Sunday, March 7, 2021
No menu items!
Home Uncategorized डीएम ने जिले के सभी प्रखंडों के पदाधिकारियों के साथ की बैठक

डीएम ने जिले के सभी प्रखंडों के पदाधिकारियों के साथ की बैठक

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा बैठक कर दिए निर्देश

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए अगले 5 दिन को बताया निर्णायक

बाहर से आए लोगो के लिए कम्युनिटी किचन चलाने की व्यवस्था की जा रही व्यवस्था

बिहार आरा। जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा द्वारा सभी प्रखंडों के पदाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा आज बैठक की गई। जिसमें कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए अगले 5 दिन को निर्णायक बताया गया। उक्त बैठक में सभी सरकारी कर्मियों को निर्देश दिया कि अगले 5-10 दिन में यदि बाहर से आए व्यक्तियों में कोई संक्रमण की सूचना नहीं प्राप्त होती है, तो इसे हम बेहतर स्थिति कह सकते हैं। परंतु अगले 5 दिन को बहुत ही सावधानी से अनुश्रवण किया जाना होगा। जिन्हें होम क्वॉरेंटाइन में रखा गया है। उन पर सतत् निगरानी बनाए रखने का निर्देश दिया गया। ताकि वह घरों से बाहर नही निकले। यही एक तरीका होगा जिससे संक्रमण को बाहर नहीं फैलाया जा सकेगा।

भोजपुर में सडक हादसे के दौरान बंगाल के उप चालक की मौत

जिला प्रशासन भोजपुर द्वारा बाहर से आए ऐसे लोग जो अपने घरों तक नहीं पहुंच पाए हैं अथवा उनके पास खाने-पीने का कोई साधन नहीं रह गया है। वैसी स्थिति को देखते हुए कम्युनिटी किचन चलाने की व्यवस्था की जा रही है। शहरी क्षेत्रों में खासकर नगर निकायों में सरकारी विद्यालयों को चिन्हित किया गया है, जिसमें चारदीवारी के अंदर चयनित व्यक्तियों को रखा जाएगा एवं उनके खाने-पीने की एवं रहने की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए आपदा विभाग का सहयोग लिया जा रहा है। आपतस्थिति में किये जाने वाले कार्यों के तर्ज पर ही इस कम्युनिटी किचन को संचालित किया जाएगा। खाद्यान्न की व्यवस्था हेतु जिला आपूर्ति पदाधिकारी को प्राधिकृत किया गया है।

जिला पदाधिकारी द्वारा स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि उक्त भवन में चारदीवारी अवश्य होने चाहिए एवं सोशल डिस्टेंशन को पूर्णतया लागू करते हुए आवासन की व्यवस्था कराई जाए। इसके लिए आरा के क्षत्रिय स्कूल, बिहिया के नवोदय विद्यालय, शाहपुर के प्लस टू हरिनारायण विद्यालय, कोइलवर के आरपीपी विद्यालय, जगदीशपुर के एस हाई स्कूल को चिन्हित किया गया है। साथ ही सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों द्वारा धावा दल के गठन की भी समीक्षा की गई। धावा दल का कार्य सब्जी अथवा किराना दुकानों पर यदि कोई अधिक दाम में सामग्री की बिक्री कर रहे हैं तो उन्हें रोकने के लिए लगाया जाएगा।

सड़क पर बाइक चलाने वालों को पुलिस ने कराया दंड-बैठक

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular