Saturday, October 16, 2021
No menu items!
HomeNewsआरा सदर अस्पताल का सरकारी एक्स-रे मशीन चोरी

आरा सदर अस्पताल का सरकारी एक्स-रे मशीन चोरी

X-ray machineचोरो ने खिडकी का ग्रील काटकर चोरी की एक्स-रे मशीन

खबरे आपकी आरा। आरा सदर अस्पताल चोरों एवं असामाजिक तत्वों का गढ़ बना हुआ है। चोरों ने पूर्व अधीक्षक कार्यालय के बगल स्थित रूम से एक्सरे मशीन चुरा लिया। चोरों ने खिड़की का ग्रिल काटकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया। हालांकि इसकी जानकारी वहां मौजूद सुरक्षा गार्ड को नहीं मिली। बाद में टेक्नीशियन द्वारा इस संबंध में लिखित सूचना सीएस को दिया है। इस मामले में एफआईआर दर्ज हुआ है कि नहीं इसका पता नहीं चल पाया।

जानकारी के मुताबिक आरा सदर अस्पताल के पूर्व अधीक्षक कार्यालय के समीप एक रूम में सरकारी एक्सरे मशीन का संचालन होता था। हालांकि एक्सरे मशीन का रुम विगत कुछ वर्षों से बंद पडा था। हाल में सदर अस्पताल में मॉडल अस्पताल के निर्माण हेतु पुराने भवन को तोड़ा जा रहा था। इसी बीच चोरों ने एक्सरे रूम के पीछे की खिड़की खुद तोड़ X-ray machine चुरा लिया। हालांकि इसकी जानकारी किसी को नही लगी।

पढ़ें- बैंक डकैती और जेवर व्यवसायी से दस लाख के जेवर लूट में अपराधियों तक नहीं पहुंच सकी पुलिस

X-ray machine stolen from Ara Sadar Hospital
आरा सदर अस्पताल का सरकारी एक्स-रे मशीन चोरी

बाद में टेकनिशियन ने इस संबंध में एक लिखित सूचना सिविल सर्जन सह सदर अस्पताल के प्रभारी अधीक्षक डॉ. ललितेश्वर प्रसाद झा को दिया। लेकिन अभी तक इस मामले में एफआईआर दर्ज नहीं हुआ है। इस मामले में सीएस से बात करने की कोशिश की गई तो उनका मोबाइल स्वीच आफ मिला। नगर के प्रभारी थानाध्यक्ष ने बताया कि इस मामले में कोई लिखित आवेदन उनके पास नहीं आया है। नही ही उन्हें चोरी की जानकारी है।

सदर अस्पताल के डॉक्टर चैंबर से गायब हुआ था इंज्यूरी रजिस्टर

CCTV में घटना कैद होने के बाद भी नही हुआ खुलासा

आरा। इसी वर्ष फरवरी माह में सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के डॉक्टर चैंबर से एक अज्ञात युवक इंज्यूरी रजिस्टर चुरा कर भाग निकला। इंज्यूरी रजिस्टर चोरी होने के घंटो बाद स्वास्थ्य कर्मियों को इसकी जानकारी मिली। इंज्यूरी रजिस्टर गायब होने से पूरे स्वास्थ्य कर्मियों में हड़कंप मच गया। इस घटना की पूरी तस्वीर सीसीटीवी में कैद हो चुकी है. इंज्यूरी रजिस्टर का मतलब जख्म प्रतिवेदन रजिस्टर होता है, जिसमें सदर अस्पताल में आने वाले सारे मामले पुलिस केस से संबंधित सभी घायलों का डिटेल्स, जख्म उसी इंज्यूरी रजिस्टर में एंट्री रहता है, जिसके आधार पर चिकित्सक पुलिस को जख्म प्रतिवेदन देती है। इसके बाद संबंधित केस का आईओ कोर्ट में इस जख्म प्रतिवेदन को समर्पित करता है। इस लापरवाही के बाद अस्पताल प्रशासन एवं सुरक्षाकर्मियों पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

पढ़ें- एक ऐसा थाना जहाँ अपनी कुर्सी पर नही बैठते थानेदार

सदर अस्पताल में पहले भी हो चुकी है चोरी

आरा सदर अस्पताल परिसर में X-ray machine चोरी की यह घटना कोई पहली बार नहीं हुई है, इससे पहले भी इमरजेंसी ओटी से बीपी मशीन, ऑक्सीजन टंकी सहित कई चीजें चोरी हुई हैं, बावजूद इसके अस्पताल प्रशासन लगातार लापरवाही बरतने से बाज नहीं आ रहा है। सदर अस्पताल परिसर में लगे सौर लाइट का बैटरी भी पहले चोरी किया जा चुका है।

पढ़ें- अस्पताल आते-आते वीभत्स कैसे हो गया शव? एसपी के आदेश पर पुलिस तफ्तीश शुरू

2017 में ओपीडी परिसर में चालक की हुई थी हत्या

आरा। 20 नवंबर 2017 की सुबह आरा सदर अस्पताल के ओपीडी के सीढ़ियों के नीचे एक लाश मिला था। उसके बारे में पुलिस ने काफी छानबीन की थी। जब सीसीटीवी सदर अस्पताल का चेक करने के लिए पुलिस पहुंची तो पता चला कि यहां सीसीटीवी कैमरा नहीं है। जो कैमरा मेनगेट पर लगाया गया था, वह भी खराब है। इसके बाद पुलिस ने भी अस्पताल प्रबंधन को काफी खरी-खोटी सुनाई थी। उस समय अस्पताल के दूसरे छोर का सीसीटीवी फुटेज चेक किया था। कोई फायदा नहीं मिल सका। बाद में टेक्नीशियन बुलाकर सीसीटीवी कैमरा ठीक कराने की बात कही गई थी।

- Advertisment -
ad
ad
ad
ad
ad (2)
AD
ad
ad (2)
Ad

Most Popular