Saturday, October 23, 2021
No menu items!
Homeबिहारआरा भोजपुरधोखाधड़ी: तीन डीसमील के बदले धोखे से लिखवा ली 72 डीसमील जमीन

धोखाधड़ी: तीन डीसमील के बदले धोखे से लिखवा ली 72 डीसमील जमीन

Land Registry Fraud-सहार थाना क्षेत्र के माधोपुर गांव की घटना, प्राथमिकी दर्ज कर छानबीन कर रही पुलिस

आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने में फंसे पुलिस मेंस एसोसिएशन के अध्यक्ष के भाई पर आरोप

अधिक जमीन लिखवाने का विरोध करने पर दंपति को जान से मारने की धमकी

खबरे आपकी आरा/सहार। Land Registry Fraud भोजपुर जिले के सहार थाना क्षेत्र के मोजफ्फरपुर गांव निवासी पुलिस मेंस एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष नरेंद्र कुमार धीरज और उनके परिजनों की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है। आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने में फंसे प्रदेश अध्यक्ष के भाई पर जमीन हड़पने का आरोप लगा है। इसे लेकर सहार थाने में एक प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। उसमें नरेंद्र कुमार धीरज के भाई शशिभूषण यादव को नामजद किया गया है। उन पर दिमागी रूप से बीमार चल रहे एक शख्स से तीन के बदले धोखे से 72 डीसमील जमीन लिखवा लेने और विरोध करने पर दंपती को जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगा है।

पढ़ें- पार्टी में बना प्लान और शाम में गोलियों से भून दिया गया माले नेता का पुत्र

एक अन्य भाई अशोक कुमार यादव पर उसे सहयोग करने का आरोप लगाया गया है।अशोक कुमार यादव फिलहाल ट्रक चालकों से अवैध वसूली में जेल में बंद है। उसे जून माह में अरवल से गिरफ्तार किया गया था। उसके पास से करीब सात लाख रुपये भी बरामद किये गये थे। उस मामले में सहार के तत्कालीन थानाध्यक्ष आनंद कुमार फरार चल रहे हैं। उसे बर्खास्त भी कर दिया गया है। बता दें कि पिछले 21 सितंबर को ही सिपाही नरेंद्र कुमार धीरज और उनके परिजनों के सभी ठिकानों पर एक साथ आर्थिक अपराध इकाई टीम द्वारा छापेमारी की गयी थी। उस दौरान आईओयू टीम को सिपाही और उनके परिजनों के पास करीब साढ़े नौ करोड़ की संपत्ति होने का सबूत मिला था। उस मामले में सिपाही और उनके परिजनों के खिलाफ मामला भी दर्ज है।

पढ़ें- आरा शहर के नगर थाना क्षेत्र पड़ोसी की पत्नी को भगा ले जाना वाला गिरफ्तार

Land Registry Fraud-खेसरा नंबर में हेराफेरी कर लिखवा ली 72 डीसमील जमीन

Land Registry Fraud

आरा/सहार। सहार थाना क्षेत्र के माधोपुर गांव निवासी नारायण पांडेय की पत्नी रूपा देवी की ओर से जमीन हड़पने की प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। पांच अक्टूबर 2021 को दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है कि 2018 में मोजफ्फरपुर निवासी शशिभूषण यादव से तीन डीसमील जमीन की बात हुई थी। लेकिन उन्होंने खेसरा नंबर बदल धोखे से 72 डीसमील जमीन लिखवा ली गयी। रूपा देवी द्वारा कहा गया है कि उनके पति की 2016 से ही दिमागी इलाज चल रहा है। इसी बीच शशिभूषण यादव द्वारा उनसे जमीन खरीदने की बात की गयी। उसके बाद शशिभूषण यादव अपने भाई अशोक कुमार यादव के साथ उनके पति को बीमारी हालत में बोलेरो से जगदीशपुर ले गये और अधिक जमीन लिखवा ली। इसकी जानकारी मिलने पर उसने विरोध किया, तो दरवाजे पर आकर उठवा लेने और जान से मरवा देने की धमकी दी गयी। बहरहाल पुलिस प्राथमिकी दर्ज कर मामले की छानबीन में जुट गयी है।

ये भी पढ़ें-जिंदगी इम्तिहान लेती है… गाने वाले दारोगा दिलीप कुमार निराला की जिंदगी की शुरु हुई परीक्षा

ये भी पढ़ें-प्रेम प्रसंग और पैसे लेनदेन के बाद बातचीत बंद करने से नाराज युवक ने कथित प्रेमिका पर चलायी गोली

- Advertisment -
ad
ad
ad
ad
ad (2)
AD
ad
ad (2)
Ad

Most Popular