Saturday, October 23, 2021
No menu items!
HomeNewsCrimeभोजपुर पुलिस ने 48 घंटे में हत्याकांड का किया खुलासा,तीन गिरफ्तार

भोजपुर पुलिस ने 48 घंटे में हत्याकांड का किया खुलासा,तीन गिरफ्तार

Dhananjay murder case-लूटपाट के दौरान पटना के खलासी की हत्या में तीन गिरफ्तार

हत्या में इस्तेमाल खून लगा चाकू और लूटे गये मोबाइल भी बरामद

हत्या में दो और लूटा गया मोबाइल खरीदने में एक गिरफ्तार

खबरे आपकी आरा। आरा-पटना बाइपास पर बस स्टैंड के समीप लूट के दौरान चाकू मार पटना के पिकअप खलासी की हत्या 48 घंटे में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने घटना में शामिल तीन अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है। इनके पास से लूटे गये दोनों मोबाइल और दो चाकू भी बरामद किये गये हैं। इनमें एक खून सना चाकू है, जिसका इस्तेमाल हत्या में किया गया था। गिरफ्तार अपराधियों में नवादा थाना क्षेत्र के करमन टोला निवासी 

वितेश कुमार उर्फ धांगुर उर्फ भोला, करनामेपुर ओपी क्षेत्र के सोनवर्षा गांव निवासी राकेश कुमार उर्फ धीरज और आरा मुफस्सिल थाना क्षेत्र के धुधुआं निवासी रंजीत कुमार है। इनमें रंजीत कुमार ट्रक चालक है और उस पर लूट का मोबाइल खरीदने का आरोप है। वितेश और राकेश लूटपाट और हत्या करने में शामिल थे। सहायक पुलिस अधीक्षक सह सदर एसडीपीओ हिमांशु ने शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस में यह जानकारी दी। 

उन्होंने बताया कि दोनों ने लूटपाट का विरोध करने पर पटना निवासी पिकअप के खलासी धनंजय कुमार की हत्या कर दी थी। घटना के बाद एसपी द्वारा उनके नेतृत्व में टीम का गठन किया गया था। टीम द्वारा तकनीकी जांच और सूचना के आधार पर तीनों अपराधियों की पहचान कर गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों का आपराधिक रेकॉर्ड खंडाला जा रहा है। लेकिन अभी तक कोई रेकॉर्ड नहीं मिला है। 

पढ़ें- पार्टी में बना प्लान और शाम में गोलियों से भून दिया गया माले नेता का पुत्र

पढ़ें- आरा शहर के नगर थाना क्षेत्र पड़ोसी की पत्नी को भगा ले जाना वाला गिरफ्तार

Dhananjay murder case-स्पीडी ट्रायल चला कर हत्या और लूटपाट करने वालों की दिलायी जायेगी सजा 

Dhananjay murder case
Dhananjay murder case

आरा सदर एसडीपी ने बताया कि यह घटना पूरी तरह ब्लाइंड थी। तकनीकी जांच के जरिये इस केस का खुलासा करते हुये अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है। अपराधियों को स्पीडी ट्रायल चलाकर सजा दिलायी जायेगी। इसके लिये कोर्ट को जल्द स्पीडी ट्रायल का प्रस्ताव भेजा जायेगा। वहीं टीम में शामिल पुलिस कर्मियों को पुरस्कृत किया जायेगा। टीम में नगर थानाध्यक्ष शंभू कुमार भगत, नवादा थानाध्यक्ष अविनाश कुमार,  डीआईयू के दारोगा अवधेश कुमार, कुमार रजनीकांत, सुदेह कुमार, राजीव कुमार  ओर राकेश कुमार शामिल थे।

लूटपाट का विरोध करने पर वितेश ने खलासी को मारा था चाकू

Dhananjay murder case-लूटपाट के दौरान अपराधियों का विरोध करना पटना रहने वाले धनंजय को महंगा पड़ा था। वितेश कुमार उर्फ धांगुर उर्फ भोला ने उसके सिने में चाकू घोंप दिया था। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी थी। एएसपी सह आरा सदर एसडीपीओ ने वितेश कुमार उर्फ धांगुर से पूछताछ के बाद यह जानकारी दी। बताया कि  जब वितेश पटना के फतुहा निवासी पिकअप चालक से एक हजार रुपये और मोबाइल छीन कर जा रहा था। तब खलासी धनंजय कुमार ने उसको पकड़ लिया। उससे बचने के लिए वितेश ने चाकू मार दिया था।

बता दें कि आरा-पटना बाइपास पर छह अक्टूबर बुधवार की देर रात पटना के फतुहा थाना क्षेत्र के नियाजीपुर निवासी गांगुली कुमार और दोस्त मोहम्मदपुर निवासी धनंजय कुमार दवा अनलोड कर बक्सर से लौट रहे थे। तभी आरा के चंदवा के समीप उनकी पिकअप खराब हो गयी। टोचन कर उसे दोनों बस स्टैंड के पास ले गये। वहां दोनों मैकेनिक का इंतजार कर रहे थे, तभी दो बदमाश पहुंच गये। इस दौरान दोनों लूटपाट करने लगे। एक हजार रुपये और दोनों के मोबाइल छीन लिया गया। इसी क्रम में अपराधियों ने खलासी धनंजय को चाकू मार दिया था। 

ट्रक चालक ने 18 सौ रुपये में अपराधियों से खरीदा था लूटा गया मोबाइल

Dhananjay murder case-धुधुआं गांव का रहने वाला ट्रक चालक रंजीत कुमार सस्ते में मोबाइल खरीदने के चक्कर में फंस गया। उसने 18 सौ रुपये में एंड्रावयड मोबाइल खरीदा था। लेकिन मोबाइल एक्टिवेट करते ही वह पुलिस की रडार पर आ गया और उसे गिरफ्तार कर लिया गया। लूटपाट के दौरान अपराधियों ने चालक और खलासी से एक हजार रुपये, एक कीपैड मोबाइल व बिना सिम वाला एंड्रावय मोबाइल छीन लिया गया था। लूटपाट के बाद अपराधियों द्वारा एंड्रावयड मोबाइल बेच दिया था। 

लूटे गये कैमरा के साथ एक गिरफ्तार, बाइक जब्त

आरा शहर की नवादा थाना की पुलिस ने छिनतई के एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके पास से छीना गया एक कैमरा बरामद किया गया है। उसके पास से एक बाइक भी जब्त की गयी है। गिरफ्तार आरोपित नवादा थाना क्षेत्र के श्रीटोला का रहने वाला नीतीश कुमार है। पुलिस के अनुसार कुछ माह पहले एक युवक का कैमरा छीन लिया गया था। जांच के दौरान सीसीटीवी फुटेज से नीतीश की पहचान की गयी थी। वह पहले भी छिनतई की घटनाओं में शामिल रहा है। इधर, पुलिस ने फायरिंग के एक आरोपित मंटू पासवान को गिरफ्तार किया है। वह श्रीटोला का रहने वाला है। 2019 में फायरिंग की घटना में उसका नाम आया था। तब से ही वह फरार चल रहा था।

ये भी पढ़ें-जिंदगी इम्तिहान लेती है… गाने वाले दारोगा दिलीप कुमार निराला की जिंदगी की शुरु हुई परीक्षा

ये भी पढ़ें-प्रेम प्रसंग और पैसे लेनदेन के बाद बातचीत बंद करने से नाराज युवक ने कथित प्रेमिका पर चलायी गोली

- Advertisment -
ad
ad
ad
ad
ad (2)
AD
ad
ad (2)
Ad

Most Popular