Wednesday, February 28, 2024
No menu items!
Homeअन्यचर्चित खबरज्वेलरी शॉप में मोस्ट वांटेड एवं लूट गिरोह का मास्टर माइंड गिरफ्तार

ज्वेलरी शॉप में मोस्ट वांटेड एवं लूट गिरोह का मास्टर माइंड गिरफ्तार

Most wanted arrested in Ara-गोपाली चौक लूटकांडः

लूटकांड शामिल में अब तक 13 अपराधी गिरफ्तार, दो अन्य की तलाश

एसपी ने की गिरफ्तारी की पुष्टि, बोले: जल्द सौंपी जायेगी चार्जशीट  

खबरे आपकी आरा टाउन थाना क्षेत्र के गोपाली चौक स्थित ज्वेलरी शॉप डकैती कांड का मोस्ट वांटेड पुलिस के हत्थे चढ़ गया। नगर थाना क्षेत्र से पुलिस ने बुधवार की रात उसे गिरफ्तार कर लिया। वह पटना के फुलवारी शरीफ का रहने वाला शन्नी कुरैशी है। पुलिस उसे लूट गिरोह का सेकेंड मैन और मास्टर माइंड बता रही है। एसपी विनय तिवारी ने उसकी गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

बताया कि लूट कांड में शन्नी कुरैशी की बड़ी भूमिका थी। वह लूटपाट करने में शामिल था। साथ ही आगे भी लूट की साजिश भी कर रहा था। कुछ दिन पहले भी इस मामले में बड़हरा इलाके के रहने वाले विष्णु कुमार को गिरफ्तार जेल भेज दिया गया था। इस लूटकांड में अबतक 13 अपराधियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। जेवर भी बरामद कर लिये गये हैं। अब सिर्फ दो लुटेरों की तलाश है। जल्द ही उन दोनों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

एसपी ने बताया कि इस मामले में बहुत जल्द ही चार्जशीट सौंपी जायेगी। उसके बाद स्पीडी ट्रायल की कार्रवाई शुरू की जायेगी। बता दें कि नौ अगस्त की शाम गोपाली चौक के पास शुक्ला मार्केट की दो ज्वेलरी शॉप पर धावा बोल लाखों के जेवर की लूट ली गयी थी। लेकिन पुलिस ने छह दिन के अंदर ही खुलासा करते हुये सरगना इमरान सहित 11 अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया था। बाद में विष्णु कुमार और अब शन्नी कुरैशी को दबोच लिया गया। हालांकि इस मामले में अभी भी दो अपराधी फरार चल रहे हैं। इनमें बड़हरा और कोईलवर इलाके का रहने वाला आकाश और अन्नु शामिल हैं।

पढ़ें- तयशुदा शादी जब लेनदेन में लटका – पुलिस थाने में अरेंज मैरिज बना प्रेम विवाह

Most wanted arrested in Ara-इमरान के कोर्ड वर्ड के प्रयोग से बच निकला था शन्नी कुरैशी

Most wanted arrested in Ara
Most wanted arrested in Ara – इमरान के कोर्ड वर्ड के प्रयोग से बच निकला था शन्नी कुरैशी

आरा शहर के गोपाली चौक स्थित सोने-चांदी की दुकान में डकैती मामले में पुलिस के हत्थे चढ़े शन्नी कुरैशी काफी चालाक व शातिर है। बताया जाता है कि घटना के कुछ दिन बाद पुलिस ने इस मामले में इमरान को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस टीम ने उस वक्त इमरान से शन्नी कुरैशी को मोबाइल से बात कराया, ताकि वह गिरफ्त में आ सके। हालांकि इस दौरान इमरान ने कोड वर्ड “सील” का प्रयोग कर शन्नी कुरैशी को सतर्क कर दिया। इसके बाद वह फतुहा की ओर भाग निकला और अपना मोबाइल बंद कर दिया। जब शन्नी कुरैशी गिरफ्त में आया तो पुलिस ने पूछताछ किया तो बताया कि हम लोग पुलिस द्वारा गिरफ्तार करने पर कोड वर्ड “सील” का प्रयोग करते हैं। इमरान ने भी अपनी गिरफ्तारी के बाद “सील” शब्द का प्रयोग बातचीत के दौरान कर दिया था। जिससे वह समझ गया था कि वह पुलिस के गिरफ्त में आ चुका है। इसके बाद वह भाग निकला।

पढ़ें- राखी के दिन नाग-नागिन लेकर बहन के घर पहुंचा था भाई, नागिन ने डसा

डकैती में गिरफ्तार विष्णु हत्या के मामले में था आरोपित

Most wanted arrested in Ara आरा। सोने-चांदी की दुकान में डकैती के मामले में एक सप्ताह पूर्व गिरफ्तार बिष्णु कुमार पूर्व में हत्या का आरोपित रहा था। बताया जाता है कि कृष्णगढ के सरैया में दो वर्ष पूर्व एक कपड़ा दुकानदार की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उक्त मामले में विष्णु कुमार भी आरोपित रहा था। उस मामले में वह जेल भी जा चुका था।

पढ़ें- अस्पताल पहुंच सीएम नीतीश कुमार एवं तेजस्वी यादव ने पूर्व सांसद की बीमार पत्नी का जाना हाल

- Advertisment -

Most Popular