Tuesday, May 18, 2021
No menu items!
Homeमनोरंजनकलाकथक आइकॉन सम्मान से सम्मानित हुई नृत्यांगना सोनम

कथक आइकॉन सम्मान से सम्मानित हुई नृत्यांगना सोनम

कथक नृत्य प्रस्तुत कर पंडित किशन महाराज को किया याद

आरा। भारतीय अटल सेना कला एवं साहित्य मंच के द्वारा आयोजित इमर्जिंग आर्टिस्ट ऑफ इंडिया सीरीज में आरा की मशहूर कथक नृत्यांगना सोनम कुमारी (Sonam Kathak) ने कथक नृत्य प्रस्तुत कर तबला के प्रकांड विद्वान पद्मविभूषण पंडित किशन महाराज को जयंती पर याद किया।

कथक गुरू बक्शी विकास की गंडाबद्ध शिष्या सोनम कुमारी ने कथक (Sonam Kathak) की शुरुआत सरस्वती वंदना से करते हुऐ तीन ताल में उपज, ठाट, उठान, आमद, परन, टुकड़े, तिहाई समेत ताल शास्त्र के पांचों जातियों की क्लिष्ट बंदिशों को प्रस्तुत कर समां बांधा।

“अब ना सताओ मोरे पियरवा” पर नृत्यांगना सोनम की भाव भंगिमाएं व अभिनय ने ई-कंसर्ट में भरा रंग

भोजपुर में एसआई व एएसआई समेत चार दर्जन पुलिस अफसरों का तबादला

वही गत निकास व गुरू बक्शी विकास द्वारा रचित बंदिश की ठुमरी “अब ना सताओ मोरे पियरवा” पर नृत्यांगना सोनम (Sonam Kathak) की भाव भंगिमाएं व अभिनय ने इस ई-कंसर्ट में रंग भर दिया। तबले पर गुरू बक्शी विकास व हारमोनियम पर रोहित कुमार ने बखूबी संगत किया।

नृत्यांगना के सम्मान में भारती अटल सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष हरी प्रसाद तिवारी ने कहा कि सोनम कथक के क्षेत्र में काफी लोकप्रिय हैं, इन्हो ने कठिन परिश्रम से कथक को ऊचाई देने का सराहनीय कार्य कर रही हैं। इस समारोह में सोनम कुमारी को कथक आइकॉन सम्मान से सम्मानित किया गया।

देखें: – खबरे आपकी – फेसबुक पेज

आरा में हथियारों की खेप के साथ तस्कर गिरोह के तीन शातिर सदस्य गिरफ्तार

भोजपुर के बेलवनिया बाजार SBI बैँक से फर्जी अंगूठा निशान लगा पर्ची के माध्यम की गई निकासी

शाहपुर के आलू व्यवसायी के भाई को गोली मारकर घायल करने के मामले में नया मोड़

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular