Tuesday, December 6, 2022
No menu items!
Homeअन्यचर्चित खबरगोलीकांड से आक्रोशित माले समर्थकों ने घटनास्थल के समीप किया रोड जाम

गोलीकांड से आक्रोशित माले समर्थकों ने घटनास्थल के समीप किया रोड जाम

Male leader shot- भोजपुर में हथियारबंद अपराधियों ने सक्रिय माले नेता को मारी गोली

घटना का कारण स्पष्ट नहीं, मामले की छानबीन में जुटी पुलिस

खबरे आपकी आरा। भोजपुर जिले के इमादपुर थाना क्षेत्र के बिहटा बस स्टैंड मोड़ के समीप मंगलवार की सुबह हथियारबंद अपराधियों ने सक्रिय माले नेता को गोली मार दी। उन्हें दाहिने साइड गर्दन में गोली मारी गई है। उन्हें इलाज के लिए परिजनों द्वारा तरारी पीएचसी से आरा शहर के बाबू बाजार स्थित निजी अस्पताल में लाया गया। जहां उनका इलाज कराया जा रहा है। जानकारी के अनुसार जख्मी स्व. डबेदार पासवान के 48 वर्षीय पुत्र ददन पासवान है। वह माले पार्टी के प्रखंड स्तरीय सक्रिय नेता है तथा बालू कारोबार भी करते है।

दूसरी ओर घटना के बाद आक्रोशित माले समर्थकों ने बिहटा बस स्टैंड मोड घटनास्थल के समीप रोड जाम कर दिया है। जाम के कारण सड़क के दोनो ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गई है एवं आवागमन पूरी तरह ठप्प हो गया है। सूचना मिलते ही स्थानीय थाना घटनास्थल पर पहुंच लोगों को समझाने बुझाने में जुट गई है।

Male leader shot इमादपुर थाना क्षेत्र के बस स्टैंड मोड़ के समीप मंगलवार की सुबह घटी घटना

इधर, जख्मी माले नेता ददन पासवान के चाचा छोटे पासवान ने बताया कि आज सुबह वह जब उसने साथ बिहटा बाजार पर चाय पीने के बाद दुकान पर पान खाकर लौट रहे थे। तभी दो बाइक पर सवार छह की संख्या में रहे हथियारबंद अपराधी वहां आ धमके और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें फायरिंग के दौरान उन्हें गोली लग गई। जिससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गए। जख्मी माले नेता के चाचा छोटे पासवान ने हथियार बंद अपराधियों द्वारा करीब 20 राउंड फायरिंग करने की बात कही जा रही है। हालांकि माले नेता को गोली किसने और क्यों मारी? इसका कारण पूरी तरह स्पष्ट नहीं हो पाया है। पुलिस अपने स्तर से मामले की छानबीन कर रही है।

जख्मी नेता का शहर के बाबू बाजार स्थित निजी अस्पताल में कराया जा रहा है इलाज

Male leader shot-जख्मी का इलाज कर रहे चिकित्सक डॉ.विकास सिंह ने बताया कि उन्हें गोली दाहिने साइड गर्दन में लगी थी, जो बाये साइड जबड़े से होते हुए निकल गई थी। गोली लगने के कारण काफी ब्लीडिंग हो गया था और मुंह के अंदर खून का थक्का जम गया था। जिसके कारण उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। मुंह में जमे खून के थक्के को रिलीज कर दिया गया। अभी मरीज की स्थिति स्टेबल है। बावजूद इसके अभी उसे 48 घंटे तक ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा। बता दे कि 2 वर्ष पूर्व जख्मी नेता के चाचा झरी पासवान की भी तरारी ब्लॉक के समीप गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

पढ़ें: भोजपुर में आठ साल के दौरान मारे गये चार मुखिया, तीन बने गोलियों के शिकार

- Advertisment -
Khabre Apki
Khabre Apki
Khabre Apki
Khabre Apki

Most Popular