Saturday, February 27, 2021
No menu items!
Home News बिहार युवा जदयू के राष्ट्रीय सचिव सहित तीन पर सरकारी काम में बाधा...

युवा जदयू के राष्ट्रीय सचिव सहित तीन पर सरकारी काम में बाधा डालने का केस, एक गिरफ्तार

JDU leader FIR – पुलिस का आरोप: छापेमारी के दौरान उलझे जदयू नेता, आरोपित को भगाया

खबरे आपकी JDU leader FIR आरा : युवा जदयू के राष्ट्रीय महासचिव की पुलिस द्वारा कथित तौर पर पिटाई के मामले में नया मोड़ आ गया है। इस मामले में युवा जदयू नेता प्रिंस सिंह बजरंगी सहित तीन लोगों के खिलाफ पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज करा दी है। दारोगा राम वीरेंद्र ठाकुर के बयान पर दर्ज प्राथमिकी में जदयू नेता प्रिंस बजरंगी उर्फ सर्वेश कुमार के साथ विपुल सिंह और रोहित सिंह को भी आरोपित किया गया है। तीनों पर पुलिस के साथ नोकझोंक करने और सरकारी काम में बाधा डालने का आरोप लगाया गया है।

रोहित सिंह और जदयू नेता पर पूर्व के एक मामले के आरोपित विपुल सिंह को भगाने का भी आरोप लगा है। पुलिस ने इस मामले में रोहित सिंह को गिरफ्तार भी कर लिया है। वह कृष्णागढ़ थाना क्षेत्र के मौजमपुर गांव का रहने वाला है। विपुल सिंह भी उसी गांव का रहने वाला है।

पुलिस के साथ उलझने और पूर्व के एक आरोपित को भगाने का भी लगा आरोप

निबंधन ऑफिस के कुछ कर्मचारियों की मिलीभगत से डीड के कागजात में हेराफेरी और जाली हस्ताक्षर

पुलिस के अनुसार विपुल सिंह पूर्व के मामले में आरोपित है। शनिवार को पुलिस को सूचना मिली कि वह गाड़ी से जा रहा है। इस आधार पर पुलिस ने उसकी गाड़ी रोकी थी। इस दौरान जदयू नेता सहित तीन लोग गाड़ी से उतरे और पुलिस से उलझ गये। इसी बीच विपुल सिंह फरार हो गया। इसके बाद जदयू नेता भी गाड़ी लेकर भाग निकले। पुलिस अब दोनों फरार आरोपितों की तलाश कर रही है।

युवा जदयू नेता ने पुलिस पर लगाया था मारपीट करने का आरोप

JDU leader FIR बता दें कि युवा जदयू नेता प्रिंस सिंह बजरंगी ने डीआईयू टीम पर गाड़ी रोक कर मारपीट करने का आरोप लगाया था। उस घटना में जदयू नेता का एक हाथ फ्रैक्चर हो गया था। तब जदयू नेता प्रिंस सिंह बजरंगी ने पुलिस के खिलाफ आवाज उठाने पर परेशान करने और मारपीट करने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि वरीय अफसर के निर्देश पर पहले एक झूठे केस में फंसाया गया। अब रास्ते में गाड़ी रोक कर मारपीट की गयी। हालांकि एसपी हर किशोर राय ने इससे साफ इनकार किया था। उन्होंने कहा था कि अपने साथी को बचाने के लिये जदयू नेता द्वारा आरोप लगाया जा रहा है।

फुटबॉल मैच का मुख्य आकर्षण कुंडेश्वर गांव के तीन बोरों खिलाड़ी नाइजीरिया देश के-रविवार को है फाइनल

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular