Monday, March 8, 2021
No menu items!
Home News आरा में मरीज का इलाज कराने आये लोगों ने पुलिस जमादार को...

आरा में मरीज का इलाज कराने आये लोगों ने पुलिस जमादार को पीटा-दी धमकी

सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड की रविवार देर रात की घटना

मारपीट करने वालों ने पुलिस जमादार को दी गोली मारने की धमकी

फार्मासिस्ट व नर्स के साथ भी की नोकझोंक, कर्मियों ने किया काम का बहिष्कार

मारपीट को लेकर जमादार ने दो लोगों के खिलाफ नगर थाने में दिया आवेदन

आरा। सदर अस्पताल की इमरजेंसी वार्ड में रविवार की रात महिला का इलाज कराने आये लोगों ने एक पुलिस जमादार की जमकर पिटाई कर दी। इस दौरान जमादार को गोली मारने की धमकी भी दी गयी। मारपीट की घटना टाउन थाना के जमादार संतोष कुमार सिंह के साथ हुई। इसमें उनको काफी चोटें आयी है। उनका इलाज सदर अस्पताल में कराया गया। इसके पूर्व इमरजेंसी वार्ड की एक नर्स और फार्मासिस्ट के साथ भी नोकझोंक व गाली-गलौज की गयी। इसे लेकर इमरजेंसी वार्ड में काफी देर तक अफरातफरी मची रही। इस घटना के बाद इमरजेंसी वार्ड के कर्मियों ने काम ठप्प कर दिया।

महिला ने की थी लव मैरेज, दो बच्चें भी है

मारपीट को लेकर जमादार ने दो लोगों के खिलाफ नगर थाने में दिया आवेदन

इधर, मारपीट को लेकर जमादार संतोष कुमार सिंह द्वारा नगर थाने में दो लोगों के खिलाफ आवेदन दिया है। इसमें शहर के आयर थाना क्षेत्र के बरनांव और जगदेव नगर के रहने दो लोगों पर मारपीट का आरोप लगाया गया है। पुलिस जमादार के अनुसार रविवार की रात वह सड़क हादसे में एक मृतक के शव का पोस्टमार्टम कराने गये थे। रात सवा एक बजे शहर के जगदेव नगर निवासी संतोष कुमार सिंह एक महिला का इलाज कराने इमरजेंसी वार्ड में आया था। रजिस्ट्रेशन कराने के बाद डाक्टर को दिखा मरीज को ओटी में ले गया। वहां किसी बात को लेकर वह और उसके साथी ओटी में मौजूद आॅन डियूटी फार्मासिस्ट व नर्स से उलझ पड़े। इसको लेकर हो-हल्ला हुआ।

चरपोखरी थाना के गड़हनी बाजार स्थित सहिला पुल पर हुआ हादसा

इसे सुन टाउन थाना के पुलिस जमादार संतोष कुमार सिंह ओटी में पहुंचे। उन्होंने मरीज के साथ आये लोगों को शांत करा दिया। इसके बाद बाहर आकर दवा दुकान के पास बैठ गये और अपना काम करने लगे। इसी बीच महिला मरीज के साथ आये दोनों लोग पहुंच गये और उन्हें कुर्सी से धकेल कर नीचे गिरा दिया। इसके बाद गमछे से गला दबाने लगे। उनकी छाती पर चढ़ गये और पिटाई कर दी। इस दौरान दोनों द्वारा जमादार को गोली मारने की भी धमकी दी गयी। इसके बाद मारपीट करने वाले लग्जरी वाहन से निकल गये। इसकी सूचना पुलिस जमादार द्वारा टाउन थाना की पुलिस व वरीय पुलिस अफसरों को दी गई। हालांकि जबतक पुलिस अस्पताल पहुंचती तब तक दोनों गाड़ी पर सवार हो भाग निकले।

फार्मासिस्ट व नर्स के साथ भी की नोकझोंक, कर्मियों ने किया काम का बहिष्कार

इधर, कंपाउंडर व नर्स के साथ नोकझोंक के बाद कर्मियों ने कुछ देर के लिये इमरजेंसी कार्य का बहिष्कार कर दिया। इससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बाद में सदर अस्पताल के अधीक्षक डाॅ. सतीश कुमार सिन्हा की पहल पर सोमवार की सुबह कर्मी काम पर लौटे।

बेड सेनिटराइज करने को ले कर्मियो से भिड़ गये थे लोग

आरा। सदर अस्पताल में महिला मरीज का इलाज कराने आए लोग बेड सेनिटराइज करने को लेकर कर्मियों से भिड़ गए। लोगों का कहना था कि आप पहले बेड को सेनिटराइज करें। उसके बाद ही मरीज को बेड पर लेटाएंगे। इस पर कर्मी समझाते हुए बोल रहे थे कि बेड को सेनिटराइज नहीं किया जाता है। प्रतिदिन समय-समय पर वार्ड को सेनिटराइज किया जाता है। लेकिन मरीज के साथ आए लोग मानने को तैयार नहीं थे।

आरा में मरीज का इलाज कराने आये लोगों ने पुलिस जमादार को पीटा-दी धमकी

और भी पढ़े – खबरें आपकी-फेसबुक पेज

मुफस्सिल थाना क्षेत्र के कौशिक दुलारपुर एवं रतन दुलारपुर के बीच निर्माणाधीन फोरलेन पर घटी घटना

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular