांव निवासी पैक्स अध्यक्ष धीरज कुमार सिंह की बतायी जा रही है। उनकी बाइक यूपी के रहने वाले आयर गांव के ही एक रिश्तेदार उनकी बाइक लेकर आरा जा रहे थे। तभी घटना हो गयी। सुबह करीब नौ बजे हुई इस घटना से पुलिस के भी कान खड़े हो गये। सूचना मिलने पर पुलिस तत्काल घटनास्थल पर पहुंच गयी। तबतक अपराधी काफी दूर निकल चुके थे। पुलिस ने घटनास्थल से अपराधियों द्वारा छोड़ी बाइक बरामद की गयी। लेकिन वह बाइक भी लूट की बतायी जा रही है। जानकारी के अनुसार जब्त बाइक जगदीशपुर निवासी जीतेंद्र चौधरी की बतायी जा रही है। बताया जा रहा है कि करीब दस रोज पहले तेंदुनी के पास बाइक लूट ली गयी थी। 

Kauwra murder case: हत्या और लूट के बाद जीरो माइल की ओर भाग निकले अपराधी, पीछा कर रही

Kaura Jagdishpur Prince patwari shot dead Sunil injured

खबरे आपकी बताया जा रहा है कि लूटपाट का विरोध करने पर अपाची बाइक सवार अपराधियों ने कौंरा निवासी प्रिंस कुमार सिंह और सुनील सिंह को गोली मार दी। उसके बाद भागने लगे, लेकिन उनकी बाइक स्टार्ट नहीं हो रही थी। उसी समय यूपी के देवरिया गांव निवासी सत्येंद्र मिश्रा आयर निवासी पैक्स अध्यक्ष की बाइक लेकर आरा की ओर जा रही थी। इस दौरान अपराधियों ने हथियार का भय दिखा कर उनकी बाइक लूट ली और आरा की ओर भाग निकले। बताया जा रहा है कि सतेन्द्र मिश्रा की आयर गांव में ससुराल है। वह किसी काम के सिलसिले में आयर के पैक्स अध्यक्ष की बाइक लेकर आरा जा रहे थे। घटना के बाद से ही जगदीशपुर के थानाध्यक्ष संजीव कुमार के नेतृत्व में पुलिस अपराधियों की धरपकड़ में जुटे हैं। इसे लेकर आरा के जीरो माइल इलाके सहित अन्य ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की जा रही है। पुलिस तकनीकी जांच और मोबाइल सर्विलांस की भी मदद ले रही है। साथ ही लूटपाट के मामले में पूर्व से दागी रहे बदमाशों की भी खोज की जा रही है। 

चेन बचाने हथियारबंद अपराधियों से निहत्थे भिड़ गये, गंवानी पड़ी जान

Kauwra murder case: कौंरा निवासी प्रिंस कुमार सिंह और उनके दोस्त सोने की चेन बचाने की खातिर हथियारबंद अपराधियों से भिड़ गये। इस दौरान चेन तो बच गयी, लेकिन प्रिंस कुमार सिंह को अपनी जान गंवानी पड़ गयी। उनके दोस्त जख्मी सुनील सिंह भी मौत के साथ संघर्ष कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि सुबह करीब नौ बजे दोनों खेत की ओर जा रहे थे। तभी रास्ते में बाइक सवार बदमाश उनकी सोने की चेन छीनने लगे। इस पर दोनों निहत्थे ही अपराधियों से भिड़ गये। इसे देख अपराधी घबरा गये और दहशत पैदा करने एवं पकड़े जाने की डर से ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगे। इसमें दोनों को गोली लग गयी। इलाज के लिये अस्पताल ले जाने के दौरान प्रिंस कुमार सिंह की मौत हो गयी, जबकि सुनील सिंह का अभी इलाज चल रहा है। उनका इलाज कर रहे डा. विकास सिंह ने बताया कि जख्मी को दो गोली लगी है। एक गोली बायें साइड सीने में गोली लगी है, जो अंदर फंसी थी। दूसरी गोली उसके बायें हाथ में कलाई से ऊपर लगी थी, जो आर पार हो गई है। गोली लगने से काफी खून बह गया था और स्थिति भी काफी नाजुक बनी हुई है। हालांकि ऑपरेशन कर गोली निकाल दी गयी है। 

मेडिकल बोर्ड ने किया शव का पोस्टमार्टम, मिला बुलेट

मृतक प्रिंस कुमार सिंह के शव का मेडिकल बोर्ड द्वारा पोस्टमार्टम किया गया। उसमें शव से बुलेट भी निकाला गया। इससे पहले शव का एक्स-रे भी कराया गया। इसके लिये सिविल सर्जन डा. एलपी झा द्वारा तीन सदस्य डॉक्टरों का टीम गठित किया गया। उसमें ऑन ड्यूटी चिकित्सक डा  केएस चौबे, डा. एस किशुन और डा. महावीर प्रसाद गुप्ता शामिल थे। 

तीन भाइयों में छोटा था प्रिंस, घर में कोहराम

प्रिंस कुमार सिंह तीन भाइयों में सबसे छोटा था। उसके परिवार में मां माया देवी, पत्नी रंजू देवी, पुत्र अंश और एक सात महीने की पुत्री है। घटना के बाद उसके घर में कोहराम मच गया है। मां माया देवी और पत्नी रंजू देवी  परिवार के सभी सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल था। बेटे और बेटी भी बेहाल थे।

MD WASIM
MD WASIM
Journalist
- Advertisment -
shayamji rai
shayamji rai shahpur
9999136320 9308750659
shayamji rai shahpur

Most Popular