Monday, March 8, 2021
No menu items!
Home राजनीत किसानों की मांगों को पूरा करे सरकार-राजू यादव

किसानों की मांगों को पूरा करे सरकार-राजू यादव

farmers – किसान विरोधी कानून वापस ले, आंदोलनरत किसानों की मांगों को अविलम्ब पूरा करे मोदी सरकार- राजू यादव

किसान आंदोलन पर बर्बर दमन के खिलाफ वामदलों के आह्वान पर आज भाकपा माले ने किया मोदी का पुतला दहन

farmers – तीन किसान विरोधी कानूनों और प्रस्तावित बिजली बिल-2020 को वापस लेने की मांग को लेकर दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन पर बर्बर दमन के खिलाफ आज वामदलों के देशव्यापी विरोध दिवस के आह्वान पर भाकपा-माले द्वारा आरा में मोदी का पुतला दहन व सभा की गई।

farmers आरा बस स्टैंड के पास संबोधित करते हुए भाकपा – माले केंद्रीय कमिटी सदस्य व अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय नेता राजू यादव ने कहा की शांतिपूर्ण तरीके से केंद्र की मोदी सरकार के समक्ष तीन कृषि कानूनों पर अपना लोकतांत्रिक विरोध व्यक्त करने दिल्ली जा रहे किसानों को दमनकारी अमानवीय व असम्मानजनक हमलों का सामना करना पड़ा है, जिसमें सरकार ने उनके रास्ते में बहुत सारी बाधाएं डालीं, पानी की बौछार की, आंसू गैस के गोले दागे, लाठीचार्ज किया और हाईवे तक खोद दिये। मोदी सरकार की यह कार्यवाही बेहद शर्मनाक और कायराना है जो अन्नदाता किसानों (farmers) से बात तक करने में डर रही है।

उन्होंने कहा कि, तीन काले कानून और बिजली बिल 2020 वापस लेने की मांग पर अपनी प्रतिक्रिया देने की जगह सरकार और भाजपा किसानों (farmers) को बदनाम कर रही है और मुद्दा बना रही है कि किसानों के पीछे किसका षडयंत्र है। आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 रद्द करने के कारण खाद्य पदार्थों के दाम आसमान छू रहे हैं, आलू 70 रुपये प्रति किलो, तेल 170 रुपये प्रति किलो हो गया है अन्य खाद्य पदार्थों के दाम भी लगातर बढ़ते जा रहे हैं। लेकिन देश की जनता और किसान अपनी एकता मजबूत करते हुए इसको सफल नहीं होने देंगे। अंत मे उन्होंने कहा कि किसान विरोधी कानून वापस ले और आंदोलनरत किसानों की मांगों को अविलम्ब पूरा करे केंद्र की मोदी सरकार।

सभा को सम्बोधित करते हुए भाकपा – माले राज्य कमिटी सदस्य व इंसाफ मंच के राज्य सचिव क्यामुद्दीन अंसारी ने कहा कि पूरे देश के किसान (farmers) एकताबद्ध हैं और सभी एक सुर में केन्द्र सरकार से तीन किसान विरोधी, जनविरोधी कानूनों, जो कारपोरेट के हित की सेवा करते हैं और जिन्हें बिना चर्चा किए पारित किया गया तथा बिजली बिल 2020 की वापसी की मांग कर रहे हैं। किसान (farmers) शांतिपूर्वक व संकल्पबद्ध रूप से दिल्ली पहुँचे हैं और अपनी मांग हासिल करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। और जब तक किसान विरोधी काले कानूनों की वापसी नहीं होगी तब तक यह आंदोलन रुकने वाला नहीं है।”

आरा के पुतला दहन कार्यक्रम में भाकपा माले केंद्रीय कमिटी सदस्य व किसान नेता राजू यादव, इंसाफ मंच राज्यसचिव क्यामुद्दीन अंसारी, भाकपा माले जिला नगर सचिव दिलराज प्रीतम, जनकवि निर्मोही जी, जिला कमिटी सदस्य गांधी जी, आइसा जिलासचिव रंजन कुमार, इंनौस जिला संयोजक शिवप्रकाश रंजन, आइसा सह सचिव सुशील यादव, रौशन, अमन, हरीश, सनोज, राजेश, हरिनारायण, राजेश, सन्नी, रमेश, आदि मौजूद रहे।

भोजपुर जिला की विभिन्न प्रखंडों में देशव्यापी विरोध दिवस के तहत प्रधानमंत्री का पुतला दहन किया गया।

Khabreapki.com देखें- खबरें आपकी – फेसबुक पेज – वीडियो न्यूज – अन्य खबरें

Arrah Bhojpur – एसपी हर किशोर राय ने छह थानों में की नये थानाध्यक्षों की पोस्टिंग

Bhojpur SP – एसपी बोले: पेट्रोलिंग में किसी तरह की कोताही नहीं चलेगी

वीडियो वायरल होने के बाद एक्शन में आयी पुलिस, अन्य की गिरफ्तारी को छापेमारी

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular