Saturday, May 15, 2021
No menu items!
HomeNewsमुखिया से उधार में हथियार लेकर की गयी थी दीपू चौधरी की...

मुखिया से उधार में हथियार लेकर की गयी थी दीपू चौधरी की हत्या

Prakash murdered Deepu Chaudhary – पुलिस ने पूछताछ के बाद प्रकाश चौधरी और उसके दोस्त को भेजा जेल

कुख्यात पवन चौधरी सहित अन्य आरोपित अभी फरार, छापेमारी में जुटी पुलिस

खबरे आपकी बिहार/आरा: Prakash murdered Deepu Chaudhary आरा शहर के बिच पकड़ी में चर्चित दीपू चौधरी हत्याकांड का पुलिस ने पूरी तरह खुलासा कर दिया। दीपू चौधरी को उसी के गांव के प्रकाश चौधरी ने पिता की हत्या का बदला लेने के लिये दीपू चौधरी को टपका दिया था। इसके लिये उसने एक मुखिया से हथियार उधार में लिया था। हालांकि हत्या करने के बाद उसने हथियार मुखिया को वापस कर दिया। हत्या में वांटेड प्रकाश चौधरी और उसके साथी अजितेश कुमार उर्फ गोलू की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने यह खुलासा किया। दोनों ने पूछताछ के दौरान पुलिस के समक्ष इस बात को स्वीकार भी कर लिया है। पूछताछ के बाद दोनों को जेल भेज दिया गया।

गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में प्रकाश चौधरी ने पुलिस को दी जानकारी

पिता की हत्या का बदला लेने के लिये प्रकाश ने दीपू चौधरी को टपकाया

प्रकाश चौधरी उदवंतनगर थाना क्षेत्र के बेलाउर गांव और अजितेश कुमार उर्फ गोलू सहार थाना के एकवारी गांव का रहने वाला है। दोनों को एसटीएफ ने शनिवार को पटना के कंकड़बाग इलाके से गिरफ्तार किया था। आरा लाकर दोनों से कड़ी पूछताछ की गयी। पुलिस के अनुसार दीपू चौधरी हत्या कांड में दोनों शामिल थे। प्रकाश चौधरी ने पूछताछ में बताया कि उसके पिता की हत्या में दीपू चौधरी शामिल था। उसका बदला लेने के लिये ही उसने दीपू चौधरी को ठोक दिया। उसने बताया कि हत्या के लिये एक मुखिया से हथियार मांग कर लाया था। बाद में उसे लौटा दिया गया। अब पुलिस हथियार देने वाले मुखिया की तलाश कर रही है।

पढ़े :- सीरियल किलर के नाम से चर्चित है पवन,दर्ज है दो दर्जन अपराधिक मामले 

आरा शहर में दिनदहाडे़ गोलियों से भून दिया गया था दीपू चौधरी

Prakash murdered Deepu Chaudhary 24 मार्च की दोपहर शहर के पकड़ी-सर्किट हाउस रोड में अपराधियों ने जेल में बंद कुख्यात बूटन चौधरी के भतीजे दीपू चौधरी को दौड़ा कर गोली मार हत्या कर दी थी। इस दौरान अंधाधुंध  फायरिंग में दीपू चौधरी का साथी अजय चौधरी जख्मी हो गया था। हालांकि दीपू के पिता और सहित दो लोग बाल-बाल बच गए थे। इस मामले में दीपू चौधरी के पिता के बयान पर जेल में बंद कुख्यात रंजीत चौधरी, उसके  भतीजा और शार्प शूटर पवन चौधरी समेत छह लोगों को नामजद आरोपित बनाया गया था। इस मामले में पुलिस ने लाइनर का काम करने वाले दो अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। हालांकि कुख्यात पवन चौधरी सहित अन्य आरोपित अभी फरार चल रहे हैं।  

Prakash murdered Deepu Chaudhary
Prakash murdered Deepu Chaudhary

पढ़े :- हत्या में शामिल अन्य चार अपराधियों की गिरफ्तारी को ले चल रही छापेमारी

पंचायत चुनाव प्रचार करने के दौरान गोली मार की गयी थी प्रकाश के पिता की हत्या

आरा। बेलाउर गांव निवासी प्रकाश चौधरी जेल में बंद कुख्यात रंजीत चौधरी का भतीजा है। रंजीत चौधरी और जेल में बंद उसके गांव के बूटन चौधरी के बीच काफी सालों से वर्चस्व की जंग चल रही है। इसमें दोनों गुटों के कई लोगों की जानें जा चुकी है। पिछले पंचायत चुनाव के समय उसके पिता हेमंत चौधरी की हत्या कर दी गयी थी। जानकारी के अनुसार दौरान भी हत्या की घटना हुई थी। 3 मई 2016 को रंजीत चौधरी के भाई हेमंत चौधरी को चुनाव प्रचार के दौरान ही गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गयी थी। तब हेमंत चौधरी  मुखिया पद की उम्मीदवार अपने भाई की पत्नी के प्रचार के सिलसिले में निकले थे। तभी गांव में ही हथियारबंद लोगों ने गोलियों से भूनकर मौत की नींद सुला दिया था। हत्या का आरोप जेल में बंद बुटन चौधरी और उनके समर्थकों पर आरोप लगा था।

पढ़े :- Dipu Chaudhary murder case – एक्शन में पुलिस, एक चर्चित शख्स को उठाया
घटना में शामिल अपराधियों की धरपकड़ को छापेमारी तेज

पढ़े :- बूटन व रंजीत की रंजिश में गिर चुकी हैं दर्जन भर लाशें

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular